comscore Taka tak टिकटॉक की जगह लेने आया, क्या मिलेगी कामयाबी? | BGR India Hindi
News

टिकटॉक की जगह लेने आया Taka Tak, क्या मिलेगी कामयाबी?

भारत सरकार द्वारा टिकटॉक को बैन करने के बाद से तमाम कंपनियां विभिन्न एप्स लेकर आ रही है, जो टिकटॉक का विकल्प बन सके और उन यूजर्स को आकर्षित कर सके, जो टिकटॉक पर थे। इस क्रम में एक और नाम जुड़ गया है। एमएक्स प्लेयर ने भी शॉर्ट वीडियो स्पेस में एंट्री कर दी है।

taka-tak

भारत सरकार द्वारा टिकटॉक को बैन करने के बाद से तमाम कंपनियां विभिन्न एप्स लेकर आ रही है, जो टिकटॉक का विकल्प बन सके और उन यूजर्स को आकर्षित कर सके, जो टिकटॉक पर थे। इस क्रम में एक और नाम जुड़ गया है। एमएक्स प्लेयर ने भी शॉर्ट वीडियो स्पेस में एंट्री कर दी है। भारतीय बाजार में कंपनी ने अपना नया एप Taka Tak लॉन्च किया है। यह एप गूगल प्ले स्टोर पर एंड्रॉयड यूजर्स के लिए उपलब्ध है। उम्मीद है कि अगले कुछ दिनों में ही ये एप एप्पल एप स्टोर पर भी उपलब्ध होगा। Also Read - Instagram Reels की हुई भारत में एंट्री, टिकटॉक यूजर्स को मिलेगा सहारा!

Taka Tak की हुई एंट्री

बता दें कि इस महीने की शुरुआत में चीन के साथ सीमा पर चल रहे विवाद के वक्त भारत सरकार ने 59 चीनी एप्स बंद कर दिए। इन एप्स पर डेटा चोरी का आरोप है। टिकटॉक के बैन के बाद से ही कई एप्स इस कैटेगरी में प्रवेश कर चुके हैं। Taka Tak एम एक्स प्लेयर की ओर से पेश किया नया एप है। यह एप फिलहाल 1.0.1 वर्जन पर चल रहा है और दावा किया जा रहा है कि इसे छोटे से टाइम स्पैन में 50 हजार से ज्यादा डाउनलोड मिल गए हैं। Also Read - टिकटॉक के बंद होने से इन देसी एप्स को हुआ फायदा, रातों रात बढ़े यूजर्स

Taka Tak को 4.3 रेटिंग प्ले स्टोर पर मिली है और लोग इसके फीचर्स की बात कर रहे हैं। इस एप का इंटरफेस बहुत हद तक टिकटॉक जैसा ही है। जिसकी मदद से उन यूजर्स को टिकटॉक जैसा ही अनुभव मिलेगा, जो टिकटॉक का इस्तेमाल करते थे। हालांकि बाइट डांस के एप को यूजर्स उसके यूजर फ्रेडली इंटरफेस और बिजनेस एवेन्यू के कारण पसंद करते थे। Also Read - TikTok के सीईओ ने बैन किए जाने के बाद टिकटॉक इंडिया के कर्मचारियों के लिए शेयर किया मैसेज

केंद्र सरकार ने चीन के साथ तनाव के चलते अलग अलग तरह की 59 मोबाइल ऐप्स को देश की संप्रभुता, अखंडता और राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए पूर्वाग्रह रखने वाला बताते हुए उन पर प्रतिबंध लगा दिया। इन ऐप्स में चाइनीज ऐप्स TikTok, ShareIT और We Chat जैसे ऐप भी शामिल हैं।

आईटी मंत्रालय की ओर से जारी एक आधिकारिक बयान में कहा कि उसे विभिन्न स्रोतों से कई शिकायतें मिली हैं, जिनमें एंड्रॉइड और आईओएस प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध कुछ मोबाइल ऐप के दुरुपयोग के बारे में कई रिपोर्ट शामिल हैं। इन रिपोर्ट में कहा गया है कि ये एप ‘‘उपयोगकर्ताओं के डेटा को चुराकर, उन्हें भारत के बाहर स्थित सर्वर को अनधिकृत तरीके से भेजते हैं।’’

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें।

  • Published Date: July 9, 2020 5:51 PM IST



new arrivals in india

Best Sellers