comscore फेसबुक में मौजूद हैं 25 करोड़ फेक अकाउंट, दूसरे कामों के लिए किए जाते हैं इस्तेमाल | BGR India
News

फेसबुक में मौजूद हैं 25 करोड़ फेक अकाउंट, दूसरे कामों के लिए किए जाते हैं इस्तेमाल

फेसबुक की लेटेस्ट एनुअल रिपोर्ट में इस बात की जानकारी मिली है कि पिछले तीन सालों में फेसबुक में फेक अकाउंट की संख्या बढ़कर 25 करोड़ हो गई है।

Facebook used less for news as youngsters turn to WhatsApp: Report

भारत समेत दुनियाभर में फेसबुक काफी पॉप्युलर है। इस ऐप के दुनियाभर में एक अरब से ज्यादा लोगों के अकाउंट हैं। हालांकि इस ऐप में काफी फेक अकाउंट भी हैं जिससे कई तरह के कामों को अंजाम दिया जाता है। फेसबुक की लेटेस्ट एनुअल रिपोर्ट में इस बात की जानकारी मिली है कि पिछले तीन सालों में फेसबुक में फेक अकाउंट की संख्या बढ़कर 25 करोड़ हो गई है।

2018 के चौथे क्वॉर्टर की रिपोर्ट से पता चला है कि कंपनी का MAUs 11% हो गया, जो 2015 में 5% के करीब था। यह MAUs डुप्लीकेट अकाउंट को रिप्रजेंट करता है। दिसंबर 2015 में कंपनी के MAUs की संख्या 1.59 अरब थी जो दिसंबर 2018 के अंत तक बढ़कर 2.32 अरब हो गई।

डुप्लिकेट अकाउंट उन्हें कहा जाता है जो किसी यूजर्स द्वारा एक एकाउंट के अलावा दूसरे अकाउंट के तौर पर बनाते जाते हैं। वहीं फेक अकाउंट ऐसे अकाउंट हैं जो किसी बिजनेस, किसी ऑर्गनाइजेशन या किसी नॉन ह्यूमन एंटिटी द्वारा बनाए जाते हैं।

इसके अलावा दूसरी कैटेगरी में ऐसे अकाउंट होते हैं जो एक दम फेक होते हैं। इन्हें किसी उद्देश्य के लिए बनाया जाता है। ऐसे अकाउंट नियम कानूनों का उल्लंघन करते हैं।  कंपनी की रिपोर्ट के अनुसार ऐसे खातों की पहचान उसकी इंटरनल रिव्यू से की जाती है।

  • Published Date: February 5, 2019 10:47 AM IST