comscore भारत में हो सकती है 5G फोन्स की किल्लत; Airtel, Jio और Vi ने बताई वजह
News

Airtel, Jio और Vi (Vodafone-Idea) का दावा- भारत में हो सकती है 5G फोन्स की किल्लत

मार्केट में 5G फोन्स की कमी टेलिकॉम कंपनियों के लिए परेशानी का कारण बन सकती है। इन सभी कंपनियों का फोकस लंबे वक्त से 5G टेक्नॉलजी है और ये सभी आने वाले 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी में करोड़ों रुपये इंवेस्ट करने की तैयारी कर रही हैं।

5G-Phone-Shortage

भारत में आने वाले समय में 5G फोन्स की किल्लत हो सकती है। Airtel, Jio और Vi (Vodafone-Idea) जैसी टेलीकॉम कंपनियों ने ऐसा दावा किया है। इसकी वजह 1 जनवरी 2023 से लागू होने वाले नए नियम को बताया गया है। दरअसल, अगले साल जनवरी से देश में किसी भी 5G स्मार्टफोन को बाजार में आने से पहले लोकल टेस्टिंग और सर्टिफिकेशन से गुजरना होगा। इसी नए नियम को लेकर टेलीकॉम कंपनियों ने 5G फोन्स की किल्लत होने की बात कही है। Also Read - सिर्फ 151 रुपये में मिलेगा 3 महीने तक का Disney+ Hotstar सब्सक्रिप्शन, जानें ऑफर

ET की खबर के मुताबिक, Department of Telecommunications (DoT) की टेक्निकल विंग Telecom Engineering Centre (TEC) ने अपनी एक इंटरनल मीटिंग में फैसला किया है कि 5G मोबाइल फोन्स को Mandatory Testing & Certification of Telecom Equipment (MTCTE) कंट्रोल के फेज 5 के तहत लाया जाएगा। यह फेज अगले साल जनवरी से शुरू होगा। Also Read - खुशखबरी! Jio इन यूजर्स को फ्री दे रहा 1.5GB डाटा और अनलिमिटिड कॉलिंग, जानें ऑफर

इसी को लेकर Airtel, Jio और Vodafone-Idea (Vi) ने DoT से कहा है कि 5G फोन्स को MTCTE फेज 5 के तहत लाने से मार्केट में 5G फोन्स की किल्लत हो सकती है। इससे भारतीय कस्टमर्स लेटेस्ट 5G फोन्स को नहीं खरीद पाएंगे और देश में डेटा की खपत भी कमी हो जाएगी। Also Read - Vi Data Delight ऑफर के तहत फ्री मिल रहा 2GB डाटा, ऐसे उठाएं ऑफर का फायदा

टेलीकॉम कंपनियों को क्यों परेशानी?

मार्केट में 5G फोन्स की कमी टेलीकॉम कंपनियों के लिए परेशानी का कारण बन सकती है। इन सभी कंपनियों का फोकस लंबे समय से 5G टेक्नोलॉजी पर है। ये कंपनियां आने वाले 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी में करोड़ों रुपये इंवेस्ट करने की तैयारी कर रही हैं। यह नीलामी इसी साल मई-जून में हो सकती है। इसके बाद Airtel, Jio और Vodafone-Idea देश में 5G नेटवर्क रोल-आउट कर सकते हैं।

ET के मुताबिक, Cellular Operators Association of India (COAI) ने टेलीकॉम सेक्रेटरी K Rajaraman को भेजे हुए लेटर में इस नए नियम को लागू न करने की दरख्वास्त की है। COAI में Reliance Jio, Bharti Airtel और Vodafone-Idea जैसी टेलीकॉम कंपनियां हैं। साथ ही Apple, Google जैसी ग्लोबल टेक कंपनियां और Nokia, Ericsson और Huawei जैसे OEM भी इसमें शामिल हैं।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: March 21, 2022 1:35 PM IST
  • Updated Date: March 21, 2022 3:59 PM IST



new arrivals in india