comscore
News

सेल्फ-ड्राइविंग कार से बढ़ेगी कार में सेक्स की घटनाएं!

स्टडी कहती है कि सेल्फ-ड्राइविंग टेक्नोलॉजी कार के अंदर सेक्स की घटनाओं को भी बढ़ावा देगी और यह प्रॉस्टिट्यूशन को भी बढ़ावा दे सकती है।

shuttle-self-driving-bus-london

एक नई स्टडी सामने आई है, जिसमें यह बताया गया है कि सेल्फ-ड्राइविंग कार कैसे सोसाइटी में बड़े बदलाव लेकर आएगी। स्टडी में इस नई टेक्नोलॉजी के कारण सोसाइटी में पड़ने वाले दुष्प्रभावों के ऊपर भी बात कही गई है। इसमें यह भी बताया गया है कि यह टेक्नोलॉजी न सिर्फ अरबन टूरिज्म इंडस्ट्री पर प्रभाव डालेगी बल्कि बाकी इंडस्ट्री पर भी इसका प्रभाव पड़ेगा।

स्टडी कहती है कि सेल्फ-ड्राइविंग टेक्नोलॉजी टूरिज्म इंडस्ट्री को पूरी तरह से बदल लेगी। एेसा इसलिए भी बोला जा रहा है क्योंकि सेल्फ-ड्राइविंग कार में पैसेंजर आराम से सो भी सकता है या इस बात से बेपरवाह भी रह सकता है कि ड्राइवर उसे सही जगह ले जा रहा है या नहीं।

स्टडी इस टेक्नोलॉजी से होने वाले कुछ बुरे असर की तरफ भी रोशनी डालती है। स्टडी कहती है कि सेल्फ-ड्राइविंग टेक्नोलॉजी कार के अंदर सेक्स की घटनाओं को भी बढ़ावा देगी और यह प्रॉस्टिट्यूशन को भी काफी बढ़ावा दे सकती है। इस कारण कई रेड-लाइट एरिया तेजी से बढ़ सकते हैं।

“Autonomous vehicles and the future of urban tourism” की एक स्टडी के मुताबिक, सेल्फ-ड्राइविंग कार एक तरह से कार को चलते फिरते प्राइवेट रूम की तरह बना देंगे और ये बात होटल और रेस्टोरेंट पर बुरा प्रभाव डालेगा। इस स्टडी को पहले Fast Company ने रिपोर्ट किया था, जो यह कहती है कि “लगभग 60 प्रतिशत अमेरिकन लोग कार में सेक्स कर चुके हैं”।

इस स्टडी में काम कर चुके एक रिसर्चर Scott Cohen ने कहा है कि बात यह नहीं है कि सेल्फ-ड्राइविंग कार का मालिक कार में खाना खाए, सोए या सेक्स करे, बल्कि महत्वपूर्ण प्रश्न यह है कि एेसा ‘कब’ होने वाला है। इस स्टडी में इस प्रश्न का उत्तर भी दिया गया है। इसमें एक अंदाजन टाइमलाइन दी गई है, जिसके मुताबिक, यह टेक्नोलॉजी 2040 तक हमारे आस-पास पूरी तरह से फैल जाएगी।

  • Published Date: November 13, 2018 9:07 PM IST