comscore गूगल ने iPhone के जीमेल एप के लिए फिशिंग रोधी तंत्र उतारा | BGR India
News

गूगल ने iPhone के जीमेल एप के लिए फिशिंग रोधी तंत्र उतारा

गूगल ने iPhone यूजर्स के लिए, उनके जीमेल एप के लिए एक फिशिंगरोधी तंत्र लॉन्च किया है, जो किसी संदेहास्पद लिंक पर क्लिक करने पर संभावित फिशिंग हमले की चेतावनी देगा।

  • Updated: February 15, 2022 4:16 PM IST
google-logo


गूगल ने iPhone यूजर्स के लिए, उनके जीमेल एप के लिए एक फिशिंगरोधी तंत्र लॉन्च किया है, जो किसी संदेहास्पद लिंक पर क्लिक करने पर संभावित फिशिंग हमले की चेतावनी देगा। गूगल ने कहा कि नए फीचर को सभी यूजर्स तक पहुंचने में करीब दो हफ्ते लगेंगे। गूगल ने अपने बयान में कहा कि अगर आप ऐसे किसी लिंक पर क्लिक करते हैं, जिसे गूगल संदेहास्पद समझता है तो वह आपसे पूछेगा, “क्या आप सचमुच इस लिंक को खोलना चाहते हैं?” Also Read - 50MP कैमरा, 8GB RAM, 4355mAh बैटरी और 30W फास्ट चार्जिंग वाले Google Pixel 7 पर तगड़ा Discount, Flipkart से सस्ते में खरीदें फोन

Also Read - Google Pixel 7a के खास फीचर्स और रेंडर्स लीक, ऐसा होगा फोन का डिजाइन

कंपनी ने अपने एंड्राइड एप में इस फीचर को मई में ही जोड़ दिया था और अब यह आईफोन यूजर्स के लिए लाया गया है। गूगल अपनी मशीन लर्निग विशेषज्ञता का प्रयोग कर संदेहास्पद ईमेल की पहचान करता है। Also Read - Twitter Blue Subscription के लिए करना होगा थोड़ा और इतंजार! फिर टल सकती है रीलॉन्चिंग

फोर्ब्स की रिपोर्ट बताया गया है, “गूगल अपने फिशिंग डिटेक्शन अलगोरिद्म के जरिए फिशिंग की संभावना वाले ईमेल की पहचान कर लेता है।” गूगल का दावा है कि जीमेल पर आने-जाने वाले 50 से 70 फीसदी ईमेल स्पैम होते हैं तथा उसकी मशीन लर्निग डिटेक्शन प्रणाली इसमें से 99.9 फीसदी ईमेल की पहचान करने में सक्षम है।

इसे भी देखें: एंड्राइड ‘O’ अपडेट के बाद OnePlus 3 और OnePlus 3T को नहीं मिलेगा और कोई अपडेट

फिशिंग ईमेल उन ईमेल्स को कहते हैं, जो यूजर्स की जरूरी जानकारियां जैसे नाम, पता, फोन नंबर, क्रेडिट कार्ड का नंबर आदि चुरा लेती है और बाद में उनका दुरुपयोग किया जाता है।

इसे भी देखें: नये Moto X4 स्मार्टफोन के स्पेक्स हुए लीक

मानव सूचना सुरक्षा जागरूकता और तैयारी समाधान मुहैया करानेवाली प्रमुख कंपनी ह्यूमनफायरवॉल डॉट आईओ के निदेशक अंकुश जौहर ने बताया, “साइबर सुरक्षा में फिशिंग एक बड़ा खतरा है। अब 60 फीसदी से ज्यादा ईमेल मोबाइल पर खोले जाते हैं और गूगल के इस कदम से बड़े पैमाने पर धोखाधड़ी से बचाव होगा।”

इसे भी देखें: प्ले स्टोर पर उपलब्ध हुआ MessagEase कीबोर्ड

  • Published Date: August 14, 2017 6:00 PM IST
  • Updated Date: February 15, 2022 4:16 PM IST

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.