comscore भीम एप के बाद अब मोदी सरकार लॉन्च करेगी आधार पे | BGR India
News

भीम एप के बाद अब मोदी सरकार लॉन्च करेगी आधार पे

नए पेमेंट सिस्टम का उद्देश्य बिना डेबिट कार्ड, पिन और पासवर्ड के आसानी से भुगतान प्रक्रिया को आसान बनाना है।

aadhaar-screenshot

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया के सपने को साकार करने और कैशलेस अर्थव्यवस्था की दिशा में भारत को स्थानांतरित करने में सरकार द्वारा प्रत्येक व्यक्ति के लिए भुगतान प्रक्रिया का आसान बनाने का कार्य किया जा रहा है। जिसके लिए हाल ही में सरकार ने यूपीआई को लॉन्च किया था जो कि मोबाइल की मदद से आसानी से पैसे भेजने और प्राप्त करने में मदद करता है। वहीं यूएसएसडी आधारित मोबाइल बैंकिंग सर्विस को भी लॉन्च किया गया जो कि स्मार्टफोन और फीचर फोन पर कार्य करती है। इस सर्विस का उपयोग कर आप मोबाइल पर अपना बैंक अकाउंट बैलेंस चेक कर एमएमएडी और मोबाइल नंबर की मदद से पैसे भेज और प्राप्त कर सकते हैं। वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगले हफ्ते सरकार के नए डिजिटल पेमेंट सिस्टम को पेश करेंगे। इसका उद्देश्य बैंक की प्रक्रिया ऐसे लोगों के लिए आसान बनाना है जो पढ़ने या लिखने में सक्षम नहीं हैं।

आधार पे सिस्टम पहली ऐसी बायोमेट्रिक-आधारित भुगतान प्रणाली होगी जिससे आधार-जुड़े खाते धारक अपने अंगूठे का प्रयोग कर बैंकिंग का लेनदेन कर पाएंगे। पीएम मोदी 14 अप्रैल को भीम राव अंबेडकर की जयंती के अवसर पर इस योजना का शुभारंभ करेंगे।

इसे भी देखें: IDFC आधार पे एप लॉन्च, फिंगरप्रिंट स्कैनर से होगी पेमेंट

एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने कहा, “यह डिजिटल भुगतानों को लोकप्रिय बनाने के लिए सरकार की पहल का हिस्सा है” अधिकारी ने कहा कि वित्त मंत्रालय पहले ही सभी सरकारी बैंकों से पहले ही 14 अप्रैल तक इस सिस्टम को अपनाने के लिए कह चुका है। बता दें कि इस महीने की शुरुआत में आईडीएफसी बैंक ने आधार पे नाम से देश का पहला एप लॉन्च कर दिया है, जिसकी मदद से व्यापारी आसानी से कैशलैस पेमेंट प्राप्त कर सकते हैं।

इसे भी देखें: मोटो X 2017 के स्पेक्स हुए लीक; इन फीचर्स से लैस है ये स्मार्टफ़ोन

इस एप के जरिए दुकानदार ग्रहाकों से डिजिटल पेमेंट ले सकते हैं। इतना ही नहीं अगर ग्राहक के पास स्मार्टफोन नहीं है तो भी वह बायोमैट्रिक स्कैन के जरिए पेमेंट कर सकता है।

इसे भी देखें: ये शानदार फीचर्स सैमसंग Galaxy S8 को बनाते हैं एप्पल iphone से अलग

इस एप का उपयोग करने के लिए इंटरनेट कनेक्शन का होना आवश्यक है। जबकि डेबिट और क्रेडिट कार्ड मशीनें टेलिफोन लाइन्स के जरिए भी काम कर लेती थीं। मगर इस एप को काम करने के लिए इंटरनेट कनेक्शन का होना जरूरी होगा। इसी के जरिए यूजर के बायोमीट्रिक डाटा वेरिफाई होगा।

  • Published Date: April 3, 2017 2:00 PM IST