comscore मेड इन इंडिया ऐप VideoMeet में आया Google meet और Zoom जैसा फीचर
News

मेड इन इंडिया ऐप VideoMeet में आया Google meet और Zoom जैसा फीचर, जानें कैसे करेगा काम

मेड इन इंडिया वीडियो मीटिंग ऐप वीडियो मीट ने अपने यूजर्स के लिए ब्रेकआउट रूम्स फीचर को पेश किया है। ब्रेकआउट रूम्स फीचर ज़ूम और गूगल मीट प्लेटफॉर्म्स पर पहले से उपलब्ध है। आइए हम आपको वीडियो मीट ऐप और इसके नए फीचर के बारे में बताते हैं।

VideoMeet

Image: Video Meet


मेड इन इंडिया वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग प्लेटफॉर्म VideoMeet ने ब्रेकआउट रूम्स फीचर लॉन्च करने की घोषणा की है, ताकि होस्ट वीडियो मीटिंग को कई छोटे सेशन-कम-रूम में डिवाइड कर सके। मीटिंग होस्ट मीटिंग के पार्टिसिपेंट्स को अलग-अलग सेशन में ऑटोमैटिकली या मैन्युअल रूप से डिवाइड कर सकता है। Also Read - Google Meet के लिए आया धांसू फीचर, अब अपनी भाषा में दिखेगा लाइव कैप्शन

इसके अलावा वे पार्टिसिपेंट्स को ब्रेकआउट सेशन को सिलेक्ट करने और एंटर करने की अनुमति दे सकते हैं। होस्ट किसी भी समय सेशन्स के बीच स्विच कर सकता है, लेकिन होस्ट सभी रूम्स से एक साथ एक जैसा ऑडियो सुनने में कैपेबल नहीं होगा। Also Read - Google Meet पर रिकॉर्ड करनी है वीडियो कॉल तो अपनाएं यह तरीका, आसानी से कर पाएंगे रिकॉर्डिंग

VideoMeet में आया ब्रेकआउट रूम फीचर

VideoMeet का ब्रेकआउट रूम फीचर किसी भी छोटे या बड़े मीटिंग में ‘ब्रेनस्टॉर्मिंग सेशन’ के लिए सबसे अच्छा है। आपको बता दें कि ब्रेकआउट रूम फीचर पहले से ही पॉपुलर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग प्लेटफॉर्म जैसे Zoom और Google Meet पर उपलब्ध है। Also Read - Zoom के इस फीचर को अब फ्री में यूज कर पाएंगे सभी यूजर्स, अब मीटिंग से नहीं लगेगा डर

ब्रेकआउट रूम सुविधा दो मोड में उपलब्ध है – मैनुअल और ऑटोमैटिक। पहले में, लोगों को कमरों में असाइन करना मैन्युअल रूप से होता है, जबकि दूसरा मोड ऑटोमैटिकली काम करता है। सबसे खास बात है कि यह बिना किसी लिमिटेशन या रिस्ट्रैक्शन के सभी योजनाओं में उपलब्ध है।

विंडोज पीसी, एंड्रॉइड और आईओएस में करें इस्तेमाल

इस ऐप के बारे में बात करते हुए वीडियोमीट के संस्थापक डॉ अजय डेटा ने कहा कि ब्रेकआउट रूम कॉर्पोरेट ट्रेनिंग, कोचिंग, सलाह, ट्यूशन और यहां तक ​​कि ऑनलाइन स्कूल कक्षाओं में काम करने वाले संस्थानों के लिए परफेक्ट है। यह ऐप टीम कंप्टीशन के लिए भी काफी अच्छा है। इस ऐप का इस्तेमाल विंडोज पीसी, एंड्रॉइड और आईओएस फोन तीनों डिवाइस में कर सकते हैं।

नवंबर 2020 में, VideoMeet ने ‘प्लेबैक’ मोड शुरू किया, ताकि होस्ट पहले से रिकॉर्ड की गई वीडियो मीटिंग शेड्यूल कर सकें। इसी तरह, पर्टिसिपेंट्स के पास किसी भी समय रिकॉर्ड किए गए सेशन को देखने का विकल्प होता है, बशर्ते कि एडमिन द्वारा उनके साथ मीटिंग शेयर की गई हो। कंपनी ने कहा था कि प्लेबैक सुविधा मुफ्त में उपलब्ध है, और इसमें सभी ‘आवश्यक सुरक्षा पहलू’ (necessary security aspects) शामिल हैं।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: July 7, 2021 6:49 PM IST



new arrivals in india

Best Sellers