comscore Delhi High Court ने JNU हिंसा मामले में Apple, Google और WhatsApp को नोटिस भेजा | BGR India Hindi
News

Delhi High Court ने JNU हिंसा मामले में Apple, Google और WhatsApp को नोटिस भेजा

दिल्ली हाई कोर्ट (Delhi High Court) ने सोमवार को Apple, Google और WhatsApp कंपनियों को जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) मामले में नोटिस भेजा है। हाई कोर्ट ने तीनों कंपनियों को जेएनयू के तीन प्रोफेसरों की याचिका पर सुनवाई करते हुए यह नोटिस भेजा है।

social-media

दिल्ली हाई कोर्ट (Delhi High Court) ने सोमवार को Apple, Google और WhatsApp कंपनियों को जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) मामले (JNU Violence) में नोटिस भेजा है। हाई कोर्ट ने तीनों कंपनियों को जेएनयू के तीन प्रोफेसरों की याचिका पर सुनवाई करते हुए यह नोटिस भेजा है। प्रोफेसरों ने 5 जनवरी को जेएनयू में हुई हिंसा के संबंध में शुक्रवार को हाईकोर्ट में याचिका दायर करते हुए हिंसा से संबंधित डाटा, सीसीटीवी फुटेज और अन्य सबूतों को संरक्षित रखने के निर्देश देने की मांग की थी। Also Read - Realme 5i स्मार्टफोन 15 जनवरी को इन धमाकेदार ऑफर्स के साथ पहली बार सेल पर आएगा

जेएनयू के प्रोफेसर अमित परमेश्वरन, अतुल सूद, और शुक्ल विनायक सावंत की याचिका की सुनवाई करते हुए दिल्ली हाई कोर्ट ने जेएनयू प्रशासन से 5 जनवरी को हुई हिंसा की सीसीटीवी फुटेज संभालकर रखने और उसे सौंपने को कहा है।  इसके साथ ही पुलिस ने सोमवार को दिल्ली हाई कोर्ट को बताया कि हिंसा की सीसीटीवी फुटेज संरक्षित रखने के उसके अनुरोध पर जेएनयू प्रशासन की ओर से अभी तक कोई जवाब प्राप्त नहीं हुआ है। Also Read - Xiaomi Mi 10 स्मार्टफोन Sanpdragon 865 चिपसेट के साथ फरवरी में हो सकता है लॉन्च

दिल्ली पुलिस ने अदालत को यह भी बताया कि उसने WhatsApp को भी लिखित अनुरोध भेज कर वायरल हो रहे ग्रुप मैसेज का पूरा डाटा  सुरक्षित रखने को कहा है। खबरों के मुताबिक इन्हीं वायरल हो रहे WhatsApp ग्रुप पर जेएनयू में हिंसा की साजिश रची गई थी। Also Read - Xiaomi Mi A2 स्मार्टफोन को Android 10 अपडेट मिली, ऐसे करें फोन को अपडेट

दिल्ली हाई कोर्ट जेएनयू हिंसा के दौरान सीसीटीवी फुटेज, डाटा और दूसरे सबूतों को सुरक्षित रखने संबंधी तीन प्रोफेसरों की याचिका पर पुलिस, दिल्ली सरकार, WhatsApp और Apple, Google ने मंगलवार तक जवाब मांगा है। बता दें कि WhatsApp ग्रुप ‘Unity Against Left’और ‘Friends of RSS’ दो ग्रुप के मैसेज का स्क्रीन शॉट हिंसा के बाद काफी वायरल हो रहा था। कहा जा रहा है कि जेएनयू हिंसा की साजिश इन ग्रुप में ही रची गई थी। याचिका इन दोनों ग्रुप के मैसेज, पिक्चरस वीडियो, फोटो, और ग्रुप मैंबर्स का डाटा सुरक्षित रखने के लिए दायर की गई थी।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें।

  • Published Date: January 13, 2020 1:21 PM IST
  • Updated Date: January 13, 2020 2:50 PM IST



new arrivals in india

Best Sellers