comscore NITI Aayog ने कही बड़ी बात, भारत में ऐसा होगा इलेक्ट्रिक टू वीलर्स का भविष्य
News

NITI Aayog ने कही बड़ी बात, भारत में ऐसा होगा इलेक्ट्रिक टू वीलर्स का भविष्य

नीति आयोग ने अपनी रिपोर्ट में 2027 तक इलेक्ट्रिक टू-वीलर्स के भविष्य के बारे में बताया है। अगर, इसके लिए इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलप किया गया और गाड़ियों की रेंज बढ़ाई गई तो इसका पेनिट्रेशन 100 प्रतिशत तक पहुंच सकता है।

Electric scooters charging

Electric scooter charging infrastructure


पेट्रोल के तेजी से बढ़ते दामों के बीच यूजर्स का झुकाव आजकल इलेक्ट्रिक वीइकल्स की तरफ हो रहा है। कई रिपोर्ट्स में यह कहा गया है कि पिछले 5 सालों में बैटरी पर चलने वाली गाड़ियों की डिमांड काफी बढ़ी है। NITI Aayog और Technology Information, Forecasting and Assessment Council (TIFAC) की नई रिपोर्ट के मुताबिक, वित्त वर्ष 2026-27 तक भारत में इलेक्ट्रिक टू-वीलर का पेनिट्रेशन 100 प्रतिशत तक पहुंच जाएगा। Also Read - 15 अगस्त को लॉन्च होगा नया Ola Electric Scooter, कंपनी नई इलेक्ट्रिक कार से भी हटाएगी पर्दा

बता दें TIFAC एक ऑटोनोमस ऑर्गेनाइजेशन है, जिसे 1988 में बनाया गया था। यह ऑर्गेनाइजेशन डिपार्टमेंट ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी के तहत काम करता है। इसका मुख्य काम हर डोमेन में भविष्य की तकनीक और टेक्नोलॉजी ट्रेजेक्टरीज और सपोर्ट इनोवेशन को देखना है। Also Read - New Electric Scooters: भारत में लॉन्च हुए दो नए लो बजट इलेक्ट्रिक स्कूटर्स, जानें कितनी मिलेगी रेंज

TIFAC द्वारा पब्लिश की गई इस रिपोर्ट का टाइटिल फॉरकास्टिंग पेनिट्रेशन ऑफ इलेक्ट्रिक टू-वीलर्स इन इंडिया है। यह रिपोर्ट टू-वीलर के लिए जरूरी इंफ्रास्ट्रक्चर, मैनुफैक्चरिंग क्षमता, पॉलिसी और तकनीक के डेवलपमेंट के आधार पर तैयार किया गया है। Also Read - अब Flipkart पर Bounce Infinity E1 Electric Scooter, आज से शुरू होगी सेल

छू सकता है 220 लाख यूनिट्स का आंकड़ा

TIFAC ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि अगर, इलेक्ट्रिक टू-वीलर की रेंज को वित्त वर्ष 2023-24 और 2025-26 के बीच 5 प्रतिशत और वित्त वर्ष 2026-27 में 10 प्रतिशत तक बढ़ाने के लिए रिसर्च और डेवलपमेंट प्रोग्राम लाया गया तो वित्त वर्ष 2031-32 तक इसका पेनिट्रेशन 72 प्रतिशत तक पहुंच जाएगा। यही नहीं, रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि वित्त वर्ष 2028-29 तक टू-वीलर्स की सेल 220 लाख के आंकड़े को पार कर सकती है।

world motorcycle day 2022, world motorcycle day, upcoming ebikes in india, upcoming electric bikes in india 2022, new electric bike launch in india 2022, best electric bikes in india 2022, upcoming electric bike sin india, electric vehicles, electric motorcycles, best electric motorcycles 2022, ebikes in india, electric motorcycle launch 2022

Hero Electric AE-47 to TVS Zeppelin: Top upcoming electric motorcycle in India

रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत इस समय इलेक्ट्रिक मोबिलिटी में शिफ्ट होने के कगार पर है, खास तौर पर टू-वीलर सेगमेंट हमारी उम्मीदों से तेजी से शिफ्ट होगा। शुरुआत में इलेक्ट्रिक वीइकल का पेनिट्रेशन काफी कम रहा है, बड़ी मात्रा में गाड़ियों को चार्ज करने के लिए चार्जिंग प्वाइंट्स लगाने की जरूरत है, ताकि ग्राहकों के बीच इलेक्ट्रिक वीइकल खरीदने का भरोसा जग सके।

अगर, सही तरीके से टू-वीलर्स के लिए चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर को डेवलप किया गया तो इलेक्ट्रिक गाड़ियों की बिक्री का आंकड़ा 250 लाख यूनिट्स तक पहुंच सकता है।

रिपोर्ट में इस बात का भी जिक्र किया गया कि मौजूदा इंसेंटिव ड्रिवन सिनेरियो लेकिन बैटरी की कीमत में 2 प्रतिशत की कमी और रेंज बेहतर नहीं मिलने पर वित्त वर्ष 2031 तक इलेक्ट्रिक टू-वीलर्स की सेल 54.91 लाख यूनिट्स तक पहुंच जाएगी, जो मार्केट पेनिट्रेशन का 21.86 प्रतिशत होगा।

NITI Aayog के CEO अमिताभ कांत ने कहा कि यह रिपोर्ट इंडस्ट्री, रिसर्चर्स, अकेडेमिशियन और पॉलिसीमेकर्स के लिए बेहद जरूरी टूल है, ताकि अलग-अलग तरह के हालातों को एनालाइज किया जा सके। इसे फोर-वीलर्स के सेगमेंट में भी लाया जा सकता है।

भविष्य के हालात तीन मुख्य फैक्टर्स पर निर्भर हैं, जो इलेक्ट्रिक टू-वीलर्स की मार्केट पेनिट्रेशन को प्रभावित करेगा, जिनमें इंसेंटिव की मांग, बैटरी पर आने वाला खर्च और वीइकल परफॉर्मेंस (रेंज और पावर) शामिल हैं।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: June 30, 2022 4:27 PM IST



new arrivals in india