comscore
News

GOOGLE FOR INDIA: गूगल ने की ये 5 बड़ी घोषणाएं, अब पेमेंट ऐप TEZ हुआ GOOGLE PAY

गूगल फॉर इंडिया का चौथा वार्षिक एडिशन दिल्ली में आयोजित किया गया था।

Google Logo

Google for India ने आज दिल्ली में अपना चौथा वार्षिक एडिशन इवेंट आयोजित किया था। गूगल ने इस इवेंट में कई महत्वपूर्ण घोषणाएं की हैं। कंपनी ने अपने पेमेंट ऐप Tez का नाम बदलकर गूगल पे कर दिया है। इसके अलावा इस इवेंट में बताया गया कि अब गूगल असिस्टेंट अब मराठी को भी सपोर्ट करेगा। इतना ही नहीं गूगल असिस्टेंट जल्द ही 7 और भाषाओं को सपोर्ट करेगा। आइए जानते हैं गूगल द्वारा इस इवेंट में की गई कुछ बड़ी घोषणाओं के बारे में।

गूगल तेज बना गूगल पे

हाल ही में रिपोर्ट सामने आई थी कि गूगल अपने पेमेंट ऐप का नाम बदलकर गूगल पे रखने वाली है। वहीं, आज के गूगल फॉर इंडिया इवेंट में कंपनी ने इसके नाम को बदलर गूगल पे कर दिया है। नाम के अलावा ऐप में मौजूद किसी भी फीचर्स को नहीं बदला गया है।

हालांकि, गूगल ने कहा है कि आने वाले हफ्तों और महीनों में गूगल पे की कार्यक्षमताओं का विस्तार किया जाएगा। इसमें व्यापारियों के लिए नई सर्विस को पेश किया जाएगा। इसके अलावा आने वाले समय में बैंक गूगल पे यूजर्स को लोन भी दिया जाएगा।

आंध्र प्रदेश में गूगल स्टेशन

गूगल ने आंध्र प्रदेश में 12 हजार गांवों, कस्बों और शहरों में गूगल स्टेशन लाने के लिए फाइबरनेट लिमिटेड का साझेदारी की है। कंपनी का उद्देश्य राज्य के दूरदराज के क्षेत्रों के साथ-साथ विजयवाड़ा और विशाखापट्टनम जैसे शहरों में अस्पतालों जैसे पब्लिक प्लेस में इंटरनेट पहुंचाना है।

प्रोजेक्ट Navlekha

गूगल सर्च के वीपी, शशिधर ठाकुर ने कहा कि सर्च आपको लिए काफी महत्वपूर्ण हैं। आज गूगल ने अपने‘Project Navlekha’ की घोषणा की है। कंपनी ब्रांडेड डोमेन पर क्षेत्रीय भाषा वेबसाइटों को आसान बनाने के लिए 100,000 से अधिक ऑफलाइन पब्लिशर की हेल्प लेगी। प्रोजेक्ट के तहत देश के 1,35,000 भारतीय पब्लिशर्स को डिजिटाइज्ड किया जाएगा।

गूगल गो और गूगल असिस्टेंट

गूगल एंड्रॉइड गो में दो नए फीचर्स एड किए गए हैं। इन फीचर्स के बाद अब गो यूजर्स को दो भाषाओं में न्यूज फीड और ऑडियो प्लेबैक के द्वारा आर्टिक्ल्स चुन सकेंगे। बाद में इस फीचर में अंग्रेजी और हिंदी के अलावा कई भारतीय भाषाओं जैसे मराठी, मलयालम आदि को जोड़ा जाएगा।

गूगल का वॉयस असिस्टेंट अब हिंदी और अंग्रेजी के अलावा मराठी भाषा को भी सपोर्ट करेगा। इसके साथ ही कंपनी वॉयस असिस्टेंट के साथ 7 अन्य भाषाओं को भी जो़ड़ेगा।

गूगल मैप्स

गूगल के मैप्स गो ऐप के साथ टर्न-बाय-टर्न नेविगेशन फीचर को एड किया गया है। गूगल मैप्स के इस लाइट वर्जन में अब पब्लिक ट्रांसपोर्ट के साथ भी वॉयस नेविगेशन फीचर काम करेगा। गूगल ने मैप्स पर बेहतर पब्लिक ट्रांसपोर्ट की जानकारी देने के लिए रेडबस के साथ साझेदारी की है। इस साझेदारी की में कस्टमर्स को 1,500 शहरों में 20,000 से अधिक रूट पर टिकट की कीमत और बसों के समय पर जानकारी मिल जाएगी।

  • Published Date: August 28, 2018 1:35 PM IST