comscore इस सरकारी वेबसाइट द्वारा लीक हुई Aadhaar डिटेल, करोड़ों लोगों की बढ़ी मुश्किलें
News

करोड़ों लोगों की बढ़ी मुश्किलें, इस सरकारी वेबसाइट द्वारा लीक हुई आधार डिटेल

PM Kisan योजना की वेबसाइट द्वारा करोड़ों किसानों का आधार डेटा लीक हो गया है। एक रिसर्चर द्वारा वेबसाइट के बग को स्पॉट किया गया है। डिटेल के लिए नीचे पढ़ें।

aadhaar card security

Aadhar Card हर भारतीय नागरिक के लिए बहुत जरूरी डॉक्यूमेंट होता है। इसके बिना सरकारी के साथ-साथ लोगों के कई प्राइवेट काम भी नहीं हो पाते हैं। आधार कार्ड में दिए गए डेटा का गलत इस्तेमाल करके कोई भी उनके साथ धोखाधड़ी कर सकता है, क्योंकि इस पर उनकी पर्सनल डिटेल जैसे नाम, पता होता है। Also Read - अब Aadhaar Card से ट्रैक होगी जन्म और मृत्यु, UIDAI करने वाली है दो बड़े बदलाव

आधार कार्ड डिटेल का लीक होना लोगों के लिए एक बड़ी समस्या का कारण बन जाता है। एक बार फिर कई लोगों को इस समस्या का सामना कर पड़ रहा है। Also Read - UIDAI का नया प्लान, अब घर बैठे मिलेगी आधार की हर सुविधा

एक सिक्योरिटी रिसर्चर की रिपोर्ट के अनुसार, भारत में कृषि क्षेत्र के कल्याण के लिए बनाई गई एक सरकारी वेबसाइट Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi योजना की वेबसाइट द्वारा एक बड़ी संख्या में किसानों का आधार डेटा लीक हुआ है। डिटेल में जानने के लिए नीचे पढ़ें।

Aadhaar Card की यह डिटेल हुई लीक

बग के कारण वेबसाइट का एक पार्ट प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लिए एनरोल्ड किसानों के आधार नंबर को दिखा रहा था। सिक्योरिटी रिसर्चर अतुल नायर ने मीडियम पर एक पोस्ट में कहा कि PM Kisan योजना की वेबसाइट के एक पार्ट के द्वारा पंजीकृत किसानों के आधार नंबर लीक हो रहे थे।

इस समस्या को पहली बार जनवरी के अंत में रिसर्चर द्वारा देखा गया और भारत की कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पांस टीम ( CERT-In) द्वारा रिपोर्ट किया गया था। रिपोर्ट के तुरंत बाद Nodal agency ने संबंधित अधिकारियों को डिटेल शेयर की गई।

हालांकि, एक्सपोजर को ठीक करने में कुछ महीने लग गए थे। नायर ने अपने पोस्ट में लिखा कि मई के अंत में इसको ठीक कर दिया गया था। CERT-In ने इस मुद्दे की रिपोर्ट करने के लिए रिसर्चर की सराहना की।

बता दें कि PM Kisan योजना की वेबसाइट को साल 2019 में लॉन्च किया गया था। इसने लगभग 110 मिलियन किसानों को रजिस्टर्ड किया है। इस वेबसाइट के जरिए सरकार Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi प्रोग्राम के तहत किसानों को मिलने वाले लाभ देती है।

पहले भी लीक हो चुका डेटा

ऐसा पहली बार नहीं हुआ है, जब किसी सरकारी वेबसाइट द्वारा आधार कार्ड की डिटेल लीक हुई है। साल 2019 में झारखंड सरकार द्वारा कथित तौर पर अपने हजारों वर्कर्स का यूनिक आइडेंटिफिकेशन नंबर लीक हुआ था।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: June 14, 2022 9:03 PM IST



new arrivals in india