comscore WhatsApp ने बैन किए 20 लाख से ज्यादा भारतीय अकाउंट्स, आखिर क्या है वजह
News

WhatsApp ने बैन किए 20 लाख से ज्यादा भारतीय अकाउंट्स, आखिर क्या है वजह

WhatsApp ने 20 लाख से ज्यादा भारतीय अकाउंट्स बैन किए हैं। कंपनी ने यह जानकारी अपने लेटेस्ट कंप्लायंस रिपोर्ट में दी है। WhatsApp ने इन सभी अकाउंट्स को अक्टूबर महीने में बैन किया था। आइए जानते हैं इससे जुड़ी डिटेल्स।

WhatsApp

(Representational Image)


WhatsApp दुनियाभर में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप है। अक्टूबर महीने में इस ऐप ने लाखों अकाउंट्स को बैन किया है, जिसमें बड़ी संख्या भारतीय अकाउंट्स की भी है। ऐप की लेटेस्ट रिपोर्ट के मुताबिक, व्हाट्सऐप ने इस साल अक्टूबर में 20 लाख से ज्यादा भारतीय अकाउंट्स को बैन किया है, जबकि इस दौरान उसे 500 शिकायतें मिलीं। मैसेजिंग सर्विस प्रोवाइडर ने अपनी कंप्लायंस रिपोर्ट में यह जानकारी दी। Also Read - WhatsApp में आएगा कमाल का फीचर, चैट विंडो बंद होने के बाद भी सुन पाएंगे वॉइस मैसेज

सोमवार को जारी अपनी लेटेस्ट रिपोर्ट में कंपनी ने कहा कि इस अवधि के दौरान व्हाट्सऐप पर 20,69,000 भारतीय अकाउंट्स को बैन किया गया है। रिपोर्ट में बताया गया है कि भारतीय अकाउंट्स की पहचान +91 फोन नंबर से जुड़ी होती है। बता दें कि WhatsApp ने दुनियाभर में अपने प्लेटफॉर्म के गलत इस्तेमाल को रोकने के लिए हर महीने औसत 80 लाख अकउंट्स बैन किए हैं। Also Read - Signal ऐप से भी अब WhatsApp की तरह कर पाएंगे पेमेंट, जानें कैसे काम करता है यह फीचर

क्या है WhatsApp का कहना?

कंपनी के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘WhatsApp, एंड-टू-एंड एन्क्रिप्टेड मैसेजिंग सर्विसेस के बीच अभद्र भाषा के इस्तेमाल को रोकने में सबसे आगे रही है। वर्षों से, हमने अपने यूजर्स को इस प्लेटफॉर्म पर सुरक्षित रखने के लिए लगातार आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और अन्य अत्याधुनिक तकनीक, डेटा साइंटिस्ट और विशेषज्ञों एवं प्रक्रियाओं में निवेश किया है।’ उन्होंने कहा कि आईटी नियम 2021 का पालन करते हुए कंपनी ने अपनी पांचवीं मासिक रिपोर्ट जारी की है। Also Read - WhatsApp के iOS यूजर्स के लिए बदल जाएगा चैट यूजर इंटरफेस, अपडेट के बाद नहीं मिलेंगे ये ऑप्शन

क्या चीजों की शिकायत मिली?

प्रवक्ता ने कहा कि इस यूजर्स-सुरक्षा रिपोर्ट में यूजर्स की शिकायतों का विवरण और WhatsApp द्वारा की गई संबंधित कार्रवाई के साथ-साथ मैसेजिंग सर्विस प्लेटफॉर्म पर अभद्र भाषा के इस्तेमाल को रोकने के लिए कंपनी द्वारा की गई कार्रवाई की जानकारी शामिल है। इससे पहले मेटा (पहले फेसबुक) अधिकृत कंपनी ने कहा था कि प्लेटफॉर्म पर लगभग 95 फीसदी अकाउंट्स बैन की वजह ऑटोमेटेड या बल्क मैसेजिंग का अनऑथराइज्ड इस्तेमाल रहा है। अक्टूबर महीने में कंपनी ने 20 लाख से ज्यादा अकाउंट्स को बैन किया है। इसमें कंपनी को 500 शिकायतें मिली थीं, जिसमें 146 अकाउंट सपोर्ट, 248 बैन अपील, 42 अन्य सपोर्ट, 53 प्रोडक्ट सपोर्ट और 11 सेफ्टी से जुड़ी थी।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: December 2, 2021 12:17 PM IST



new arrivals in india

Best Sellers