comscore Made in India Apps: WhatsApp, Twitter, Google Maps के ये हैं 'देसी' विकल्प
News

Made in India Apps: WhatsApp, Twitter, Google Maps के ये हैं 'देसी' विकल्प

Whatsapp, Twitter, Google, Clubhouse Made in India alternative apps: WhatsApp से लेकर Twitter तक कई लोकप्रिय ऐप्स का हम रोज इस्तेमाल करते हैं। इन विदेशी ऐप्स का सर्वर भारत में नहीं है। सरकार इन दिनों आत्मनिर्भर भारत के तहत Make in India पर जोर दे रही है ताकि देश के लोगों की निजी जानकारी देश में ही रहे और सुरक्षित रहे। इन लोकप्रिय ऐप्स के विकल्प के तौर पर कई देसी ऐप्स भी मौजूद हैं। आइए, जानते हैं इन ऐप्स के बारे में।

Make in India


पिछले साल भारत में कई चीनी ऐप्स बैन किए गए हैं जिनमें TikTok, Cam Scanner, PUBG जैसे लोकप्रिय ऐप्स शामिल हैं। भारतीयों की डेटा प्राइवेसी और देश की संप्रभुता को ध्यान में रखते हुए सरकार ने इन ऐप्स पर पाबंदी लगाई है। चीनी ऐप्स के बैन होने के बाद कई देसी ऐप्स लोकप्रिय हुए हैं जिनमें Roposo (शॉर्ट वीडियो प्लेटफॉर्म), कागज स्कैनर, FAUG शामिल हैं। Also Read - Whatsapp iOS यूजर्स को मिला नया फीचर, अब चैट में दिखनी शुरू हुईं ग्रुप मेंबर्स की प्रोफाइल फोटो

इन बैन हुए ऐप्स के अलावा भी मौजूदा लोकप्रिय ऐप्स- WhatsApp, Twitter, Google Maps जैसे ऐप्स के कई देसी विकल्प सामने आए हैं। इस रिपोर्ट में हम आपको इन लोकप्रिय ऐप्स के ‘Made in India’ विकल्प के बारे में बताने जा रहे हैं। Also Read - Twitter में आया लाइव Tweeting का नया फीचर, कैरेक्टर लिमिट में हो सकता है बड़ा बदलाव

WhatsApp का विकल्प- Sandes और Samvad

पिछले महीने WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी की वजह से दुनियाभर में काफी हो-हल्ला हुआ था। भारत में भी लोग व्हाट्सऐप के विकल्प तलाशने लगे और Telegram और Signal जैसे ऐप्स पर शिफ्ट हो गए। भारत सरकार ने पिछले दिनों Sandes इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप के बीटा वर्जन को रिलीज किया है। यह ऐप Apple App Store पर डाउनलोड करने के लिए उपलब्ध है। वहीं, Android यूजर के लिए APK लिंक भी जारी किया गया है जिसे यूजर GIMS की वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं। Also Read - Whatsapp में आ रहे ढेरों नए इमोजी, चैटिंग होगी मजेदार

Samvad app

इस ऐप के अलावा Samvad ऐप भी चर्चा में है। पिछले दिनों सामने आई रिपोर्ट के मुताबिक, इस ऐप को पहले सरकारी कर्मचारियों के लिए लॉन्च किया गया था। अब सरकार इसे आम यूजर्स के लिए भी लॉन्च कर सकती है। हालांकि, फिलहाल इस ऐप के बारे में कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है।

ये दोनों ऐप्स WhatsApp के विकल्प हो सकते हैं। इनमें यूजर डेटा की सुरक्षा के लिए फाइल्स को फोन में ही स्टोर करने का प्रावधान है। यही नहीं, इसे आप ऑडियो-वीडियो कॉलिंग और मीडिया फाइल ट्रांसफर करने जैसी सुविधाओं के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। फिलहाल Sandes टेस्टिंग फेज में है। सरकार इसके लिए लोगों से फीडबैक ले रही है। अगर, सरकार इस ऐप का स्टेबल वर्जन रोल आउट करेगी तो यह WhatsApp का देसी विकल्प बन सकता है।

Google Drive का विकल्प Digiboxx

digiboxx platform

नीति आयोग ने पिछले साल इस देसी ऐप को लॉन्च किया था। इसमें यूजर्स अपनी निजी फाइल को क्लाउड में स्टोर कर सकते हैं। Digiboxx भी Google Drive या Microsoft one drive की तरह ही क्लाउड सर्विस मुहैया कराता है। इसमें यूजर को 20GB तक डेटा फ्री में रखने की अनुमति मिलती है। इससे ज्यादा डेटा होने पर इसके लिए सरकार ने मासिक और सालाना सब्सक्रिप्शन प्लान भी जारी किया है। इस ऐप के साथ-साथ Insta Share फैसिलिटी भी मिलती है जिसके जरिए यूजर बिना लॉग-इन किए अपनी फाइल को एक डिवाइस से दूसरे डिवाइस में भेज सकते हैं।

Clubhouse का विकल्प Leher

Leher App

पिछले दिनों Clubhouse ऐप काफी चर्चा में रहा है।  Facebook के को-फाउंडर मार्क जकरबर्ग और Tesla के CEO के Clubhouse ऐप के ज्वाइन करते ही यह चर्चा में आ गया। इस ऐप के जरिए लाइव ऑडियो-वीडियो कन्वर्सेशन किया जा सकता है। यह ऐप केवल iOS को ही सपोर्ट करता है। यही नहीं, इस ऐप को यूजर केवल इन्वाइट के जरिए ही इस्तेमाल कर सकते हैं। इस ऐप के विकल्प के तौर पर यूजर Leher ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं। यह ऐप Android और iOS दोनों ऐप स्टोर पर उपलब्ध है। ऐप को Google Play Store पर 5 में से 4.3 की स्टार रेटिंग मिली है।

Google Map- Map my India

Google Map का इस्तेमाल लगभग सभी स्मार्टफोन यूजर करते ही होंगे। हर Android स्मार्टफोन में यह ऐप डिफॉल्ड नेविगेशन ऐप के तौर पर इंस्टॉल होता है। देसी कंपनी Map my India ऐप को आप Google Map के विकल्प के तौर पर इस्तेमाल कर सकते हैं। इसमें देश के सभी राज्यों और जिले का मैप मिलता है जो नेविगेशन के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।

Twitter- Tooter and Koo

koo app

इस महीने की शुरुआत में Twitter के खिलाफ ट्रेंड सामने आया था। इसी बीच Koo ऐप चर्चा में आया था। यह ऐप भारत में डेवलप किया गया Made in India ऐप है जिस पर केन्द्र सरकार के कई मंत्री भी हैं। इस ऐप के डाउनलोड्स की संख्या में काफी इजाफा देखा गया है। इस ऐप में आपको हिन्दी और अंग्रेजी के अलावा कई भारतीय भाषा का विकल्प मिलता है। Koo के अलावा Tooter ऐप भी पिछले साल चर्चा में आया था। यह एक ओपन सोर्स ऐप है जिसके कई फीचर्स Twitter से मिलते हैं।

  • Published Date: February 21, 2021 11:51 AM IST

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.