comscore गूगल ने ‘Google AI China Center’ के रूप में एशिया में खोला अपना पहला मशीन लर्निंग रिसर्च लैब | BGR India
News

गूगल ने ‘Google AI China Center’ के रूप में एशिया में खोला अपना पहला मशीन लर्निंग रिसर्च लैब

हालाँकि चीन में गूगल के सर्च इंजन को बंद किया हुआ है, लेकिन अब गूगल धीरे धीरे चीन में अपने आप को फिर से ला रहा है।

  • Updated: February 15, 2022 4:51 PM IST
google-ai-china-center 1

एआई को देखते हुए पहली कंपनी के रूप में अपनी स्थिति का बंटवारा करते हुए Google ने हाल के वर्षों में दुनिया भर में मशीन लर्निंग अनुसंधान प्रयोगशालाएं खोली हैं। और इनमें से सबसे नवीनतम बीजिंग में स्थित ‘Google AI China Center’ है। आपको बता दें कि कंपनी ने इसकी आधिकारिक घोषणा अपने एक ब्लॉग के माध्यम से भी की है। Also Read - Google Doodle Today: जानें कौन थीं Anne Frank, जिन्हें आज खास डूडल बनाकर गूगल ने किया सम्मानित

Also Read - इस Spyware ने हैक किए Apple और Android स्मार्टफोन, मैसेज और कॉन्टैक्ट हुए चोरी

शंघाई में Google डेवलपर दिवस समारोह में Google क्लाउड्स के मुख्य वैज्ञानिक, फे-फी ली द्वारा इअका अनावरण किया गया है, और इस मौके पर उन्होंने कहा है कि, यह एशिया में कंपनी का इस तरह का पहला लैब है। इस सेंटर की देखकर रेख का काम इनके साथ साथ Google Cloud research की head Dr। Jia Li को भी दिया गया है, यह दोनों मिलकर इस लैब की देखरेख और संचालन करने वाली हैं। Also Read - Google ने 'सुरीले' अंदाज में भेजा संदेश, Apple से कहा- iPhone पर शुरू करो यह 'फीचर'

इस सेंटर के माध्यम से गूगल की एक बार फिर से चीन में धीरे धीरे वापसी कर रहा है, और इसके लिए हमें आर्टिफिशल इंटेलिजेंस और खासतौर पर टेन्सरफ्लो ज़िम्मेदार मानना होगा। जैसा कि अक्टूबर में ब्लूमबर्ग द्वारा विस्तृत तौर पर कहा गया था कि, कंपनी ने मशीन लर्निंग लाइब्रेरी के लिए कई डेवलपर्स इवेंट्स की मेजबानी की है।

यहाँ आपको बता दें और जैसा कि हम आपको ऊपर भी बता चुके हैं कि गूगल धीरे धीरे चीन में अपने कदम एक बार फिर से रख रहा है। असल में गूगल का सर्च इंजन चीन में बंद है। हालाँकि इसके बाद भी कंपनी के लगभग सैंकड़ों लोग अभी भी अंतरराष्ट्रीय सेवाओं के लिए चीन में ही काम कर रहे हैं। इसी के सन्दर्भ में अल्फाबेट के चेयरमैन Eric Schmidt कहते हैं कि कंपनी चीन की को कभी नहीं छोड़ेगी। और यह सही भी है क्योंकि AI को देखते हुए चीन उसके लिए एक जरुरी देश है। तो उसे वह कैसे छोड़ सकता है।

सोर्स:

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: December 13, 2017 12:00 PM IST
  • Updated Date: February 15, 2022 4:51 PM IST



new arrivals in india