comscore
News

PUBG Mobile खेलने पर क्यों हो सकते हैं गिरफ्तार? ये हो सकती है अधिकतम सजा

इस समय भारत के गुजरात में इस गेम के खेलने पर बैन है।

pubg-mobile-vikendi-snow-map-first-impressions

Image Credit: Rehan Hooda


भारत समेत दुनियाभर में PUBG मोबाइल काफी पॉप्युलर है। हालांकि पिछले कुछ समय से इस पॉप्युलर गेम PlayerUnknown’s Battleground के बारे में काफी नकरात्मक खबरें सामने आ रही हैं। क्या आपको पता है कि अगर आप इस गेम को गुजरात में खेल रहे हैं तो आपको गिरफ्तार किया जा सकता है? इस गेम को गुजरात के कई बड़े शहरों में खेलने पर बैन है, जिसमें सूरत, राजकोट, वड़ोदरा, भावनगर और गिरसोमनाथ जैसे कई जिले शामिल हैं।  एक आंकड़े के मुताबिक गुजरात की पॉप्युलेशन 6 करोड़ के करीब है और पुलिस का मानना है कि इस गेम को खेलने से बच्चों और यूथ के दिमाग में गलत (हिसंक) प्रभाव पड़ रहा है, साथ ही इससे उनकी स्टडी पर भी असर पड़ रहा है।

पिछले कुछ दिनों में अहमदाबाद और राजकोट समेत कई जगहों से दो दर्जनों से अधिक बच्चों को PUBG खेलने के मामले में गिरफ्तार किया जा चुका है। शुरुआत में PUBG का केवल डेस्कटॉप वर्जन ही था, लेकिन जब से इसका मोबाइल वर्जन लॉन्च किया गया है इसकी पॉप्युलेरिटी काफी बढ़ गई है। भारत में इसके मोबाइल वर्जन को मार्च 2018 में लॉन्च किया गया था। Tencent Games के मुताबिक दिसंबर 2018 तक इसे 20 करोड़ से ज्यादा यूजर्स ने डाउनलोड कर लिया था। हालांकि अभी भी यह गेम गुजरात में बैन है।

राज्य सरकार का बैन

PUBG Mobile को गुजरात की राज्य सरकार ने अपना यहां बैन किया हुआ है, जिसके बाद पुलिस को यह अधिकार मिलता है कि यदि कोई युवा यह गेम खेल रहा है तो उसे गिरफ्तार किया जा सकता है। राजकोट पुलिस ने हाल में इस नियम को तोड़ने के चक्कर में 10 कॉलेज स्टूडेंट्स को गिरफ्तार कर लिया था। राजकोट में अब तक कुल 16 स्टूडेंट्स को इस मामले में गिरफ्तार किया गया है। वहीं अहमदाबाद में यह आंकड़ा अभी 10 तक पहुंचा है।

पुलिस के पकड़े जाने पर कौन से चार्ज लग सकते हैं

गिरफ्तार स्टूडेंट्स पर इंडियन पैनल कोड (IPC) 188 और गुजरात पुलिस एक्ट (GPA) 135 के तहत मामला दर्ज किया गया था। लेकिन इस मामले में तुरंत जमानत मिल जाती है। ऐसे मामलों में अधिसूचना का उल्लंघन करने के आरोप में  गिरफ्तार किया जाता है, हालांकि इन्हें तुरंत जमानत दे दी जाती है। उसके बाद कोर्ट इस मामले पर आगे की कार्रवाई करता है।

IPC 188 में ये हो सकती है अधिकतम सजा

IPC 188 एक मामूली अपराध है। यह अपराध किसी भी पब्लिक सर्वेंट द्वारा किसी नियम को तोड़ने पर लगाया जाता है। इस अपराध में अधिकतम 1 महीने की जेल के साथ 200 रुपये का फाइन लगाया जा सकता है।

Section 135 GPA में अधिकतम सजा

Section 135 GPA एक ऐसा अपराध है जिसमें आप ऐसे नियम को तोड़ते हैं जिससे सार्वजनिक शांति को भंग किया जा सकता है। इस अपराध में अधिकतम 1 साल की कैद और जुर्माने का प्रावधान है। ये दोनों जमानती अपराध हैं। इस मामले में तुरंत जमानत मिल जाती है। हाल में इस गेम को चीन में 13 साल तक के बच्चों के लिए भी रेस्ट्रिक कर दिया गया है।

क्या है PUBG

PlayerUnknown’s Battleground (PUBG) में 100 प्लेयर एक ओपन वर्ल्ड मैप में खेलते हैं, जहां आखिरी तक सर्वाइव करने वाला प्लेयर गेम का विनर होता है। आप इसमें दूसरे प्लेयर पर गोलियों और दूसरी चीजों से अटैक करते हैं। यह गेम PC, Xbox और PlayStation पर भी उपलब्ध है। अभी कंपनी ने इस गेम में Zombie मोड को भी जोड़ा है।

  • Published Date: March 18, 2019 11:40 AM IST