comscore जानें क्या है मोटो एक्स फोर्स की शटरशिल्ड तकनीक और कैसे करती है कार्य | BGR India
News

जानें क्या है मोटो एक्स फोर्स की शटरशिल्ड तकनीक और कैसे करती है कार्य

स्मार्टफोन निर्माता कंपनी मोटोरोला ने कल भारतीय बाजार में मोटो एक्स फोर्स

motorola-moto-x-force

स्मार्टफोन निर्माता कंपनी मोटोरोला ने कल भारतीय बाजार में मोटो एक्स फोर्स मॉडल को लॉन्च किया है। वैश्विक बाजार में इस फोन को ड्रॉयड टर्बो 2 का नाम दिया गया है। मोटो एक्स फोर्स विश्व का पहला फोन है​ जिसमें शटरशिल्ड डिसप्ले तकनीक का उपयोग किया गया है। Also Read - शटरप्रूफ डिसप्ले के साथ मार्केट में उपलब्ध हैं यह 5 शानदार स्मार्टफोन

भारतीय बाजार में मोटो एक्स फोर्स को 32जीबी और 64जीबी दो वैरियंट में लाॅन्च किया गया है जहां इनकी कीमत क्रमश: 49,999 रुपए और 53,999 रुपए है। मोटो एक्स फोर्स में 5.4-इंच का क्यूएचडी डिसप्ले दिया गया है। इसका स्क्रीन रेजल्यूशन 2560×1440 पिक्सल है। फोन को क्वालकाॅम स्नैपड्रैगन 810 आॅक्टाकोर चिपसेट पर पेश किया गया है और इसमें 3जीबी है मैमोरी उपलब्ध है। Also Read - The Big Freedom Sale का दूसरा दिन: एप्पल, सैमसंग, मोटोरोला के प्रोडक्ट पर मिल रहा है बंपर डिस्काउंट

स्मार्टफोन में 32जीबी, 64जीबी इंटरनल मैमोरी और क्वालकॉम चिपसेट आज आम हैं। कई फोन में ये स्पेसिफिकेशन देखने को मिले हैं। मोटोरोला मोटो एक्स फोर्स की सबसे बड़ी खासियत इसका शटरप्रूफ डिसप्ले है जो पहली बार देखने को मिला है। कंपनी का दावा है कि गिरने या फेंकने से फोन की स्क्रीन टूटेगी नहीं। फोन के डिसप्ले पर 4 साल तक की वारंटी दी गई है जो अपने आप में बहुत बड़ी बात कही जा सकती है। Also Read - 10 हजार से भी कहीं ज्यादा डिस्काउंट के साथ उपलब्ध हैं ये शानदार फ्लैगशिप डिवाइस

जानें क्या है गूगल का प्रोजेक्ट लून और कैसे गुब्बारे से मिलेगा इंटरनेट

पंरतु आपको मालूम है कि मोटोरोला मोटो एक्स फोर्स के डिसप्ले को किस खास तकनीक से तैयार किया गया है? मोटो एक्स फोर्स में उपयोग की गई शटरशिल्ड तकनीक का निर्माण और विकास मोटोरोला द्वारा ही किया गया है। स्क्रीन की मजबूती के लिए 5 लेयर डिसप्ले तकनीक का उपयोग किया गया है।

moto-shattershield-layers

मोटो एक्स फोर्स की स्क्रीन के सबसे उपरी लेयर में बेहद ही मजबूत लेंस का उपयोग किया गया है जिसे कंपनी ने एक्सटीरियर प्रोटेक्टिव लेंस का नाम दिया है। इसे मोटोरोला द्वारा खुद डिजाइन व निर्माण किया गया है। यह स्क्रीन को खरोंच या डेंट लगने (दबने या धंसने) से बचाता है।

स्क्रीन की दूसरी लेयर में एक पारदर्शी लेंस का उपयोग किया गया है जो आसानी से टूटता नहीं है। इस लेयर का नाम कंपनी ने इंटीरियर लेंस दिया है। इस तरह स्क्रीन की सुरक्षा के लिए उपर में दो बेहद ही मजबूत लेंस का उपयोग किया गया है।

तीसरी लेयर में डुअल टच तकनीक का उपयोग किया गया है। इसमें यदि एक टच-सेंसेटिव लेयर गिरने या किसी कारणवश कार्य करना बंद भी कर दे तो खुद ही दूसरा टच लेयर कार्य करना शुरू कर देता है। यह तकनीक आपको भरोसा दिलाती है कि यदि किसी कारणवश स्क्रीन को थोड़ा नुकसान भी होता है तो टचस्क्रीन बेपरवाह कार्य करता रहेगा।

जाने मोटोरोला के बनने और मिटने की कहानी

मोटोरोला मोटो एक्स फोर्स में चौथा लेयर डिसप्ले का है। कंपनी ने डिसप्ले को लचीला बनाया है। इसे य​दि थोड़ा बहुत झटका भी लगता है तो यह उसे सहन कर लेगा। वहीं अंतिम में डिसप्ले के लिए एल्यूमिनियम ढ़ांचे का उपयोग किया गया है। यह लेयर सभी लेयर को जोड़कर उसे मजबूती प्रदान करता है। इसी के साथ उसे लंबे समय तक टिके रहने का भरोसा भी दिलाता है।

फोन तोड़ने में भारत सबसे आगे, सेल्फी भी है इसका बड़ा कारण

इस तरह मोटोरोला की यह शटरप्रूफ तकनीक अपने आप में खास है और पहली बार इस तरह की कोशिश देखने को मिली है। इस दौरान कंपनी ने बेहद की रोचक जानकारी महुैया कराई। कंपनी के अनुसार विश्व भर में 50 फीसदी से भी ज्यादा लोग अब तक कम से कम एक बार अपने फोन की ​स्क्रीन तोड़ चुके हैं। वहीं स्क्रीन तोड़ने के मामले में भारत सबसे आगे है। यहां 65 फीसदी से भी ज्यादा मोबाइल उपभोक्ता अब तक एक बार अपने फोन की स्क्रीन तोड़ चुके हैं।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: February 2, 2016 4:26 PM IST
  • Updated Date: February 2, 2016 6:25 PM IST


You Might be Interested

Motorola Moto X Force

26999

Buy Now
Android 5.1.1 Lollipop
Qualcomm Snapdragon 810 with 2.0 GHz Octa-Core Processor
21 MP with Dual CCT Flash

new arrivals in india

Best Sellers