comscore चीनी वैज्ञानिकों ने बनाई मस्तिष्क कंप्यूटर चिप | BGR India
News

चीनी वैज्ञानिकों ने बनाई मस्तिष्क कंप्यूटर चिप

चीन के झेजियांग प्रांत के वैज्ञानिकों ने मानव मस्तिष्क के समान कार्य करने व

  • Updated: December 28, 2015 10:42 AM IST
computer

चीन के झेजियांग प्रांत के वैज्ञानिकों ने मानव मस्तिष्क के समान कार्य करने वाली चिप का निर्माण किया है। हांग्जो डियान्जी यूनिवर्सिटी और झेजियांग यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने मिलकर इस विशेष चिप ‘डार्विन’ को विकसित किया है। Also Read - Smartphone को सिक्योर रखने के लिए अपनाएं ये टिप्स, नहीं होगा कोई नुकसान

हांग्जो यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिक मा डी ने बताया, “यह मानव मस्तिष्क की तंत्रिका तंत्र का अनुकरण करके कंप्यूटर कार्य को पूरा कर सकती है जिसमें न्यूरॉन्स सिनैप्सिस के माध्यम से एक दूसरे से जुड़े होते हैं।” Also Read - Apple के लिए बढ़ी मुसीबत, EU सभी स्मार्टफोन के लिए एक ही चार्जर अनिवार्य करने की बना रहा योजना

इस काली प्लास्टिक चिप का टुकड़ा एक सिक्के के 10वें भाग से भी छोटा है लेकिन इसमें दो हजार से अधिक न्यूरॉन्स और चार हजार सिनेप्सिस निहित हैं। इस चिप के द्वारा कंप्यूटर कम विद्युत उर्जा में अधिक काम कर सकता है। Also Read - Deals of the day 14th August: आज सस्ते में खरीदें मॉनिटर और कम्प्यूटर एक्सेसरीज

एनएफसी और फिंगरप्रिंट से लैस होगा लेनोवो के4 नोट

मा ने बताया, “इस चिप का उपयोग रोबोट्स, हार्डवेयर तंत्र और मस्तिष्क-कंप्यूटर तंत्रों में किया जाएगा। फिलहाल यह चिप अपने प्रारंभिक चरण में है, इस पर अभी काफी काम किया जाना है।”

इससे पहले अमेरिका की बहुराष्ट्रीय कंपनी ‘आईबीएम’ ने ‘ट्रनार्थ’ नाम की मानव मस्तिष्क चिप को बनाया था। इसके बाद से चीन भी इस तरह की चिप को बनाने के लिए प्रतिबद्ध हो गया था।

शाओमी मी 3, मी 4 और मी नोट को मिलेगा एंडरॉयड ओएस 6.0 मार्शमेलो का अपडेट

‘डार्विन’ के विकास से चीन मस्तिष्क प्रेरित कंप्यूटिंग अनुसंधान के क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण स्थान के रूप में चिह्नित हो गया है।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: December 28, 2015 10:15 AM IST
  • Updated Date: December 28, 2015 10:42 AM IST



new arrivals in india

Best Sellers