comscore Amazon और Flipkart को ग्राहकों को बताना होगा किस देश में बना है सामान | BGR India Hindi
News

Amazon और Flipkart को ग्राहकों को बताना होगा किस देश में बना है सामान

डीपीआईआईटी ने इसकी शुरुआत करने के लिए ई-कॉमर्स कंपनियों के लिए एक अगस्त की समय सीमा का सुझाव दिया है। यानी एक अगस्त से ई-कॉमर्स प्लेटफार्म पर जो भी उत्पाद बेचे या सूचीबद्ध किए जाएंगे, उनके स्रोत देश के बारे में जानकारी देनी होगी। हालांकि ई-कॉमर्स कंपनियों ने सरकार से इसके क्रियान्वयन के लिए थोड़ा और समय मांगा है।

amazon flipkart

सरकार के अंदर इस बात को लेकर सहमति बन गई है कि Flipkart, Amazon India जैसी ई-कॉमर्स कंपनियों को अपने मार्केटप्लेस पर मौजूद उत्पादों के स्रोत देश का जिक्र करना होगा। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के अधीन आने वाले डीपीआईआईटी ने ई-कॉमर्स कंपनियों से कहा है कि उनके प्लेटफार्म पर उपलब्ध उत्पादों के बारे में जानकारी मुहैया कराना अनिवार्य होगा कि वे कहां से आए हैं या कहा से बने हुए हैं, या उनका स्रोत देश कौन-सा है। डीपीआईआईटी ने आज इस मुद्दे पर ई-कॉमर्स कंपनियों के साथ एक बैठक की। Also Read - Lenovo Legion गेमिंग स्मार्टफोन इस तारीख को होगा लॉन्च, ROG Phone 3 से होगा मुकाबला

सूत्रों के अनुसार, डीपीआईआईटी ने इसकी शुरुआत करने के लिए ई-कॉमर्स कंपनियों के लिए एक अगस्त की समय सीमा का सुझाव दिया है। यानी एक अगस्त से ई-कॉमर्स प्लेटफार्म पर जो भी उत्पाद बेचे या सूचीबद्ध किए जाएंगे, उनके स्रोत देश के बारे में जानकारी देनी होगी। हालांकि ई-कॉमर्स कंपनियों ने सरकार से इसके क्रियान्वयन के लिए थोड़ा और समय मांगा है। सूत्रों के अनुसार, ई-कॉमर्स कंपनियों ने सरकार के कदम को स्वीकार करने की बात की, लेकिन इसे लागू करने के लिए थोड़ी मोहलत मांगी है। Also Read - Xiaomi Redmi Note 9 स्मार्टफोन 20 जुलाई को होगा लॉन्च, जानें कीमत और स्पेसिफिकेशंस

यह कदम ऐसे समय में सामने आया है, जब पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में एलएसी पर चीनी सैनिकों के साथ संघर्ष में 20 भारतीय जवानों के शहीद होने के बाद से देश में चीनी सामानों पर प्रतिबंध लगाने की मांग ने जोर पकड़ लिया है। Also Read - Asus ROG Phone 3 स्मार्टफोन दमदार स्पेसिफिकेशंस के साथ भारत में इस दिन होगा लॉन्च, कंपनी ने किया कंफर्म

ग्राहकों को जागरुक करेगी फ्लिपकार्ट

ई-वाणिज्य कंपनी फ्लिपकार्ट अपने वीडियो स्ट्रीमिंग मंच पर भ्रामक सामग्री के प्रति जागरुकता का कार्यक्रम ‘फेक ऑर नॉट?’ शुरू करने जा रहा है। फ्लिपकार्ट ने कहा है कि यह कार्यक्रम संयुक्तराष्ट्र द्वारा चलाए जा रहे ‘वेरिफाइड’ अभियान के समर्थन में शुरू किया गया है। कंपनी ने एक आधिकारिक बयान में कहा कि विभिन्न सोशल मीडिया मंचों पर प्रसारित हो रही वायरल सामग्री में से लोगों को सही और गलत की पहचान में मदद करने के उद्देश्य से यह कार्यक्रम तैयार किया गया है।


बुधवार से प्रसारित होने वाले इस कार्यक्रम में फिल्म जगत से जुड़ी कलाकार मल्लिका दुआ एंकर की भूमिका में होंगी। दुआ हल्के-फुल्के अंदाज में लोगों को भ्रामक जानकारियों के बारे में सचेत करेंगी। बयान में दुआ के हवाले से कहा गया है कि “आजकल सोशल मीडिया पर वायरल हो रही सामग्री के कारण लोग आसानी से गलत सूचना का शिकार हो जाते हैं। ’’

 

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें।

  • Published Date: July 9, 2020 1:43 PM IST



new arrivals in india

Best Sellers