comscore
News

सस्ते डाटा ने भारत में बढ़ाई 75% पॉर्न व्यूअरशिप!

आज भारत में 1जीबी डाटा की कीमत 5 रुपये से भी कम है।

star-wars-porn-parody-sales-up

इस समय देश में पॉर्न वेबसाइट का मुद्दा गरमाया हुआ है। कई टेलीकॉम कंपनियों ने अपने नेटवर्क पर पोर्न साइट्स पर रोक लगा दी है। इनमें रिलायंस जियो, वोडाफोन और एयरटेल जैसी कंपनियों के नाम शामिल हैं। इसमें कोई शक की बात नहीं है कि टेलीकॉम सेक्टर में क्रांति मचाने वाली रिलायंस जियो की एंट्री के बाद डाटा इतना सस्ता हो गया है कि अब हर कोई अपने मोबाइल पर बिना किसी टेंशन के वीडियो देखता है।
आज भारत में 1जीबी डाट की कीमत 5 रुपये से भी कम है। इसलिए अब लोग अपने मोबाइल और दूसरे डिवाइस में जमकर डाटा का कंज्मपशन कर रहा है।

वीडियो मार्केटिंग एनालिटिक फर्म Vidooly के सीईओ और को-फाउंडर Subrat Kar के मुताबिक 2016 से 2017 के बीच भारत में ऑनलाइन पॉर्न व्यूअरशिप में 75% का इजाफा हुआ है। इसके अलावा अब लोग पॉर्न साइट पर 60% अधिक टाइम खर्च कर रहे हैं। इसके अलावा एक जो बात सामने आई है उसमें पता चला है कि 80% एडल्ट कंटेंट शॉर्ट फॉर्म में देखा जाता है।

टेलीकॉम सेक्टर में जब से जियो ने एंट्री की थी तब से वॉयस कॉल लगभग फ्री हो गई है और डाटा की कीमत बेहद सस्ती हो गई है। जियो को टक्कर देने के लिए बाकी कंपनियों को भी इस प्राइस वॉर में कूदना पड़ा और उन्हें भी मजबूरन लोगों को सस्ता डाटा देना पड़ रहा है, जिससे भारत में लगातार डाटा कंज्मपशन बढ़ रहा है। डाटा को जहां डिजिटल इंडिया के लिए महत्वपूर्म माना जा रहा था वहीं इसका मिसयूज भी हो रहा है। हालांकि इसमें जियो की कोई गलती नहीं है। यह हमारे ऊपर है कि हम डाटा का किस तरह इस्तेमाल करते हैं।

इससे पहले भारत सरकार ने इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर्स कंपनियों को पिछले हफ्ते 827 पॉर्न साइट्स को बैन करने का निर्देश दिया था। जियो, एयरटेेल और वोडाफोन ने अपने नेटवर्क पर इन साइट्स को बंद भी कर दिया है। हालांकि एक रिपोर्ट यह भी थी कि ज्यादातर साइट्स अभी भी चाइनीज मोबाइल इंटरनेट कंपनी UCWeb’s UC ब्राउजर पर एक्सेसबल हैं।

  • Published Date: November 1, 2018 9:33 PM IST
  • Updated Date: November 18, 2018 9:20 AM IST