comscore कोरोनावायरस के चलते ग्लोबल स्मार्टफोन मार्केट लड़खड़ाया, 38 प्रतिशत की गिरावट | BGR India Hindi
News

कोरोनावायरस के चलते ग्लोबल स्मार्टफोन मार्केट लड़खड़ाया, 38 प्रतिशत की गिरावट

चीन स्मार्टफोन प्रोडक्शन का सबसे बड़ा केंद्र है। कोरोनावायरस के संक्रमण के चलते जनवरी 2020 से चीन में मैन्यूफैक्चरिंग में कमी देखने को मिल रही है। मैन्यूफैक्चरिंग में की के बाद से दुनियाभर में सप्लाई चैन प्रभावित हुई है। स्ट्रेटजी एनालिटिक्स के एक्सक्यूटिव डायरेक्टर नेल मैवस्टन का कहना है कि ग्लोबल स्मार्टफोन मार्केट में फरवरी 2020 में आई गिरावत अभूतपूर्व है।

Redmi 8A Dual main

ग्लोबल स्मार्टफोन शिपमेंट में फरवरी 2020 में गिरावत देखने को मिली है। यह दावा मार्केट रिसर्च फर्म स्ट्रेटेजी एनालिटिक्स ने नोवल कोरोनावायरस (COVID-19) के संक्रमण के चलते किया है। ग्लोबल स्मार्टफोन मार्केट के इतिहास में  यह अब तक की सबसे बड़ी गिरावट है। स्ट्रेटेजी एनालिटिक्स फर्म के डायरेक्टर लिंडा सुई का कहना है कि ग्लोबल स्मार्टफोन शिपमेंट पिछले के मुकाबले 38 प्रतिशत की कमी देखने को मिली है। पिछले साल फरवरी 2019 में ग्लोबल स्मार्टफो मार्केट में 99.2 मिलियन यूनिट शिप हुए थे। इस साल फरवरी 2020 में यह आंकड़ा घटकर 61.8 मिलियन पर आ गया है।


Covid-19 संक्रमण के चलते पिछले महीने एशिया में स्मार्टफोन डिमांड में कमी आई हैं।  इसकी वजह से ग्लोबल स्मार्केट में स्मार्टफोन शिपमेंट में कमी देखने को ममिली है। कोरोनावायरस के संक्रमण के चलते कई एशियन फैक्ट्रियां स्मार्टफोन के मैन्यूफैक्चरिंग भी नहींं कर पा रही हैं। वहीं बॉयर्स भी नया स्मार्टफोन नहीं खरीद पा रहे हैं।

चीन स्मार्टफोन प्रोडक्शन का सबसे बड़ा केंद्र है। कोरोनावायरस के संक्रमण के चलते जनवरी 2020 से चीन में मैन्यूफैक्चरिंग में कमी देखने को मिल रही है। मैन्यूफैक्चरिंग में की के बाद से दुनियाभर में सप्लाई चैन प्रभावित हुई है। स्ट्रेटजी एनालिटिक्स के एक्सक्यूटिव डायरेक्टर नेल मैवस्टन का कहना है कि ग्लोबल स्मार्टफोन मार्केट में फरवरी 2020 में आई गिरावत अभूतपूर्व है। हिंदुस्तान टाइम्स ने रिपोर्ट के हवाले से बताया है कि चीन में स्मार्टफोन की सप्लाई और डिमांड में कमी आ गई है। वहीं एशिया और पूरी दुनिया में स्मार्टफोन मार्केट में गिरावट देखने को मिल रही है। स्मार्टफोन मार्केट में आई यह गिरावट ऐसी है कि इसे कभी भुलाया नहीं जा सकता है।

मार्केट रिसर्च  फर्म ने अपनी रिपोर्ट में यह भी कहा है कि रिकवरी के अस्थाई संकेतों के बावजूद चीन मेंं मार्च 2020  तक स्थिति में ज्यादा सुधार आने की गुंजाइश न के बराबर है। स्ट्रेटजी एनालिटिक्स के सीनियर एनालेसिस्ट का कहना है कि कोरोनवायरस वायरस यूरोप, उत्तरी अमेरिका और अन्य जगहों पर फैल गया है। लाखों संपन्न उपभोक्ता लॉकडाउन में हैं, वे नए डिवाइस खरीदने में असमर्थ या अनिच्छुक हैं। ऐसे में आने वाले हफ्तों में बिक्री बढ़ाने के लिए कंपनियों को पहले से कहीं अधिक मेहनत करनी होगी। उन्हें ऑनलाइन फ्लैश सेल या स्मार्टवॉच जैसी डिवाइसेस के साथ बंडल ऑफर पेश करने चाहिए।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें।

  • Published Date: March 22, 2020 12:33 PM IST