comscore सस्ते फोन में अगस्त से बंद हो जाएगा YouTube Go ऐप, जानें वजह
News

YouTube Go अगस्त में हो जाएगा बंद, जानें वजह

YouTube टीम ने कम्युनिटी फोरम पर YouTube Go को बंद करने का ऑफिशियल ऐलान किया है। कंपनी ने लाइटवेट यूट्यूब गो ऐप को कम रैम व स्टोरेज वाले फोन के लिए पेश किया था।

  • Updated: May 4, 2022 5:36 PM IST
YouTube Go

YouTube Go की सर्विस अगस्त महीने से बंद कर दी जाएगी। YouTube Go कम रैम व स्टोरेज वाले स्मार्टफोन पर चलने वाला ऐप है, जो कि यूजर्स के फोन में कम से कम स्पेस लेता है। जिन यूजर्स के पास Android Go ऑपरेटिंग सिस्टम वाले स्मार्टफोन हैं, उनके फोन से अगस्त महीने में यह ऐप रिमूव हो जाएगा। Also Read - Free Apps to watch Movies/ TV Shows: ये ऐप्स और वेबसाइट फ्री में दिखाते हैं मूवी और टीवी शो

YouTube Go बंद करने की ये है वजह-

खुद YouTube टीम ने कम्युनिटी फोरम पर जानकारी दी है कि YouTube Go ऐप अगस्त से बंद हो जाएगा। कंपनी का कहना है कि पिछले कुछ सालों में यूट्यूब गो ऐप गैरजरूरी बनता जा रहा है। दरअसल, कंपनी ने लाइटवेट यूट्यूब गो ऐप को कम रैम व स्टोरेज वाले फोन के लिए पेश किया था, ऐसे फोन में मेन यूट्यूब ऐप एंड्रॉइड गो एडिशन वाले फोन में काफी जगह घेरती है और डेटा की खपत करती है। Also Read - YouTube ने लॉन्च किया ‘Most Replayed’ फीचर, समय बचाकर देख सकेंगे वीडियो का मेन पार्ट

YouTube Go एडिशन आने के बाद से कंपनी ने अपने मेन यूट्यूब ऐप में कई अपडेट्स जारी किए हैं, जो कि कई इम्प्रूवमेंट्स के साथ आए हैं। इनमें से कुछ अपग्रेड्स मेन यूट्यूब ऐप को एंट्री-लेवल डिवाइस में शानदार परफोर्मेंस प्रोवाइड करते हैं। अब कंपनी का कहना है कि मेन यूट्यूब ऐप को एंट्री-लेवल स्मार्टफोन में आसानी से इस्तेमाल किया जा सकता है, ऐसे में यूट्यूब गो ऐप की जरूरत नहीं रह जाती। Also Read - लैपटॉप में इन आसान तरीकों से डाउनलोड करें YouTube वीडियो, नहीं देना होगा कोई भी चार्ज

यूट्यूब टीम ने गो यूजर्स से मेन Youtube App को डाउनलोड व इंस्टॉल करने की सलाह दी है। यूट्यूब गो की तुलना में मेन यूट्यूब ऐप यूजर्स को शानदार वीडियो कॉन्टेंट एक्सपीरियंस के साथ-साथ यूट्यूब फीचर्स मिलते हैं। यूट्यूब गो यूजर्स को कमेंट करने, पोस्ट करने, कॉन्टेंट क्रिएट करने व डार्क मोड इस्तेमाल करने जैसी सुविधाएं नहीं मिलती… लेकिन यूट्यूब गो से मेन यूट्यूब में शिफ्ट करने के बाद वह इन सभी सुविधाओं का इस्तेमाल कर सकेंगे।

बता दें, YouTube Go को साल 2016 में लॉन्च किया गया था। इस लाइटवेट ऐप को लाने का मकसद उन यूजर्स को यूट्यूब एक्सपीरियंस प्रदान करना है, जो कम रैम-स्टोरेज वाले फोन इस्तेमाल करते हैं। इसके अलावा, स्लो-डेटा व खराब नेटवर्क वाले एरिया में भी यूट्यूब गो वर्जन काफी फायदेमंद रहता है। एंट्री-लेवल डिवाइस के साथ यूट्यूब गो ऐप प्री-इंस्टॉल आती है।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: May 4, 2022 4:58 PM IST
  • Updated Date: May 4, 2022 5:36 PM IST



new arrivals in india