comscore Bharat Drone Mahotsav 2022: पीएम मोदी ने किए कई बड़े ऐलान, कहा- ड्रोन टेक्नोलॉजी में भारत बनेगा 'विश्व गुरु'
News

Bharat Drone Mahotsav 2022: पीएम मोदी ने किए कई बड़े ऐलान, कहा- ड्रोन टेक्नोलॉजी में भारत बनेगा 'विश्व गुरु'

Bharat Drone Mahotsav 2022 का उद्घाटन आज पीएम मोदी ने किया है। पीएम ने 270 ड्रोन स्टार्ट-अप्स और 150 ड्रोन पायलट्स को सर्टिफिकेट दिए। आइए हम आपको बताते हैं कि पीएम मोदी ने Drone Technology के बारे में क्या-क्या कहा।

Drone F

Drone Festival Of India


आज दिल्ली के प्रगित मैदान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत ड्रोन महोत्सव का उद्घाटन किया और ड्रोन टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में हुई प्रगति और फ्यूचर प्लान के बारे में काफी विस्तृत जानकारी दी है। प्रधानमंत्री मोदी से पहले भारत के नागरिक उड्डयन मंत्री (Minister of Civil Aviation) ज्योतिराज सिंधिया ने ड्रोन महोत्सव 2022 की शुरुआत की और बताया कि पिछले कुछ सालों में इंटरनेट और टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में भारत में काफी तरक्की की है। Also Read - Snapchat ने लॉन्च किया उड़ने वाला एक 'छोटू और धांसू' कैमरा, इसके फीचर्स जानकर दंग रह जाएंगे आप

उन्होंने बताया कि भारत ड्रोन टेक्नोलॉजी में काफी तेजी से आगे बढ़ रहा है और जल्द ही भारत विश्व स्तर पर इस मामले में सबसे आगे होगा। ड्रोन के जरिए हर क्षेत्रों में फायदा मिल सकता है। Bharat Drone Mahotsav 2022 में 270 ड्रोन का स्टार्ट-अप हुआ है, जिसका सर्वेक्षण भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया है। इसके अलावा पीएम मोदी ने 150 ड्रोन पायलट को सर्टिफिकेट भी प्रदान किए। आइए हम आपको भारत ड्रोन महोत्सव 2022 की बड़ी बाते बताते हैं। Also Read - Twitter Moments 2021: Virat Kohli के इस ट्वीट को किया गया सबसे ज्यादा लाइक, देखें पूरी लिस्ट

नागरिक उड्डयन मंत्री ने भारत ड्रोन महोत्सव पर क्या कहा

Drone Festival India 2022

Image: Narendra Modi Youtube

  • प्रधानमंत्री ने 270 ड्रोन स्टार्ट-अप का सर्वेक्षण किया
  • आने वाले समय में लाखों ड्रोन स्टार्ट-अप शुरू होंगे होंगे
  • अगले 3 साल में ड्रोन उत्पादन के क्षेत्र में 10 हजार रोजगार के अवसर पैदा होंगे।
  • अगले 3 साल में सर्विस के क्षेत्र में 5 लाख से ज्यादा रोजगार के अवसर पैदा होंगे।
  • ड्रोन के लिए पूरे भारत का सर्वेक्षण किया गया।
  • भारत सरकार ने ड्रोन के लिए एक महीन के अंदर एयर स्पेस रिलीज किया है।

ड्रोन एयरस्पेस को तीन कैटेगरी में बांटा गया

लाल रंग – जहां ड्रोन नहीं चल सकता Also Read - WhatsApp Alternative Sandes App को कैसे करें Use? यहां जानें स्टेप-बाय-स्टेप पूरा तरीका

