comscore प्रीपेड ग्राहकों को बकाया राशि लौटानी होगी परिचालन बंद करने वाली कंपनियों को | BGR India
News

प्रीपेड ग्राहकों को बकाया राशि लौटानी होगी परिचालन बंद करने वाली कंपनियों को

ट्राई जल्द ही एक ऐसी प्रणाली लाएगी जिसमें दूरसंचार कंपनियों को अपने प्रीपेड ग्राहकों को उनके खाते की बकाया राशि लौटानी होगी।

  • Updated: February 15, 2022 4:53 PM IST
TRAI

दूरसंचार नियामक ट्राई जल्द ही एक ऐसी प्रणाली लाएगा जिससे अपनी सेवा या परिचालन बंद करने वाली दूरसंचार कंपनियों को अपने प्रीपेड ग्राहकों को उनके खाते की बकाया राशि लौटानी होगी। भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकार ट्राई के चेयरमैन आर एस शर्मा ने पीटीआई भाषा को यह जानकारी दी। Also Read - 5G in India: सितंबर से ले सकेंगे सुपरफास्ट 5G सर्विस का आनंद, जानें 5 अहम बातें

Also Read - TRAI करेगा स्पेशल ऑडिट, मोबाइल नंबर पोर्टिंग में 'खेल' करने वाली कंपनियों पर गिरेगी गाज

उन्होंने कहा कि इस बारे में कई तरीकों पर विचार किया जा रहा है जिनमें से एक यह है कि ऐसी दूरसंचार कंपनियां अपने प्रीपेड ग्राहकों के खाते में बची राशि को सीधे उनके आधार सम्बद्ध बैंक खातें में डाल दे। Also Read - Truecaller जैसे ऐप्स की बंद होगी 'दुकान', अब अपने आप पता चलेगा फोन करने वाले का असली नाम

शर्मा ने कहा, ‘हमारा रुख पूरी तरह स्पष्ट है कि हम ऐसा तरीका निकाल लेंगे जिससे यह सुनिश्चित हो कि ग्राहकों को उनका पैसा वापस मिले। हम इसके लिए प्रक्रिया व प्रणाली तय करेंगे। इस बारे में विशेष दिशा निर्देश जारी किए जाएंगे।’

बता दें कि दूरसंचार नियामक ट्राई ने पिछले दिनों सुझाव दिया था कि दूरसंचार विभाग को एनसीएलटी की मंजूरी के बाद लाइसेंसों के विलय व स्थानांतरण को मंजूरी देने के लिए 30 दिन तक की निश्चित समयसीमा तय करनी चाहिए। नियामक ने अपने नये सुझावों में देश में दूरसंचार कारोबार के लिए नियमों के सरल बनाने पर जोर दिया है और कहा है कि इस क्षेत्र की छुपी हुई वृद्धि को बल देने के लिए इस तरह के उपाय जरूरी है।

भारतीय दूरसंचार नियामक व विकास प्राधिकार (ट्राई) ने कहा है, दूरसंचार विभाग को लाइसेंसों के स्थानांतरण या विलय को लिखित मंजूरी देने के लिए निश्चित समय सीमा तय करनी चाहिए जो कि राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण (एनसीएलटी) से मंजूरी के बाद 30 दिन से अधिक नहीं होनी चाहिए। इसे विलय व अधिग्रहण दिशा निर्देशों का हिस्सा बनाया जाना चाहिए।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: December 21, 2017 7:00 PM IST
  • Updated Date: February 15, 2022 4:53 PM IST



new arrivals in india