comscore Apple की नई पॉलिसी: बंद होगी ऐप डेवलपर्स की मनमानी, यूजर्स को मिलेगी पावर
News

Apple की नई पॉलिसी: 30 जून से बंद होगी ऐप डेवलपर्स की मनमानी, यूजर्स के हाथ में स्पेशल 'पावर'

एप्पल ऐप स्टोर (Apple App Store) की नई पॉलिसी 30 जून से प्रभावी हो जाएंगी। जिसके लागू होने के बाद से पेड सर्विस प्रोवाइड करने वाले ऐप्स को यूजर अकाउंट डिलीट करना आसान बनाना होगा।

Apple-App-Store

Apple App Store की नई पॉलिसी 30 जून से लागू हो जाएगी। इस नई पॉलिसी के लागू होने के बाद यूजर्स को अपने निजी डेटा को सुरक्षित रखने के लिए स्पेशल पावर मिल जाएगी। साथ ही, ऐप डेवलपर्स की मनमानी बंद हो जाएगी। पिछले साल आयोजित WWDC 2021 में एप्पल ने ऐप स्टोर की पॉलिसी में होने वाले बदलाव के बारे ऐप डेवलपर्स में बताया था। एप्पल ऐप स्टोर की नई पॉलिसी (New App Store Policy) के लागू होने के बाद से पेड सर्विस प्रोवाइड करने वाले ऐप्स को यूजर अकाउंट डिलीट करना आसान बनाना होगा। Also Read - 12MP+12MP+12MP कैमरा, A15 Bionic चिपसेट और OLED डिस्प्ले वाले iPhone 13 Mini को सस्ते में खरीदने का सुनहरा मौका, Flipkart पर मिल रहा बंपर Discount

इस साल 6 जून से WWDC 2022 शुरू होने वाली है। इस इवेंट में एप्पल कई नए अनाउंसमेंट्स कर सकता है। हालांकि, फिलहाल Apple WWDC 2022 में होने वाले अनाउंसमेंट्स के बारे में डिटेल सामने नहीं आई है, लेकिन कुछ लीक रिपोर्ट्स के मुताबिक, नए iOS वर्जन की घोषणा की जा सकती है। Also Read - Apple नहीं बना पाया खुद का 5G मॉडम, 2023 iPhone में भी होगा Qualcomm का चिप

Also Read - Apple Back to School Offer: एप्पल फ्री में दे रहा AirPods, iPad और Macbook पर भी मिल रहा भरपूर Discount

Apple ने WWDC 2022 के शुरू होने से पहले ऐप डेवलपर्स को पिछले साल अनाउंस किए गए ऐप स्टोर पॉलिसी में बदलाव के बारे में आगाह करना शुरू कर दिया है।

30 जून से पॉलिसी में होंगे दो बड़े बदलाव

30 जून से एप्पल ऐप स्टोर (Apple App Store) में दो बड़े बदलाव किए जाएंगे, जिनमें पेड ऑनलाइन ग्रुप सर्विस प्रोवाइड कराने वाले ऐप्स को इन-ऐप पेमेंट सिस्टम इस्तेमाल करना होगा। इसके अलावा ऐप डेवलपर्स के लिए यह अनिवार्य होगा कि वो यूजर को अकाउंट पूरी तरह से डिलीट करने की आजादी दे, ताकि सर्विस ऑप्ट आउट करने के बाद यूजर्स अपना अकाउंट पूरी तरह से डिलीट कर सके।

पूरी तरह से अकाउंट डिलीट करने की सुविधा मिलने के बाद यूजर अपने निजी डेटा को ऐप डेवलपर्स के डेटाबेस से डिलीट कर सकेंगे। जिससे यूजर डेटा के लीक होने की गुंजाइश खत्म हो जाएगी। नई पॉलिसी के प्रभाव में आने के बाद यूजर ऐप डेवलपर्स के पास स्टोर किए हुए निजी डेटा को भी डिलीट कर सकेंगे।

यूजर का निजी डेटा रहेगा सुरक्षित

आम तौर पर किसी भी ऐप या सर्विस को यूज करने के लिए यूजर्स को कुछ निजी जानकारियां सर्विस प्रोवाइडर्स को देनी पड़ती हैं, जिनमें ई-मेल अड्रेस, फोन नंबर, नाम, अड्रेस, आयु आदि शामिल हैं।

अकाउंट डिसेबल होने के बाद यूजर की ये जानकारियां ऐप डेवलपर्स के पास स्टोर रहती हैं, जिनके लीक होने की संभावना बनी रहती है। पूरी तरह से अकाउंट डिलीट करने के बाद यूजर की ये निजी जानकारियां ऐप डेवलपर्स के पास से भी डिलीट हो जाएंगी।

Apple लंबे समय से अपनी यह नई पॉलिसी लागू करना चाह रहा था, लेकिन 2020 में Facebook ने एप्पल की इस पॉलिसी का विरोध किया था। हालांकि, इसके बाद एप्पल पिछले साल पॉलिसी में हुए बदलाव को लागू करने का मन बनाया था, लेकिन लागू नहीं कर पाया। अब 30 जून को ऐप स्टोर की पॉलिसी में हुए ये बदलाव लागू होने वाले हैं, जो यूजर्स को ऐप में अकाउंट डिलीट करने का आसान विकल्प उपलब्ध कराएगा।

Apple App Store अकाउंट डिलीट करने वाली नई पॉलिसी

– ऐप डेवलपर्स को यूजर के लिए ऐप में अकाउंट डिलीट करने ऑप्शन उपलब्ध कराना होगा, जो आसानी से विजिबल हो।
– अगर, ऐप Apple के साथ साइन-इन ऑफर कर रहा है, तो यूजर को Apple REST API के साथ साइन-इन ऑप्शन मिले, ताकि अकाउंट डिलीट करते समय यूजर टोकन रिवोक करना आसान हो सके यानी अकाउंट डिलीट करते समय निजी डेटा डेटाबेस से हटाया जा सके।
– ऐप डेवलपर्स के लिए यूजर अकांउट को टेम्पोररी यानी कुछ समय के लिए डिसेबल करने या डिएक्टिवेट कराना पर्याप्त नहीं होगा। उन्हें यूजर को निजी डेटा के साथ अकाउंट डिलीट करने का विकल्प उपलब्ध कराना होगा।
– एप्पल यूजर को अकाउंट डिलीट करने के लिए एडिशनल कस्टमर सर्विस भी उपलब्ध कराएगा।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: May 25, 2022 11:10 AM IST



new arrivals in india