comscore Odisha Police ने गूगल की लिखी चिट्ठी, कहा इन 45 Fake Loan Apps को तुरंत करें बंद
News

Odisha Police ने गूगल की लिखी चिट्ठी, कहा इन 45 Fake Loan Apps को तुरंत करें बंद

Google Play Store पर बहुत सारे Fake Loan Apps मौजूद हैं। इन ऐप्स के जरिए आम लोगों से काफी ज्यादा धोखाधड़ी की जा रही है। ऐसे में उड़ीसा पुलिस के इकोनॉमिक ऑफेंस विंग ने गूगल इंक को तुरंत इन ऐप्स को गूगल प्ले स्टोर से हटाने को कहा है। आइए हम आपको इन ऐप्स के नाम बताते हैं।

Fake Loan apps

Image: dnaindia


Odisha Police के इकोनॉमिक ऑफेंस विंग यानी EOW ने गूगल को कहा है कि वो जल्द से जल्द अपने 45 Fake Loan Apps को गूगल प्ले स्टोर से रिमूव करें। इकोनॉमिक ऑफेंस विंग ने कैलिफॉर्निया स्थित Google Inc के लीगल इंवेस्टीगेशन्स सपोर्ट टीम को एक लेटर लिखा है। Also Read - Google Doodle Today: जानें कौन थीं Anne Frank, जिन्हें आज खास डूडल बनाकर गूगल ने किया सम्मानित

उस लेटर के जरिए पुलिस विभाग ने गूगल को 45 ऐसे Fake Loan Apps के बारे में जानकारी दी गई है, जो लोन देने के बाद गैर कानूनी तरीकों से पैसों की वसूली करते हैं और आम लोगों के साथ धोखाधड़ी करते हैं। Also Read - इस Spyware ने हैक किए Apple और Android स्मार्टफोन, मैसेज और कॉन्टैक्ट हुए चोरी

गूगल को दी गई कुछ फेक ऐप्स की लिस्ट में ये नाम शामिल हैं: Also Read - How to Check FASTag Account Balance: इन तरीकों से देखें आपके FASTag अकाउंट में बाकी हैं कितने पैसे

  • Belon App
  • Go Cash
  • Go Go Loan
  • INS Loan
  • Asan Loan
  • Fast Cash/Cash Fast
  • Flip Cash
  • Rupee Wallet
  • Rupee King
  • Fast Rupee
  • Easy Credit Loan
  • Cash Cola
  • Infinity
  • Sunshine
  • Credit Wallet
  • Money tree
  • Cash Pocket
  • Hello Rupee
  • Small Credit
  • Cash Room
  • Star Loan
  • Yes Rupee
  • Ok Rupee Loan
  • Magic Money Loan

पुलिस ने अपने लेटर में गूगल को बताया है कि इनमें से किसी भी ऐप को रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया से मान्यता प्राप्त नहीं है लेकिन फिर भी ये Google Play Store पर मौजूद हैं। ये ऐप्स लोगों को बहुत ज्यादा इंटरेस्ट रेट पर लोन्स देते हैं और फिर पैसे वापस लेने के बहाने कई तरीकों से ब्लैकमेल करते हैं। यहां तक कि जान से मारने तक की धमकियां भी लोगों को दी जाती है।

ये सभी Fake Loan Apps यूजर्स से उनके कॉन्टैक्ट लिस्ट की पर्मिशन मांग लेते हैं, और फिर उनके दोस्तों या रिस्तेदारों को भी परेशान करते हैं। EOW ने गूगल को बताया कि भारत के कई अलग-अलग राज्यों की पुलिस भी इन फेक ऐप्स वालों की तलाश कर रही है। कई जगहों से ऐसे मामले भी सामने आएं हैं, जहां लोन लेकर फंसने वाले लोगों ने सुसाइड तक कर लिया है।

गूगल के नियमों के खिलाफ कोई भी ऐप किसी भी इंसान को परेशान, ब्लैकमेल या धमकी नहीं दे सकता। गूगल के अनुसार हर ऐप को लोकल कानून और यूजर्स की प्राइवेसी को सम्मान देना चाहिए। अगर ऐसा नहीं हो रहा है तो वो गूगल के नियमों का उल्लंघन है। इंडिया में मौजूद ये सभी फेक ऐप्स Google के सभी गाइडलाइन्स की धज्जियां उड़ा रहे हैं।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: June 11, 2022 2:59 PM IST



new arrivals in india