comscore Apple App Store पर अभी भी मौजूद हैं खतरनाक ऐप्स, वजह कर देगी हैरान
News

Apple App Store पर अभी भी मौजूद हैं खतरनाक ऐप्स, वजह कर देगी हैरान

VPN Check का तर्क है कि Apple धोखाधड़ी से कमाई करने वाले ऐप्स से भी अपना हिस्सा पाता है। अगर यह ऐसे ऐप्स को बंद कर देता है तो इसकी कमाई में भी कटौती हो जाएगी

Apple-App-Store

आम तौर पर ऐसा माना जाता है कि गूगल प्ले स्टोर के मुकाबले एप्पल ऐप स्टोर ज्यादा सिक्योर है। मगर एप्पल के स्टोर पर भी कई बार यूजर को नुकसान पहुंचाने वाले ऐप्स मिल चुके हैं और अब एक नई खबर यह दावा करती है कि Apple App Store उतना भी सेफ नहीं है, जितना हमें लगता है। Also Read - Apple के iOS और macOS में आया नया अपडेट, लाइव स्पोर्ट्स को कर पाएंगे कंट्रोल

VPN Check के साइबर सिक्योरिटी रिसर्चर्स के मुताबिक, ऐसे दर्जनों iOS ऐप्स एप्पल के मोबाइल ऐप रिपॉजिटरी में डाउनलोड करने के लिए उपलब्ध रहे हैं, जिनके खतरनाक होने के बारे में महीनों पहले ही पता चल चुका था। आइए इस बारे में डिटेल में जानते हैं। Also Read - Apple iPhone और iPad का नया सॉफ्टवेयर रिलीज, मिलेगा लाइव स्पोर्ट पॉज करने का फीचर

Apple App Store पर खतरनाक iOS ऐप्स

VPN Check के मुताबिक, एंटीवायरस फर्म Avast ने मूल रूप से मार्च 2021 में Apple App Store पर 133 धोखाधड़ी वाले ऐप्स पाए। कंपनी ने इन निष्कर्षों का खुलासा Apple को किया। हालांकि, शुरुआती निष्कर्षों के एक साल से अधिक समय के बाद, VPN Check का कहना है कि उनमें से 84 ऐप अभी भी स्टोर पर ऐक्टिव हैं और डाउनलोड किए जा सकते हैं। Also Read - Apple iPhone 14 Max के लॉन्च में हो सकती है देरी, जानें वजह

इन ऐप्स में फोटो और वीडियो एडिटर, वॉलपेपर ऐप, राशिफल ऐप, फोन क्लीनर और नकली एंटीवायरस ऐप और इसी तरह के दूसरे प्रोडक्ट शामिल हैं।

छिपी हुई फीस

Avast द्वारा साझा की गई लिस्ट में सभी ऐप्स मालवेयर या वायरस नहीं हैं। खबर के मुताबिक, हो सकता है कि ये ऐप्स डेटा चोरी करने, डैमेज करने या फिर उस अंतिम बिंदु को नष्ट करने का प्रयास न करें जिसे वे संक्रमित कर रहे हैं।

मगर ये विक्टिम के लिए अतिरिक्त लागत पेश कर रहे हैं, जिनमें छिपी हुई फीस, प्रीमियम मेम्बरशिप या ऐसे ही दूसरे सिस्टम शामिल होते हैं। VPN Check का कहना है कि ये ऐप हर साल ऐसे स्कैम के जरिए यूजर्स का कमज-कम 100 मिलियन डॉलर का नुकसान कर रहे हैं।

क्यों नहीं हो रही कार्रवाई

VPN Check एप्पल को ऐसे मलिशस ऐप्स को न हटाने के लिए दोषी मान रही है। इसका कहना है कि कंपनी ऐसे ऐप्स पर तेजी से कार्रवाई करने से इनकार करती है।

इस सिक्योरिटी फर्म का तर्क है कि एप्पल धोखाधड़ी से कमाई करने वाले ऐप्स से भी अपना हिस्सा पाता है। अगर यह ऐसे ऐप्स को बंद कर देता है तो इसकी कमाई में भी कटौती हो जाएगी और यह एक पूरी रेवेन्यू स्ट्रीम खो देगा। इसने कहा, “इस समस्या को हल करना, शायद एप्पल के हित में नहीं है।”

कंपनी आगे कहती है, “मोबाइल फोन बाजार संतृप्त होने के साथ, ऐप स्टोर में बड़ी रकम तेजी से अर्जित की जा रही है। और स्कैम ऐप्स बेहतरीन क्लाइंट हैं। वे स्पष्ट रूप से अपने घोटालों के माध्यम से बहुत पैसा कमाते हैं, जिनमें से Apple को इसकी कटौती मिलती है। साथ ही, ऐप डेवलपर उस पैसे का बहुत सारा पैसा ऐप स्टोर पर विज्ञापन चलाने पर खर्च करते हैं जो एप्पल की जेब में जाता है।”

एप्पल ने अभी इस बारे में कोई जवाब नहीं दिया है।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: July 13, 2022 11:40 AM IST



new arrivals in india