comscore दूरसंचार विभाग को हर साल 4-5 करोड़ शिकायतें मिलती हैं | BGR India
News

दूरसंचार विभाग को हर साल 4-5 करोड़ शिकायतें मिलती हैं

भारत के दूरसंचार नियामक प्राधिकरण के अध्यक्ष राम सेवक शर्मा ने कहा, "प्रतिस्पर्धा को बढ़ावा देने के लिए भारत को ओपन स्काई पॉलिसी और नई प्रौद्योगिकियों की जरूरत है।

  • Updated: February 15, 2022 5:15 PM IST
Untitled design (12)

दूरसंचार विभाग (डीओटी) की सचिव अरुणा सुंदराजन ने बुधवार को कहा कि विभाग को हर साल 4-5 करोड़ ग्राहकों की शिकायतें मिलती हैं। सीयूटीएस इंटरनेशनल द्वारा आयोजित एक सम्मेलन में सुंदरराजन ने दूरसंचार क्षेत्र में ‘मजबूत उपभोक्ता आंदोलन और उपभोक्ता कार्यकर्ताओं’ की आवश्यकता पर बल दिया और कहा कि उपभोक्ताओं के लिए एक कानूनी समर्थन उपलब्ध होना चाहिए। Also Read - अब दो साल तक रखना होगा कॉल और IP डिटेल रिकॉर्ड, केंद्र सरकार ने जारी किया आदेश

Also Read - बंद हो सकते हैं इन लोगों के सिम कार्ड? सरकार ने लिया बड़ा फैसला

Also Read - WhatsApp, Facebook Messenger और Skype जैसे कॉलिंग ऐप्स को अब लेना होगा लाइसेंस, DoT ने बनाया प्लान..!

बाद में, समारोह से इतर उन्होंने कहा कि यह सालाना प्राप्त शिकायतों की मात्रा है। उन्होंने कहा, “हाल ही में जब हम दूरसंचार क्षेत्र की शिकायतों की समीक्षा कर रहे थे.. हमने पाया है कि हमारे पास हर साल चार-पांच करोड़ शिकायतें आती हैं।”

सभा को संबोधित करते हुए, सुंदरराजन ने उपभोक्ता संरक्षण और अधिकारों को सु²ढ़ करने के साथ-साथ अधिक से अधिक नवाचारों का भी आह्वान किया। भारत के दूरसंचार नियामक प्राधिकरण के अध्यक्ष राम सेवक शर्मा ने कहा, “प्रतिस्पर्धा को बढ़ावा देने के लिए भारत को ओपन स्काई पॉलिसी और नई प्रौद्योगिकियों की जरूरत है, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि कंपनियां उपभोक्ताओं के लिए गुणवत्तापूर्ण दूरसंचार सेवाएं प्रदान करने के लिए समाधान के साथ आएं।”

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: July 19, 2018 4:34 PM IST
  • Updated Date: February 15, 2022 5:15 PM IST



new arrivals in india