comscore इमरजेंसी की स्थिति में आपके काम आएंगे ये 5 मोबाइल एप | BGR India
News

इमरजेंसी की स्थिति में आपके काम आएंगे ये 5 मोबाइल एप

भारत में बढ़ते क्राइम को देखते हुए इन 5 एप्स को आज ही करें अपने फोन में डाउनलोड।

  • Published: January 31, 2018 5:40 PM IST
mobile-app-market

इंटरनेट एक ओपन सोर्स प्लेटफॉर्म है जहां पर डेवलपर और दूसरे प्रोफेशनल अपने काम और टेलेंट को पेश कर सकते हैं। हालांकि, इंटनेट के कारण आज साइबर क्राइम भी काफी बढ़ गया है। इसके अलावा आज अगर आप किसी आपातकालीन स्थिति में हैं तो कई कंपनियों द्वारा बनाए गए मोबाइल एप मार्किट में उपलब्ध हैं जो समय पड़ने पर आपकी मदद कर सकते हैं। इसी के चलते आज हम आपके सामने कुछ एप्स की लिस्ट लाए हैं जो आपके मुसिबत के समय काफी काम आएंगे।

हम प्रत्येक एप की सुविधा पर एक-एक करके चर्चा करेंगे और आपको यह बताएंगे कि यह एप आपको आपातकाल के समय कैसे मदद कर सकता है।

Himmat App


दिल्ली पुलिस द्वारा महिलाओं की सुरक्षा के लिए लॉन्च किया गया यह एप्लिकेशन गूगल प्ले स्टोर पर बिल्कुल मुफ्त है। इसके लिए यूजर्स को पहले दिल्ली पुलिस की वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन करना होगा। इसके बाद आपको एक ओटीपी मिलेगा जिसे कंफिगर करते वक्त डालना होगा। इस एप में एसओएस अलर्ट दिया गया है। जो कि आपकी लोकेशन की जानकारी और ऑडियो—वीडियो पुलिस कंट्रोल रूम में पहुंचाता है।

Eye on me app


यह एप उन परिवार के सदस्यों और दोस्तों के लिए बना है जो कि घर से दूर अकेले रहते हैं। इस एप में रिस्पॉन्ड न करने पर यह अपने आप दूसरों को नोटिफाइ कर देता है। कई बार ऐसा भी होता है कि कुछ कंपनियां आपको अपने ऐप में किसी भी तरह की आपातकाल की स्थिति में फंसे होने पर एक बटन दबाने की सुविधा प्रदान करती हैं, इसका मतलब है कि जब तक आप इस बटन को नहीं दबाते हैं, तब आपके करीबियों को यह नहीं पता चलता है कि आप कहीं परेशानी में फंसे हैं। हालाँकि इस ऐप में आपको बटन बिना दबाये अपने करीबियों तक अपने इस स्थिति में फंसे होने का पता चलने की आज़ादी मिलती है।

एक उपयोगकर्ता एप को “चेक-इन” के लिए अपना शेड्यूल सेट कर सकता है। इसके अलावा एक उपयोगकर्ता सप्ताह के दिन आदि का समय निर्धारित कर सकता है। उदाहरण के लिए- एप पूछ सकता है कि क्या आप हर घंटे ठीक हैं।

bsafe alarm


bSafe के साथ यूजर्स ऑटोमेटिकली जीपीएस और आपके आसपास क्या हो रहा है (वीडियो + ऑडियो) के बारे में जानकारी भेज सकते हैं। वीडियो, अलार्म एक्टिवेट होने के बाद रिकॉर्ड होती है और अपने आप आपके परिवार के सदस्यों को भेज दी जाती है। सभी जानकारी bsafe’s सर्वर पर सेव हो जाती है और फोन टूटने के बाद भी सेफ रहती है।

ICE(In case of Emergency app)


अगर आप आपातकालीन स्थिति में हैं तो बचाव दल और डॉक्टरों की जानकारी को स्टोर करने का एक आसान तरीका है, ICE कार्ड। निकटतम व्यक्तियों के संपर्कों की एक सूची के अलावा, यह एक उपयोगकर्ता को दवाइयों, पिछले बीमारियों, एलर्जी और अन्य स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के बारे में जानकारी देता है।

इसमें मौजूद स्पेशल अलार्म बटन यूजर्स को इमरजेंसी मैसेज कॉन्टेक्ट लिस्ट में मौजूद सभी लोगों को भेजता है। मोबाइल फोन के जीपीएस का इस्तेमाल कर ऐसा किया जाता है।

Red Panic Button App


इसमें यूजर्स को एक पैनिक नंबर सेट करने की आज़ादी मिलती है और स्मार्टफोन लोकेशन के साथ आपकी सूचना उस नंबर पर पहुंचाता है। इस एप का इस्तेमाल आपातकालीन स्थिति में किया जा सकता है।

  • Published Date: January 31, 2018 5:40 PM IST