comscore टिंडर, बम्बल जैसे डेटिंग ऐप्स के जरिए स्कैमर्स कर रहे बिटकॉइन फ्रॉड: रिपोर्ट
News

टिंडर, बम्बल जैसे डेटिंग ऐप्स के जरिए स्कैमर्स कर रहे बिटकॉइन फ्रॉड: रिपोर्ट

साइबर सिक्योरिटी रिसर्चर Sophos ने 1.4 मिलियन डॉलर (लगभग 10 करोड़ रुपये) के टोकन से भरे एक बिटकॉइन वॉलेट की पहचान की, जिसमें मौजूद राशि कथित तौर पर स्कैम की मदद से जमा की गई है। क्रिप्टो स्कैमर्स आईफोन पर बम्बल और टिंडर जैसे पॉपुलर डेटिंग ऐप्स इस्तेमाल करने वाले यूजर्स को निशाना बना रहे हैं।

Tinder-Bitcoin-fraud

साइबर क्रिमिनल अक्सर नए ट्रेंड को फ्रॉड करने के लिए इस्तेमाल करते हैं। ऐसा करने से वो लोग इनके चंगुल में फंस जाते हैं, जिन्हें उस सब्जेक्ट पर खास जानकारी नहीं होती। कुछ ऐसा ही स्कैम अब क्रिप्टोकरेंसी को लेकर किया जा रहा है, जहां साइबर क्रिमिनल डेटिंग ऐप्स के यूजर्स को निशाना बना रहे हैं। Also Read - Facebook के डेटिंग ऐप 'Sparked' में जुड़े नए फीचर, मैच मेकिंग होगी और भी शानदार

साइबर सिक्योरिटी रिसर्चर Sophos ने 1.4 मिलियन डॉलर (लगभग 10 करोड़ रुपये) के टोकन से भरे एक बिटकॉइन वॉलेट की पहचान की, जिसमें मौजूद राशि कथित तौर पर स्कैम की मदद से जमा की गई है। क्रिप्टो स्कैमर्स आईफोन पर बम्बल और टिंडर जैसे पॉपुलर डेटिंग ऐप्स इस्तेमाल करने वाले यूजर्स को निशाना बना रहे हैं। सोफोस का कहना है कि क्रिप्टोकरेंसी से जुड़ा स्कैम करने के साथ ही ये क्रिमिनल्स विक्टिम के पर्सनल डिटेल से भी खिलवाड़ कर रहे हैं, जो उन्हें और भी ज्यादा नुकसान पहुंचा सकता है। Also Read - Tinder: अगर नहीं चाहते कोई दोस्त देखे आपकी प्रोफाइल तो मोबाइल नंबर के जरिये ऐसे करें उसे ब्लॉक, जानें तरीका

कैसे चल रही है क्रिप्टो के नाम पर डेटिंग ऐप्स पर ठगी

सोफोस के सीनियर थ्रेट रिसर्चर जगदीश चंद्रैया ने बताया कि पहले तो ये क्रिमिनल्स डेटिंग ऐप्स पर लोगों से संपर्क करते हैं और फिर यहां से हटकर एक अलग मैसेजिंग प्लेटफॉर्म पर बातचीत जारी रखने का सुझाव देते हैं। इसके बाद वे एक नकली क्रिप्टोक्यूरेंसी ट्रेडिंग ऐप को इंस्टॉल करने और उसमें निवेश करने के लिए टारगेट को मनाते हैं। Also Read - Domino's data leak: डोमिनोज के 18 करोड़ ऑर्डर का डेटा लीक, Dark Web पर खुलेआम मौजूद कस्टमर्स की डिटेल

रिपोर्ट के अनुसार, ये अज्ञात क्रिप्टो-स्कैमर्स एशिया में लोगों को टारगेट कर रहे हैं और अब यूरोप के साथ-साथ अमेरिका में भी अपनी गतिविधियों का विस्तार कर रहे हैं।

सोफोस के अनुसार, इन नकली क्रिप्टो-ट्रेडिंग ऐप पर बनी हुई यूजर की प्रोफाइल के मदद से ये क्रिमिनल्स उनके आईफोन डिवाइस को भी कंट्रोल करने में कामयाब रहे। रिपोर्ट के मुताबिक, ये खतरनाक ऐप्स वेब पर नकली वेबसाइटों के माध्यम से वितरित किए गए थे, जो देखने में बैंक साइटों से परिचित लग रहे थे।

सोफोस रिपोर्ट ने कहा, “समाचार रिपोर्टों से, हमें पता चला कि एक पीड़ित को $87,000 (लगभग 65 करोड़ रुपये) का नुकसान हुआ। इन घोटालों के बारे में UK में अतिरिक्त खबरें हैं, जिसमें एक पीड़ित को फेसबुक के जरिए संपर्क करके $45,000 (लगभग 33।8 लाख रुपये) का नुकसान कराया और एक दूसरे व्यक्ति को ग्राइंडर द्वारा संपर्क करके 25,000 डॉलर (लगभग 18।2 लाख रुपये) का नुकसान किया।”

शोधकर्ताओं ने क्रिप्टो निवेशकों को सुरक्षित क्रिप्टो लेनदेन की सुविधा के लिए केवल ऐप्पल स्टोर पर उपलब्ध सत्यापित एक्सचेंज और ट्रेडिंग साइटों का उपयोग करने की चेतावनी दी है।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: October 18, 2021 9:59 PM IST



new arrivals in india

Best Sellers