comscore BGMI को बैन करने की 'सीक्रेट स्टोरी', जानें सुरक्षा एजेंसी की रिपोर्ट से लेकर गृह मंत्रालय की चिट्ठी तक सबकुछ
News

BGMI को बैन करने की 'सीक्रेट स्टोरी', जानें सुरक्षा एजेंसी की रिपोर्ट से लेकर गृह मंत्रालय की चिट्ठी तक सबकुछ

BGMI को बैन करने के लिए भारत की सुरक्षा एजेंसियों और मंत्रालय ने काफी सोच-विचार किए हैं। आइए हम आपको इस पूरे प्रॉसेस की इनसाइड स्टोरी बताते हैं।

BGMI-ban

Battlegrounds Mobile India (BGMI) को भारत में बैन कर दिया गया है। रिपोर्ट के अनुसार चीनी कनेक्शन होने की वजह से इस गेमिंग ऐप को गूगल प्ले स्टोर और एप्पल ऐप स्टोर से बैन किया गया है। हालांकि इसके बारे में अभी तक कोई आधिकारिक जानकारी सामने नहीं आई है। Also Read - BGMI ban पर कंपनी का बयान, Krafton India CEO ने फैंस को दिया संदेश

हालांकि अब एक नई रिपोर्ट का पता चला है, जिसके मुताबिक भारतीय सुरक्षा एजेंसी ने गृह मंत्रालय को बीजीएमआई के चीनी कनेक्शन और उससे होने वाले साइबर खतरों की जानकारी दी थी। इस जानकारी के बाद भारत के गृह मंत्रालय ने इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (Meity) को चिट्ठी लिखकर बैटलग्राउंड्स मोबाइल इंडिया को बैन करवाया है। Also Read - BGMI Ban in India: भारत में बैन हुआ BGMI, सामने आया चीनी कनेक्शन

सुरक्षा एजेंसी की रिपोर्ट

एक लेटेस्ट रिपोर्ट के मुताबिक भारतीय सुरक्षा एजेंसी ने गृह मंत्रालय को एक चिट्ठी लिखकर जानकारी दी कि यह गेम यूजर के डेटा को चुरा रहा था, जो भारत के लिए एक बड़ा साइबर खतरा था। सुरक्षा एजेंसियों के मुताबिक यह गेम यूजर्स के डेटा का गलत तरीके से इस्तेमाल करके भारत पर एक बड़ा और टारगेटेड साइबर अटैक कर सकता था। Also Read - BGMI banned in India: पबजी मोबाइल पर बैन, फिर BGMI की लॉन्चिंग और अब इस पर भी लगा प्रतिबंध, जानें इस गेम का पूरा 'खेल'

गृह मंत्रालय की चिट्ठी

रिपोर्ट के अनुसार मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि बीजीएमआई में कई कमियां भी पाई गई थी और उनमें से सबसे बड़ी कमी गेम का चीन में मौजूद सर्वर से डायरेक्टली और इनडायरेक्टली कम्युनिकेट करना था। इस रिपोर्ट में एक सोर्स के हवाले इस बात की जानकारी दी गई है कि आने वाले समय में ऐसे सभी ऐप्स को बैन किया जाएगा, जो चीन में स्थित सर्वर के साथ किसी भी तरीके से कम्यूनिकेट कर रहे हैं।

गेम में मिली खामियां

रिपोर्ट के मुताबिक सुरक्षा एजेंसियों ने अपनी सभी जानकारियों का कई बार विश्लेषण किया था। इस विश्लेषण में पाया गया कि बीजीएमआई में बहुत सारे ऐसे नुकसानदायक कोड्स मौजूद थे और ये यूजर्स से कई परमिशन्स की मांग करता था, जैसे – कैमरा, माइक्रोफोन, लोकेशन, ट्रैकिंग और कई अन्य परमिशन।

…और बैन हो गया BGMI

रिपोर्ट के अनुसार इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के एक अधिकारी ने जानकारी दी कि ऐसे ऐप्स भारत की संप्रभुता और अखंडता के लिए बहुत बड़ा खतरा हैं, जो भारत की सुरक्षा को नुकसान पहुंचा सकते हैं। हमें जैसे ही इसकी जानकारी मिली, हमने उसके तुरंत बाद बिना वक्त गवाए गूगल को प्ले स्टोर से बीजीएमआई को हटाने का आदेश दिया गया। आपको बता दें कि Meity की ओर से अभी तक बीजीएमआई को बैन करने का ऑफिशियल ऑर्डर तो नहीं आया है, लेकिन इसकी प्रक्रिया शुरू हो चुकी है।

क्राफ्टन ने क्या कहा

इस मामले में बीजीएमआई के डेवलपर क्राफ्टन ने कहा है कि, वो गेम को वापस लाने के लिए काम कर रहे हैं। कंपनी ने अपने बयान में कहा कि, भारत उनके लिए एक बहुत बड़ा अच्छा मार्केट है। क्राफ्टन के लिए यूजर्स डाटा की सिक्योरिटी और प्राइवेसी सबसे ज्यादा मायने रखती है। हमने हमेशा भारत के प्रोटेक्शन लॉ एंड रेगुलेशन्स समेत नियमों और कानूनों का पालन किया है और हम आगे भी ऐसा ही करते रहेंगे।

गूगल ने दिया बयान

अब देखना होगा कि क्राफ्टन और भारत सरकार के बीच में आगे क्या बातचीत होती है और क्या क्राफ्टन अपने गेम बीजीएमआई को भारत में वापस ला पाएगा या नहीं। उधर, गूगल ने अपने एक आधिकारिक बयान में बताया है कि भारत सरकार की ओर से उन्हें बीजीएमआई को गूगल प्ले स्टोर से बैन करने का आदेश मिला था, जिसके बाद उन्होंने इस गेम को गूगल प्ले स्टोर से बैन कर दिया।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: August 2, 2022 1:13 AM IST
  • Updated Date: August 2, 2022 1:20 AM IST



new arrivals in india