comscore डेटा चोरी: फेसबुक-कैंब्रिज एनालिटिका के जवाब के बाद होगी कार्रवाई | BGR India
News

डेटा चोरी: फेसबुक-कैंब्रिज एनालिटिका के जवाब के बाद होगी कार्रवाई

कैंब्रिज एनालिटिका को भी पहले इसी तरह का पत्र भेजा जा चुका है।

  • Updated: February 15, 2022 5:04 PM IST
facebook-logo-main

केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने आज कहा कि सरकार ने डेटा चोरी मामले में फेसबुक और कैंब्रिज एनालिटिका को नोटिस भेजा है। उन्होंने कहा कि दोनों कंपनियों का जवाब आने के बाद उनके खिलाफ कार्रवाई पर निर्णय लिया जाएगा। Also Read - Facebook Groups में आ रहा Discord का सबसे बेहतरीन फीचर, जानें क्या होगा खास

Also Read - Facebook-Instagram से कमाई होगी आसान, Meta ने अनाउंस किए 5 नए फीचर्स

प्रसाद ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘ जहां तक व्यक्तिगत सूचनाओं की हिफाजत की बात है तो , हम इस पर काफी कठोर हैं। दोनों कंपनियों को सरकार नोटिस भेज चुकी है। हमें उनके जवाब का इंतजार करना चाहिए। हम उनके जवाब के बाद कदम उठाएंगे।’’ Also Read - Facebook App से फिर कर पाएंगे मैसेज, दोबारा एक होंगे फेसबुक और मैसेंजर ऐप

आईटी मंत्रालय ने शुरुआती चेतावनी के बाद उपयोक्ताओं के बारे में निजी सूचनाएं लीक होने के मामले में सोशल मीडिया कंपनी फेसबुक को कल नोटिस जारी किया था और पूछा था कि लोगोंकी व्यक्तिगत जानकारियों की सुरक्षा तथा उनके दुरुपयोग को रोकने के लिए क्या कदम उठाये गये हैं।

मंत्रालय ने फेसबुक से पांच सवाल पूछे। उसने पूछा कि क्या भारतीय मतदाताओं और उपयोक्ताओं की जानकारियां कैंब्रिज एनालिटिका या किसी भी अन्य कंपनी के साथ किसी भी तरीके से साझा की गयी हैं। फेसबुक को विस्तृत प्रतिक्रिया के लिए सात अप्रैल तक का समय दिया गया है।

फेसबुक को भेजे पत्र में कहा गया है कि उपयोक्ताओं की संख्या के लिहाज से उसकी भारत में सर्वाधिक उपस्थिति है। इतने बड़े डेटाबेस की गोपनीयता तथा सुरक्षा एवं किसी तीसरे पक्ष द्वारा इसका दुरुपयोग रोकने के लिए उठाये गये कदमों की भी जानकारी मांगी गयी है।

कैंब्रिज एनालिटिका को भी पहले इसी तरह का पत्र भेजा जा चुका है। फेसबुक उपयाोक्ताओं की जानकारियों का इस्तेमाल कर चुनावों को प्रभावित करने की मीडिया रिपोर्टों के बाद कैंब्रिज एनालिटिका को नोटिस दिया गया।

प्रसाद ने कहा कि ब्रिटेन की एक संसदीय समिति मामले की जांच कर रही है। उन्होंने कहा कि समिति के एक सदस्य की टिप्पणी पर वह कुछ भी नहीं कहना चाहते हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘ मैं उस पर कोई टिप्पणी नहीं करूंगा। ब्रिटेन की एक संसदीय समिति जांच कर रही है और उसके एक सदस्य ने इस बारे में टिप्पणी की है, अत: मुझे उस बारे में कुछ नहीं कहना चाहिए। यदि समिति कोई रिपोर्ट भेजती है तब हम उस पर विचार कर सकते हैं।’’

फेसबुक के उपयोक्ताओं की जानकारियां चोरी होने को लेकर पिछले कुछ दिनों में सोशल मीडिया कंपनी को वैश्विक स्तर पर नाराजगी का सामना करना पड़ा है। इस कारण फेसबुक को माफी भी मांगनी पड़ी है। क्रैंब्रिज एनालिटिका पर आरोप है कि उसने पांच करोड़ फेसबुक उपयोक्ताओं की जानकारियों का इस्तेमाल कर कई देशों में चुनावों को प्रभावित किया है।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: March 31, 2018 3:00 PM IST
  • Updated Date: February 15, 2022 5:04 PM IST



new arrivals in india