comscore क्या आप जानते हैं 1.12 लाख करोड़ में बिकने वाली फ्लिपकार्ट की ये 5 बातें? | BGR India
News

क्या आप जानते हैं 1.12 लाख करोड़ में बिकने वाली फ्लिपकार्ट की ये 5 बातें?

फ्लिपकार्ट पर बिकने वाली पहली किताब 'लीविंग माइक्रोसॉफ्ट टू चेंज द वर्ल्ड' थी। इस किताब के लेखक जॉन वुड हैं।

क्या आप जानते हैं 1.13 लाख करोड़ में बिकने वाली फ्लिपकार्ट की ये 5 बातें?Do you know these 5 things about  Flipkart

अमेरिका की सबसे बड़ी रिटेलर कंपनी वॉलमार्ट ने भारत की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट को खरीद लिया है। वॉलमार्ट ने 1.12 लाख करोड़ में फ्लिपकार्ट की 77 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी है। इस वक्त फ्लिपकार्ट के दो फाउंडर्स हैं और इस डील के बाद अब कंपनी के को-फाउंडर सचिन बंसल अपने शेयर बेचकर बाहर हो जाएंगे। वॉलमार्ट का कहना है कि इस निवेश से फ्लिपकार्ट का कारोबार बढ़ेगा और ई-कॉमर्स सेक्टर में नई नौकरियां पैदा होंगी। आइये जानते हैं फ्लिपकार्ट के बारे में 5 खास बातें? Also Read - Oppo के स्मार्टफोन को सस्ते में खरीदने का मौका, लॉन्च कीमत से हजारों रुपये कम में मिल रहे ये फोन

Also Read - 12GB RAM, 64MP OIS कैमरा, 4500mAh बैटरी वाले POCO F4 5G गेमिंग फोन की पहली सेल आज, Instant Discount के साथ फ्री में पाएं Disney+ Hotstar सब्सक्रिप्शन

बेंगलुरू से शुरू हुआ फ्लिपकार्ट का सफर Also Read - 5000mAh बैटरी और 32GB स्टोरेज वाले बेस्ट बजट फोन Realme C30 की फर्स्ट सेल आज, सिर्फ ₹364 प्रति महीने की EMI पर खरीदने का मौका

फ्लिपकार्ट को शुरू हुए 11 साल हो गए हैं। इसकी शुरुआत साल 2007 में हुई थी। इसका पहला ऑफिस बेंगलुरू में शुरू हुआ था। इसे सचिन और बिन्नी बंसल ने शुरू किया था। सचिन और बिनी अमेजन में नौकरी करते थे, यहां से अलग होने के बाद दोनों ने अपना स्टार्टअप शुरू किया।

फ्लिपकार्ट पर सबसे पहले बिकी थी ये किताब

फ्लिपकार्ट को खड़ा करने वाले सचिन और बिन्नी की मुलाकात दिल्ली आईआईटी में हुई थी। यह मुलाकात साल 2005 में हुई थी। फ्लिपकार्ट ने सबसे पहले अपनी साइट पर किताबें बेचना शुरू किया था। इसके बाद इस ई-कॉमर्स साइट पर दूसरे चीज़ों को बेचना शुरू हुआ। फ्लिपकार्ट पर बिकने वाली पहली किताब ‘लीविंग माइक्रोसॉफ्ट टू चेंज द वर्ल्ड’ थी। इस किताब के लेखक जॉन वुड हैं।

फ्लिपकार्ट में पहला निवेश

फ्लिपकार्ट ने साल 2009 में दिल्ली और मुंबई में अपने ऑफिस की शुरुआत की थी। 2009 में एस्सेल पार्टनर्स ने फ्लिपकार्ट में 10 लाख डॉलर का निवेश किया। साल 2016 में बिन्नी बंसल फ्लिकार्ट के सीईओ बने और सचिन को एग्जिक्यूटिव चेयरमैन की जिम्मेदारी सौंपी गई। साल 2017 में कल्याण कृष्णमूर्ति को फ्लिपकार्ट का सीईओ बनाया गया और बिन्नी बंसल ग्रुप सीईओ नियुक्त हुए।

अपनी ही कंपनी में डिलिवरी बॉय का काम करते थे बिन्नी

फ्लिपकार्ट शुरू करने से पहले बिन्नी और सचिन बंसल अमेजन में सॉफ्टवेयर इंजीनियर थे। फ्लिपकार्ट पहले ऑनलाइन बुक सेलिंग साइट थी। सचिन बंसल किताबों की पैकिंग करते थे और बिन्नी उन्हें डिलिवर करते थे।

2016 में टाइम मैग्जीन में 100 प्रभावशाली व्यक्तियों में किया था शामिल

साल 2016 में बिन्नी बंसल और सचिन बंसल को टाइम मैग्जीन ने 100 प्रभावशाली व्यक्तियों में शामिल किया था। 2015 में सचिन और बिन्नी बंसल का नाम फोर्ब्स की लिस्ट की अमीरों की लिस्ट में 86 स्थान पर शामिल था।

 

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: May 10, 2018 11:58 AM IST
  • Updated Date: February 15, 2022 5:06 PM IST



new arrivals in india