comscore Cryptocurrency: यह मालवेयर खाली कर देगा Crypto Wallet, जानें कैसे रहें सेफ
News

Cryptocurrency: यह मालवेयर खाली कर सकता है आपका Crypto Wallet, जानें कैसे रहें सेफ

एक बार BHUNT मालवेयर आपके सिस्टम में पहुंच जाता है तो यह PC में स्टोर आपके Exodus, Electrum, Atomic, Etherium, Bitcoin, Litcoin, Jaxx जैसे क्रिप्टो वॉलेट पर हमला करता है।

Crypto Wallet

Image for representation only (Source: Pixabay/Shutter_Speed)


Cryptocurrency को स्टोर करने के लिए फिजिकल वॉलेट के साथ-साथ हॉट वॉलेट भी इस्तेमाल की जाती हैं। इन Crypto Wallet में सिक्योरिटी फ्रेज के पीछे यूजर्स की हजारों-लाखों रुपये के Crypto Token और Coins स्टोर होते हैं। मगर साइबर क्रिमिनल्स ने अब इन वॉलेट को निशाना बनाना शुरू कर दिया है। Also Read - Crypto Market Today (26 May 2022): Bitcoin की वैल्यू में अब आ रहा ठहराव, TopChain (TOPC) में हुई 176.70% की बढ़ोतरी

साइबर सिक्यूरिटी फर्म Bitdefender ने अपनी नई रिपोर्ट में कहा है कि साइबर अपराधी अब यूजर्स के Crypto Wallet की सामग्री, पासवर्ड और सिक्योरिटी फ्रेज की चोरी कर रहे हैं, जिन्हें उपयोगकर्ताओं अपने PC पर स्टोर करते हैं। बिटडिफेंडर के अनुसार, इस चोरी को अंजाम देने के लिए BHUNT मालवेयर को इस्तेमाल किया जा रहा है। आइए जानते हैं कि यह मालवेयर कैसे काम करता है और आप इससे कैसे बच सकते हैं। Also Read - Crypto Market Today (26 May 2022): Terra Classic (LUNA) में एक बार फिर देखने को मिली गिरावट, Pixel Swap (PIXEL) में हुई 303.54% की बढ़ोतरी

Crypto Wallet से चोरी कर रहा BHUNT मालवेयर

Crypto Wallet एक सिक्योरिटी फ्रेज के जरिए लॉक किए जाते हैं। इस फ्रेज के बिना क्रिप्टो ओनर भी अपने वॉलेट को एक्सेस नहीं कर सकते। यही फ्रेज इन वॉलेट की “प्राइवेट की” होती है जो इन्हें सिक्योर बनाती है। डेस्कटॉप वॉलेट इन “प्राइवेट कीज” को PC की हार्ड ड्राइव या SSD पर रखते हैं, जिसकी वजह से ये वेब या मोबाइल वॉलेट से ज्यादा सिक्योर माने जाते हैं। मगर BHUNT मालवेयर आपके PC पर हमला करके इन सिक्योरिटी फ्रेज को एक्सेस कर सकता है। Also Read - Crypto Market Today (25 May): इस Cryptocurrency ने आज मारी 1500% ऊंची छलांग

Bitdefender का कहना है कि BHUNT मालवेयर यूजर के कंप्यूटर में पायरेटेड सॉफ्टवेयर के जरिए प्रवेश करता है। ये पायरेटेड सॉफ्टवेयर अक्सर टोरेंट के जरिए या मलिशियस वेबसाइट्स से डाउनलोड किए जाते हैं। एक बार इन सॉफ्टवेयर के साथ यह मालवेयर आपके सिस्टम में पहुंच जाता है तो यह PC में स्टोर आपके Exodus, Electrum, Atomic, Etherium, Bitcoin, Litcoin, Jaxx जैसे क्रिप्टो वॉलेट पर हमला करता है। रिपोर्ट का कहना है कि यह मालवेयर इन वॉलेट में मौजूद क्रिप्टोकरेंसी को दूसरे वॉलेट में ट्रांसफर कर सकता है।

Cryptocurrency के साथ पासवर्ड भी चोरी

बिटडेफेंडर की रिपोर्ट का कहना है कि BHUNT मालवेयर मुख्य रूप से क्रिप्टोकरेंसी वॉलेट से संबंधित जानकारी चोरी करने पर केंद्रित है मगर यह ब्राउजर में स्टोर आपके पासवर्ड और कुकीज भी चोरी कर सकता है। यह मालवेयर आसानी से आपके सोशल मीडिया, बैंकिंग और दूसरे पासवर्ड चुरा सकता है। साइबर क्रिमिनल द्वारा इस जानकारी का इस्तेमाल आइडेंटिटी टेकओवर के लिए भी किया जा सकता है।

कितना खतरनाक है BHUNT?

Bitdefender का कहना है कि इस मालवेयर को जो चीज खतरनाक बनाती है वह है इसका एन्क्रिप्टेड और डिजिटल रूप से हस्ताक्षरित सॉफ्टवेयर के रूप में पैक होना। इसकी वजह से यूजर का कंप्यूटर मालवेयर का पता नहीं लगा पाता। सिक्योरिटी फर्म ने कहा:

“हमारे सभी टेलीमेट्री होम यूजर्स से आए हैं जिनके सिस्टम पर क्रिप्टोकरेंसी वॉलेट सॉफ्टवेयर स्टोर होने की अधिक संभावना है। इस टारगेट ग्रुप की ऑपरेटिंग सिस्टम सॉफ्टवेयर के लिए क्रैक इंस्टॉल करने की अधिक संभावना है, जो हमें संदेह है कि इन्फेक्शन का मेन सोर्स है।”

इस मालवेयर का दुनिया भर में पता चला है और इसके सबसे ज्यादा टारगेट भारत पाए गए हैं। इंडिया के बाद इस मालवेयर के अटैक लिस्ट में ऑस्ट्रेलिया, मिस्र, जर्मनी, इंडोनेशिया, जापान, मलेशिया, नॉर्वे, सिंगापुर, दक्षिण अफ्रीका, स्पेन और अमेरिका जैसे देश हैं।

कैसे बचना है इस मालवेयर से

BHUNT से संक्रमित होने से बचने के लिए, सिक्योरिटी फर्म नोट करती है कि उपयोगकर्ताओं को पायरेटेड सॉफ्टवेयर, क्रैक और इल्लीगल प्रोडक्ट्स को डाउनलोड करने से बचना चाहिए।

इसी तरह का केस पिछले साल दिसंबर में देखने को मिला था जब टोरेंट साइटों से ‘Spider-Man: No Way Home’ डाउनलोड करने पर यूजर्स को एक क्रिप्टोकरेंसी माइनिंग मालवेयर का सामना करना पड़ा।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: January 23, 2022 3:23 PM IST
  • Updated Date: January 23, 2022 3:24 PM IST



new arrivals in india