comscore सेल्फी के बाद कहीं 'Phubbing' का शिकार तो नहीं हुए आप? | BGR India
News

सेल्फी के बाद कहीं 'Phubbing' का शिकार तो नहीं हुए आप?

एक स्टडी के मुताबिक Phubbing आपको लेकर दूसरों की सोच को नकारात्मक बना सकती है।

college-students-using-mobile-stock-image

मोबाइल फोन में फ्रंट कैमरा आने से एक बड़ा बदलाव देखने को मिला था। लोगों के बीच अपनी खुद की और अपने साथ अपने दोस्तों की फोटो लेने का क्रेज छा गया। कुछ समय बाद इसे सेल्फी का नाम दिया गया। Also Read - Smartphone को सिक्योर रखने के लिए अपनाएं ये टिप्स, नहीं होगा कोई नुकसान

Also Read - Apple के लिए बढ़ी मुसीबत, EU सभी स्मार्टफोन के लिए एक ही चार्जर अनिवार्य करने की बना रहा योजना

Also Read - Micromax ln 2b और Micromax ln 2c फोन्स जल्द हो सकते हैं लॉन्च, Geekbench लिस्टिंग में सामने आए खास स्पेसिफिकेशन्स

अब चौबीसों घंटे अपने मोबाइल फोन से चिपके रहने वाले लोगों के लिए एक खबर आई है। ऐसे लोगों के लिए एक नया शब्द आया है जिसको ‘Phubbing’ कहते है। इसको दो शब्दों से जोड़ कर बनाया गया है, Phone + Snubbing, जिसमें फोन का मतलब तो आप जानते ही हैं और Snubbing का मतलब होता है अपमान करना। जो लोग  दोस्तों के साथ होते हुए भी फोन में लगे रहते हैं ये शब्द उन्ही लोगों के लिए है।

link-to-post url=”https://www.bgr.in/hi/the-best/5-best-cases-and-covers-for-oneplus-6-627595/”][/link-to-post]

मान लीजिए, आप किसी दोस्त, परिवार के किसी सदस्य या फिर अपने Office में किसी से बात कर रहे हैं और अचानक आपके फोन पर एक Message आता है, और आप उस Message का जवाब लिखने लगते हैं। इसके बाद अपना Social Media Account चेक करने लगते हैं, और सामने वाले व्यक्ति को नजरअंदाज करते हुए अपने फोन को देखने लग जाते हैं तब इसे ‘Phubbing’ कहा जाता है। वैसे देखा जाए तो Phubbing आपकी ही नहीं आजकल सबकी जिंदगी का एक अहम हिस्सा बन चुका है। इसको काफी हद तक सोशल मीडिया ऐप जैसे फेसबुक, इंस्टाग्राम, स्नैपचैट और टिंडर जैसी ऐप्स ने बढ़ावा दिया है।

Journal of Applied Social Psychology की एक Study के मुताबिक, जिन लोगों को “Phubbing” के दौरान नजरअंदाज किया जाता है, वो दूसरे के बारे में नकारात्मक सोचने लगते हैं। एक और रिसर्च के मुताबिक, किसी से बातचीत करने के दौरान, फोन का इस्तेमाल करने से सामने वाले व्यक्ति को ऐसा लगता है कि उसकी बात को नजरअंदाज किया जा रहा है और उसका अपमान किया जा रहा है।

यह शब्द दर्शाता है कि कैसे मोबाइल फोन टेक्नोलॉजी हमारी कल्चरल वैल्यू को खत्म करता जा रहा है। हम आपको यही सलाह देंगे कि आप जितना हो सके अपने आप को Phubbing का शिकार न होनेे दें और अपना फोन छोड़ कर जितना हो सके अपने परिवार और दोस्तों के साथ अच्छा समय बिताए।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: May 31, 2018 10:31 AM IST
  • Updated Date: May 31, 2018 7:09 PM IST



new arrivals in india

Best Sellers