comscore Nitin Gadkari ने बताया- भारत में कब आएंगी Hydrogen Cars? 1kg में चलेंगी 400 किलोमीटर- India will get its 1st Hydrogen Car within two years Union Minister Nitin Gadkari said
News

Nitin Gadkari ने बताया- भारत में कब आएंगी Hydrogen Cars? 1kg में चलेंगी 400 किलोमीटर

भारत सरकार महंगे फ्यूल की बढ़ती कीमतों और पॉल्यूशन में कमी लाने के लिए ऑप्शनल फ्यूल पर जोर दे रही है। इस बीच सरकार देश में हाइड्रोजन से चलने वाली कारें (Hydrogen cars) लाने की तैयारी कर रही है।

Highlights

  • Nitin Gadkari ने कहा कि भारत में आम जनता के इस्तेमाल के लिए हाइड्रोजन कारें लाई जाएंगी।
  • ब्लैक हाइड्रोजन को कोयले की मदद से, ब्राउन हाइड्रोजन को पेट्रोल की मदद से और ग्रीन हाइड्रोजन को पानी से बनाया जाता है।
  • 1 किलोग्राम हाइड्रोजन से वीइकल को 400 किलोमीटर तक चलाया जा सकेगा।
Hydrogen Car


भारत में जल्द ही Hydrogen cars की एंट्री हो सकती है। केंद्रीय सड़क और परिवहन मंत्री (Union Minister for Road and Transport) नितिन गडकरी ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि भारत हाइड्रोजन कारों की मैनुफैक्चरिंग करने के लिए पूरी तरह तैयार है और इसके लिए प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। Also Read - 2023 Toyota Prius ने दी दस्तक, जानें डिजाइन से लेकर फीचर्स तक की डिटेल

केंद्रीय मंत्री Nitin Gadkari ने Zee Auto Awards में बोलते हुए कहा कि मौजूदा समय में, हाइड्रोजन तीन तरीकों से बनाई जा सकती है, जिनमें ब्लैक हाइड्रोजन, ब्राउन हाइड्रोजन और ग्रीन हाइड्रोजन शामिल हैं। उन्होंने बताया कि ब्लैक हाइड्रोजन को कोयले की मदद से, ब्राउन हाइड्रोजन को पेट्रोल की मदद से और ग्रीन हाइड्रोजन को पानी से बनाया जाता है। Also Read - MV Agusta 921 S: आ रही है जबरदस्त स्टाइल वाली बाइक, मिलेगी 219kmph की टॉप स्पीड

कचरे से बनाया जाएगा ग्रीन फ्यूल

गडकरी ने यह भी बताया कि सरकार हम नगर पालिका के कचरे से ग्रीन फ्यूल बनाने की प्लानिंग कर रही है। अब हम फ्यूल इंपोर्ट नहीं बल्कि इसका एक्सपोर्ट करने की तैयारी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि एग्रीकल्चर वेस्ट से भी एनर्जी बनाई जा सकती है। नितिन गडकरी ने कहा, “इसके लिए हमें इलेक्ट्रोलाइजर्स की जरूरत है। इनका इस्तेमाल ऑक्सीजन से हाइड्रोजन को अलग करने में किया जाता है। भारत में दुनिया में सबसे ज्यादा इलेक्ट्रोलाइजर्स हैं।”

भारत में कब आएंगी Hydrogen cars ?

Nitin Gadkari ने कहा कि भारत को ऑफिशियल तौर पर (आम जनता के लिए) दो साल के अंदर हाइड्रोजन कारें मिल जाएंगी। केंद्रीय मंत्री ने कहा, “हम 80 रुपये प्रति किलोग्राम की कीमत पर हाइड्रोजन उपलब्ध कराने की कोशिश करेंगे।” उन्होंने यह भी कहा कि 1 किलोग्राम हाइड्रोजन से वीइकल को 400 किलोमीटर तक चलाया जा सकेगा। बता दें नितिन गडकरी ने Zee Auto Awards में जाने के लिए Hydrogen Car की सवारी की।

पेट्रोल गाड़ियों की तरह सस्ते हो जाएंगे Electric Vehicles

इस इस्वेंट के दौरान नितिन गडकरी ने यह भी कहा कि अगले 1 साल में यानी 2023 तक देश में इलेक्ट्रिक वीइकल पेट्रोल गाड़ियों की तरह सस्ते हो जाएंगे। केंद्रीय मंत्री ने यह भी कहा कि इस साल भारत में लगभग 17 लाख इलेक्ट्रिक गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन हुआ था। उन्होंने कहा, “देश में मौजूदा समय में 1.5 लाख राज्य परिवहन बसें हैं, जहां 93 प्रतिशत बसें डीजल पर चलती हैं, इसलिए सरकार का उद्देश्य इन सभी 1.5 लाख बसों को इलेक्ट्रिक बसों में बदलना करना है।

नितिन गडकरी ने Zee Auto Awards 2022 के में कुछ और घोषणाएं भी कीं। इस दौरान उन्होंने कहा कि सरकार भारत में टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए डबल-डेकर बसों की संख्या बढ़ाने की तैयारी कर रही है।

  • Published Date: November 2, 2022 2:40 PM IST

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.