comscore केंद्रीय मंत्री सोम प्रकाश ने आज संसद को बताया, भारतीय यूजर्स की पूरी सुरक्षा के लिए भारत सरकार ने अभी तक 320 Apps को किया ब्लॉक
News

केंद्रीय मंत्री सोम प्रकाश ने आज संसद को बताया, भारतीय यूजर्स की पूरी सुरक्षा के लिए भारत सरकार ने अभी तक 320 Apps को किया ब्लॉक

केंद्रीय मंत्री सोम प्रकाश ने आज संसद को बताया कि भारत सरकार ने भारतीय यूजर्स की इंटरनेट सेफ्टी पक्की करने के लिए अभी तक 320 मोबाइल ऐप्स को बैन किया है। आइए हम आपको इस खबर के बारे में विस्तार से बताते हैं।

Ban Apps in India

भारत सरकार ने भारतीय इंटरनेट यूजर्स को चारों तरफ से सुरक्षित रखने के लिए आईटी एक्ट यानी सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) अधिनियम के एक प्रावधान के तहत अभी तक 320 ऐप्लिकेशन्स को ब्लॉक कर दिया है। इस बात की जानकारी बुधवार यानी आज संसद भवन में दी गई है। Also Read - CERT-In ने 2021 में 14 लाख से ज्यादा साइबर अटैक के मामलों को किया ट्रैक, भारत सरकार ने उठाए कड़े कदम

वाणिज्य और उद्योग राज्य मंत्री सोम प्रकाश ने लोकसभा में एक लिखित उत्तर में कहा कि राज्य की संप्रभुता, अखंडता, रक्षा और सुरक्षा के हित में इन मोबाइल एप्लिकेशन को ब्लॉक किया गया था। Also Read - Free Fire Ban पर सिंगापुर ने जताई चिंता, गेम बैन से हुआ करोड़ों का नुकसान

फरवरी में 49 ऐप्स को किया गया ब्लॉक

उन्होंने कहा कि फरवरी में एक बार फिर 49 Apps को ब्लॉक कर दिया गया था, क्योंकि पहले से ब्लॉक किए गए ऐप्स की रीब्रांडिंग के बाद उन्हें फिर से लॉन्च किया गया था। Also Read - Free Fire unban in India date: क्या 10 अप्रैल को फ्री फायर से हट रहा है बैन? जानें सच्चाई

सोम प्रकाश ने कहा, “अपने सभी उपयोगकर्ताओं के लिए एक सुरक्षित, भरोसेमंद और जवाबदेह इंटरनेट सुनिश्चित करने के उद्देश्य से, सरकार ने अब तक सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) अधिनियम, 2000 की धारा 69ए के प्रावधान के तहत 320 Mobile एप्लिकेशन को ब्लॉक कर दिया है।”

NSWS पोर्टल की अपडेट

एक अन्य प्रश्न का उत्तर देते हुए उन्होंने कहा कि वर्तमान में 21 मंत्रालयों/विभागों में 146 सेंट्रल एप्रूवल नेशनल सिंगल विंडो सिस्टम (NSWS) पोर्टल के माध्यम से लागू करने के लिए सक्षम हैं। उन्होंने कहा, “14 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के सिंगल विंडो सिस्टम को NSWS पोर्टल से जोड़ा गया है, जिससे इन राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों को सिंगल लॉगइन आईडी के जरिए आवेदन करने की मंजूरी मिली है।”

केंद्र सरकार और संबंधित राज्यों के सभी मंत्रालयों और विभागों से अनुरोध किया गया है कि वे अपनी एप्रूवल प्रोसेस को NSWS के साथ जोड़ें। प्रकाश ने कहा, “वर्तमान में, केवाईए (Know Your Approvals) मॉड्यूल में 32 मंत्रालयों / विभागों और 16 राज्यों / केंद्रशासित प्रदेशों में 3,400 से अधिक एप्रूवल्स की डिटेल्स मौजूद हैं।

एक अन्य लिखित उत्तर में, उन्होंने कहा कि भारत को अप्रैल 2000 से दिसंबर 2021 के दौरान चीन से केवल 2.45 बिलियन डॉलर (लगभग 18,701 करोड़ रुपये) का प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI) प्राप्त हुआ है। उन्होंने कहा, “अप्रैल 2000 से दिसंबर, 2021 की अवधि के दौरान भारत में कुल एफडीआई इक्विटी फ्लो में केवल 0.43 प्रतिशत हिस्सेदारी (2.45 अरब डॉलर) के साथ चीन 20वें स्थान पर है।”

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: March 23, 2022 5:56 PM IST



new arrivals in india