comscore WhatsApp ने दिल्ली हाई कोर्ट में Privacy Policy पर क्या कहा? आपको जाननी चाहिए ये बातें
News

WhatsApp ने दिल्ली हाई कोर्ट में Privacy Policy पर क्या कहा? आपको जाननी चाहिए ये बातें

WhatsApp Privacy Policy पर एक बार दिल्ली हाई कोर्ट में ऐप ने अपनी बात रही है। WhatsApp ने कहा कि वह पहले ही अपनी अपडेटेड प्राइवेसी पॉरिली को लागू करने पर रोक लगा चुका है। जानिए क्या है पूरा मामला।

WhatsApp Flash Calls feature

WhatsApp ने शुक्रवार को दिल्ली हाई कोर्ट को बताया कि उन्होंने अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी को होल्ड पर रखा है और इससे भारतीय यूजर्स पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। दिल्ली हाई कोर्ट में CCI की इन्क्वायरी के खिलाफ फेसबुक और व्हाट्सऐप की याचिका पर सुनावाई चल रही है। इस सुनावई के दौरान व्हाट्सऐप ने यह बात कही है। व्हाट्सऐप की अपडेटेड प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर विवाद लंबे समय से चल रहा है। ऐप ने अपनी प्राइवेसी पॉलिसी की घोषणा इस साल जनवरी में की थी। Also Read - WhatsApp में Focus Mode समेत जुड़े 3 नए फीचर्स, जानें डिटेल

इसके साथ ही ऐप ने यूजर्स को अल्टीमेटम भी दिया था कि या तो वे पॉलिसी को स्वीकार करें या फिर अपने अकाउंट को इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे। हालांकि, विरोध होने के बाद WhatsApp ने अपनी प्राइवेसी पॉलिसी पर रोक लगा दी, लेकिन फरवरी में कंपनी ने एक बार फिर यूजर्स को रिमाइंडर भेजना शुरू कर दिया। इसके खिलाफ प्राइवेसी के पक्षकार, सरकार और कई अन्य लोगों ने आवाज उठाई। Also Read - WhatsApp New Features: अब वेब वर्जन में भी मिलेगा ऐप वाला यह जबरदस्त फीचर

क्या है WhatsApp Privacy Policy को लेकर विवाद?

Facebook और WhatsApp ने शिकायत के खिलाफ दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दायर की, लेकिन इससे पहले ही कंपनी ने नई पॉलिसी को लागू करने पर रोक लगा दी थी। आइए जानते हैं क्या है व्हाट्सऐप की प्राइवेसी पॉलिसी और क्या आपको इसे एक्सेप्ट करना चाहिए? Also Read - WhatsApp में आने वाला है जबरदस्त फीचर, फोटो और वीडियो को एडिट करने के लिए मिलेंगी 2 नई पेंसिल

  1. सीनियर एडवोकेट हरिष साळवे ने दिल्ली हाई कोर्ट में व्हाट्सऐप की ओर से कहा, ‘हमने डेटा प्रोटेक्शन बिल आने तक अपनी प्राइवेसी पॉलिसी को पहले ही होल्ड पर डाल दिया है।’
  2. उन्होंने कहा, ‘किसी का भी व्हाट्सऐप अकाउंट डिलीट नहीं होगा और न ही 15 मई के अपडेट की वजह से कोई व्हाट्सऐप इस्तेमाल करने में किसी को दिक्कत होगी।’ ‘अगर आप अपडेटेड पॉलिसी एक्सेप्ट नहीं करते हैं, तो व्हाट्सऐप आपका अकाउंट डिलीट नहीं करेगा।’
  3. नई पॉलिसी 15 मई से लागू होनी थी और व्हाट्सऐप ने कहा था कि यह धीरे-धीरे फंक्शनैलिटी को सीमित करेगी।
  4. व्हाट्सऐप ने कहा था कि दूसरे ऐप्स इतनी ही या फिर इससे ज्यादा जानकारी इकट्ठा करते हैं।
  5. जनवरी में लागू हुई नई पॉलिसी के बाद यूजर्स को डर था कि उनका डेटा फेसबुक के साथ शेयर किया जा सकता है। इसमें यूजर्स के फोन नंबर जैसे कई डेटा भी शामिल हैं।
  6. WhatsApp ने बाद में कहा था कि वह Facebook से डेटा शेयर नहीं करेगा और नई पॉलिसी के बाद सिर्फ बिजनेस अकाउंट से भेजे गए मैसेज पर ही प्रभाव पड़ेगा।
  7. एक FAQ में व्हाट्सऐप ने बताया कि ज्यादातर यूजर्स ने नई प्राइवेसी पॉलिसी को एक्सेप्ट कर लिया है।
  8. व्हाट्सऐप ने इसके साथ ही बताया था कि इंडिविजुअल चैट्स एंड-टू-एंड एन्क्रिप्टेड रहेंगी। यहां तक मैसेजिंग प्लेटफॉर्म भी इन मैसेज को पढ़ नहीं सकता है।
  9. इसी प्रकार से WhatsApp Calls भी एन्क्रिप्टेड रहती हैं और कोई उन्हें सुन नहीं सकता है।
  10. इस बात की कोई जानकारी नहीं है कि भारत में कानूनी केस का व्हाट्सऐप के फैसले पर कोई प्रभाव पड़ेगा या नहीं।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: July 9, 2021 3:17 PM IST



new arrivals in india

Best Sellers