comscore Apple के बाद, अब सैमसंग अपने फोंस को स्लो करने को लेकर सुर्ख़ियों में | BGR India
News

Apple के बाद, अब सैमसंग अपने फोंस को स्लो करने को लेकर सुर्ख़ियों में

इटली के एंटीट्रस्ट संगठन की मांग है कि क्या यह दो तकनीकी दिग्गज कंपनियां जानबूझकर अपने फोन को धीमा कर रही हैं।

  • Published: January 19, 2018 12:00 PM IST
samsung galaxy s8 vs apple iphone 7

इटली की एंटी-ट्रस्ट प्राधिकरण ने कहा है कि उसने एप्पल और सैमसंग के खिलाफ अनुचित व्यापार प्रथाओं के लिए कार्यवाही शुरू कर दी है। इसने ऐसा कहा है कि इन दोनों कंपनियों ने अपनी एक “व्यावसायिक नीति के तहत अपने उत्पादों के प्रदर्शन को धीमा किया है, ताकि यूजर्स नए वर्जन को खरीदने के लिए मजबूर हो सकें, इसका मतलब है कि इन दोनों ही कंपनियों ने जानभूझकर यूजर्स को अपनी इस नीति के तहत उकसाया है कि वह नए वर्जन खरीदें।” Also Read - Samsung Galaxy A73 के रेंडर्स हुए लीक, लॉन्च से पहले डिजाइन और कई स्पेसिफिकेशन्स का हुआ खुलासा

Also Read - Samsung Galaxy A13 5G हुआ लॉन्च, 50MP कैमरा वाले इस किफायती 5G फोन के साथ नहीं मिलेगा चार्जर

अथॉरिटी ने ऐसा कहा है कि दोनों कंपनियां “उपकरणों के पर्याप्त प्रदर्शन स्तर के रखरखाव के लिए पर्याप्त जानकारी प्रदान करने में विफल रही हैं, जो उनके विशिष्ट और उन्नत तकनीकी विशेषताओं के आधार पर प्रचार और खरीदे गए थे।” इसके अलावा आपको बता दें कि एक स्टेटमेंट में ऐसा भी कहा गया है कि, एप्पल और सैमसंग ने उपभोक्ताओं को सलाह दी है कि वे सॉफ़्टवेयर अपग्रेड स्वीकार न करें यदि उन्हें अपने संभावित परिणामों के बारे में पर्याप्त जानकारी न दी जाए। Also Read - Qualcomm ने Snapdragon 8 Gen 1 चिपसेट के बाद अब लॉन्च किया Snapdragon 8cx Gen 3, जानें क्या है खास

इसके अलावा आपको बता दें कि पिछले महीने ऐसा सामने आया था कि, एप्पल अपने पुराने iPhones की स्पीड को इसलिए धीमा का रहा था कि यूजर्स नए वर्जन पर अपने आप को अपग्रेड कर लें। हालाँकि यह बैटरी इशू के पीछे चल रहा था। हालाँकि अगर आप नए अपडेट को अपने फोन में डालते हैं तो आपको अपने आप ही अपने फोन को बंद होना झेलना पड़ रहा था। इसके कारण ही लोग अपने फोंस को अपग्रेड कर रहे थे, और इसके कारण एप्पल को फायदा हो रहा था। इसका सीधा सा मतलब यह है कि यह सब एक नीति के जरिये ही किया जा रहा था।

इसके बाद एप्पल ने बाद में इस सब के लिए माफ़ी भी मांगी थी, और अपनी बैटरी के दामों में कटौती भी की थी। हालाँकि इस बात से इसने यहाँ भी मना किया था कि ऐसा सब जानभूझकर हुआ है, और यूजर्स को अपग्रेड करने के लिए बाध्य किया गया है। इसके अलावा एप्पल के CEO टीम कुक ने अभी हाल ही में कहा है कि नए iOS अपडेट में इस कमी को दूर किया जाएगा, क्योंकि इस अपडेट में आपको बैटरी के बारे में ज्यादा ट्रांसपेरेंट जानकारी मुहैया कराई जायेगी।

इसके अलावा अब इस इटालियन अथॉरिटी के अब यह कहना है कि शायद सैमसंग भी एप्पल की तरह ही कुछ कर रही है। हालाँकि इसके अलावा सैमसंग फ्रांस में बच्चों से काम कराने को लेकर पहले ही मुक़दमे का शिकार बना हुआ है।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: January 19, 2018 12:00 PM IST



new arrivals in india

Best Sellers