comscore ई-कॉमर्स कंपनियों से डाटा चुरा कर ग्राहकों से ठगी के आरोपित गिरफ्तार | BGR India Hindi
News

ई-कॉमर्स कंपनियों से डाटा चुरा कर ग्राहकों से ठगी के आरोपित गिरफ्तार

पुलिस ने बताया कि आरोपियों के कब्जे से मोबाइल फोन, लैपटॉप, सिम कार्ड, फर्जी पैन कार्ड, आधार कार्ड, मतदाता पहचान पत्र और कई अन्य चीजें बरामद की गई हैं। इस मामले के सभी आरोपी बिहार और दिल्ली के रहने वाले हैं।

online-shopping

उपहार के नाम पर लोगों को ठगने वाले एक गिरोह के चार सदस्यों को पुलिस ने शुक्रवार को गिरफ्तार किया। कई नामी ई-कॉमर्स और टेली-मार्केटिंग कंपनियों के डेटा का उपयोग कर गिरोह लोगों को शिकार बनाता था। पुलिस ने बताया कि आरोपियों के कब्जे से मोबाइल फोन, लैपटॉप, सिम कार्ड, फर्जी पैन कार्ड, आधार कार्ड, मतदाता पहचान पत्र और कई अन्य चीजें बरामद की गई हैं। इस मामले के सभी आरोपी बिहार और दिल्ली के रहने वाले हैं।


दिल्ली पुलिस द्वारा जारी एक बयान के अनुसार गिरोह के दो सदस्य फरार हैं। एक  पीड़िता ने 13 नवंबर को शिकायत दर्ज कराई कि उसने आठ अक्टूबर को एक मोबाइल एप्लिकेशन के माध्यम से एक ई-कॉमर्स फर्म से 228 रुपये का एक उपकरण खरीदा था।

पीड़िता को 11 नवंबर को अपने मोबाइल नंबर पर एक संदेश मिला कि उसने ई-कॉमर्स फर्म से 6.90 लाख रुपये की कार जीता है। जिसके लिए पीड़िता को एक राष्ट्रीयकृत बैंक में 6,500 रुपये पंजीकरण शुल्क जमा करने के लिए कहा गया था। इसके बाद भी पीड़िता से अन्य रकम जमा कराई गई, लेकिन उसे उपहार नहीं मिला। ठगी का अहसास होने पर महिला ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई।

पिज्जा मंगाना पड़ा महंगा, 95 हजार रुपये का लगा चूना

Online Scam: कुछ दिनों पहले एक खबर सामने आई थी, जहां लखनऊ में रहने वाले एक व्यक्ति को ऑनलाइन फ्रॉड का शिकार होना पड़ा था। अब एक नई घटना सामने आई है, जहां बेंगलुरु के एक इंजीनियर को पिज्जा मंगवाना भारी पड़ा है। खबर है कि 1 दिसंबर को एक व्यक्ति ने ऑनलाइन फूड डिलीवरी ऐप के जरिए पिज्जा ऑर्डर किया था, जिसमें हैकर्स (Online scam) ने उसके 95,000 रुपये ठग लिए हैं।

पुलिस कर रही है जांच

पुलिस का कहना है कि मामले की जांच चल रही हैं। फूड डिलीवरी कंपनी के एक प्रवक्ता ने इस मामले में बताया है कि उनके पास कस्टमर्स के लिए कॉलिंग सर्विस सिस्टम है ही नहीं, बल्कि उनकी ऐप में कस्टमर्स सिर्फ चैट और ई-मेल के जरिए बात करते हैं। पीड़ित का कहना है कि वह अपनी मां के कैंसर के इलाज के लिए पैसे जमा कर रहा था। ऐसे में यह बेहद दुखद घटना है।

 

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें।

  • Published Date: January 8, 2020 9:45 AM IST
  • Updated Date: January 8, 2020 11:38 AM IST