पीला रंग – जहां सीमित क्षेत्रों में चल सकता है

हरा रंग – जहां फ्री होकर चल सकता है

ड्रोन टेक्नोलॉजी की मुख्य बातें

  • भारत में 70 प्रतिशत से ज्यादा ग्रीन क्षेत्र वाले एरिया
  • मुंबई में ड्रोन का इस्तेमाल क्राउड मॉनिटरिंग के लिए किया जाता है
  • ड्रोन का इस्तेमाल सोनीपत में पेट्रोलियम की पाइपलाइन पर नजर रखने के लिए भी किया जा रहा है
  • ड्रोन के जरिए मणिपुर के पहाड़ी क्षेत्रों में कोविड के वैक्सीन पहुंचाए गए
  • Drone Mappings के क्षेत्र में काफी बढ़िया काम कर रहा है, जिसकी मदद से पीएम स्वामित्त योजना के जरिए गांव में किसानों की जमीनों पर चल रहे सालों के विवाद को सुलझाया जा रहा है और उनकी जमीन का हक उन्हें वापस मिल रहा है
  • खेती को बेहतर करने के लिए भी इसका यूज किया जाता है
  • 2026 का ड्रोन की इंडस्ट्री 15,000 करोड़ की हो जाएगी
  • ड्रोन के मामले में भारत 2030 तक बनेगा विश्व गुरु
  • ड्रोन टेक्नोलॉजी में अग्रीम देश बनना है – प्रधानमंत्री
  • जल्द ही बहुत सारे ड्रोन ट्रेनिंग स्कूल्स खोले जाएंगे।
  • 150 ड्रोन पायलट को मोडी ने सर्टिफिकेट प्रदान किया।

पीएम मोदी ने भारत ड्रोन महोत्सव पर क्या कहा

Drone Mahotsav 2022

Image: Narendra Modi Youtube

ड्रोन टेक्नोलॉजी में भारत के युवाओं ने काफी शानदार काम किया है। मोदी जी ने कहा कि मेक इन इंडिया के तहत ड्रोन टेक्नोलॉजी में भारत ने काफी बढ़िया काम किया है। प्रधानमंत्री मोदी ने 150 ड्रोन पायलट समेत ड्रोन टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में काम कर रहे सभी लोगों को शुभकामनाएं और बधाई दी।

मोदी ने कहा कि, भारत ड्रोन टेक्नोलॉजी में दुनिया के सबसे बड़े एक्सपर्ट बनने की ओर आगे बढ़ रहा है। भारत में ड्रोन टेक्नोलॉजी काफी तेजी से आगे बढ़ रही है, और इसे देखकर लगता है कि यह भारत में एक बड़े और भारी मात्रा में रोजगार पैदा कर सकता है।

  • भारत में खेती, खेल, सेना, मीडिया, टूरिज्म समेत हरेक क्षेत्रों में ड्रोन का इस्तेमाल बढ़ने वाला है।
  • इसका उपयोग सिर्फ शहरी क्षेत्रों और अमीर आबादी वाले लोगों के लिए ही नहीं बल्कि ग्रामीण क्षेत्रों और गरीब लोगों के बीच भी किया जाएगा।
  • ड्रोन की मदद से अभी तक देश में 65 लाख प्रोपर्टी कार्ड जनरेट हो चुके हैं।
  • पीएम मोदी ने कहा कि हमारे किसान ड्रोन टेक्नोलॉजी की तरफ तेजी से आकर्षित हो रहे हैं।
  • किसान खेती में ड्रोन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करना चाह रहे हैं।
  • ड्रोन की मदद से छोटे किसानों की तरक्की सुनिश्चित होगी।
  • ड्रोन टेक्नोलॉजी के जरिए पुलिस विभाग को भी काफी मदद मिलेगी।

मोदी ने कहा कि भारत सरकार का लक्ष्य है कि भारत के हरेक नागरिक के हाथों में स्मार्टफोन हो और वो ड्रोन समेत तमाम आधूनिक टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर सके। PM Modi ने भारत के सभी इंजीनियर्स और सरकारी अधिकारियों से अनुरोध किया कि वो भारत में ड्रोन टेक्नोलॉजी को आगे बढ़ाने में काम करें। वहीं युवाओं से ड्रोन टेक्नोलॉजी में स्टार्ट-अप करने का भी आग्रह किया।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: May 27, 2022 12:57 PM IST



new arrivals in india