comscore
News

भारत में 4 हजार करोड़ निवेश करेगी ये चाइनीज स्मार्टफोन कंपनी, मेक इन इंडिया को मिलेगा बढ़ावा

इस निवेश के बाद वीवो का भारत में चीन के बाद दूसरा सबसे बड़ा मैन्यूफेक्चरिंग बेस हो जाएगा।

vivo-x23-symphony-edition-china-launch

चाइनीज स्मार्टफोन कंपनी वीवो भारत में निवेश करने जा रही है। वीवो की तैयारी भारत में 4 हजार करोड़ रुपए निवेश करना है। इकॉनोमिक टाइम्स के मुताबिक, वीवो अपने दूसरे ”मेक इन इंडिया” फेज के तहत भारत में 4 हजार करोड़ रुपए निवेश करने की तैयारी में है। इसमें भारत में वीवो के नए प्लांट के सेटअप में लगने वाला पैसा भी शामिल है।

वीवो इंडिया के डायरेक्टर (ब्रांड स्ट्रेटर्जी) निपुन मारिया ने इस बात की जानकारी दी है। इस निवेश के बाद वीवो का भारत में चीन के बाद दूसरा सबसे बड़ा मैन्यूफेक्चरिंग बेस हो जाएगा। अभी दक्षिण कोरिया की कंपनी सैमसंग की ही भारत में सबसे बड़ी मोबाइल फेक्ट्री है। सैमसंग ने नोएडा में 4,915 करोड़ रुपए निवेश किए हुए हैं। कंपनी ने जुलाई में नोएडा में मोबाइल फैक्ट्री का उद्घाटन किया था।


सैमसंग के बाद शाओमी का नंबर आता है। शाओमी अभी भारत में अपना विस्तार कर रही है। कंपनी थर्ड पार्टी असेंबलर्स के जरिए भारत में अपनी उपस्थिति को बढ़ा रही है। निपुन मारिया का कहना है कि वीवो 169 एकड़ में ग्रेटर नोएडा क्षेत्र में अपना प्लांट लगाएगी। यह कंपनी दूसरी फैसिलिटी होगी।

  • Published Date: November 30, 2018 9:10 AM IST