comscore
News

Ericsson केस: चार हफ्तों में 453 करोड़ नहीं दिए तो अनिल अंबानी जाएंगे जेल!

सुप्रीम कोर्ट ने अनिल अंबानी को कोर्ट के आदेश का उल्लंघन करने और टेलीकॉम इक्विपमेंट बनाने वाली कंपनी एरिक्सन इंडिया को 550 करोड़ रुपये का पेमेंट नहीं करने के मामले में दोषी पाया है।

Anil-Ambani-digital-india

सुप्रीम कोर्ट से रिलायंस कम्युनिकेशन के चेयरमैन अनिल अंबानी और दो डायरेक्टर को बड़ा झटका लगा है। दरअसल सुप्रीम कोर्ट ने अनिल अंबानी को कोर्ट के आदेश का उल्लंघन करने और टेलीकॉम इक्विपमेंट बनाने वाली कंपनी एरिक्सन इंडिया को 550 करोड़ रुपये का पेमेंट नहीं करने के मामले में दोषी पाया है।
कोर्ट ने अनिल अंबानी और दोनों डायरेक्टर को एरिक्सन इंडिया को चार हफ्ते के अंदर 453 करोड़ रुपये का पेमेंट करने के लिए कहा है। अगर एरिक्सन कंपनी को समय रहते पेमेंट नहीं किया गया तो तीनों को तीन महीने की जेल भुगतनी होगी।

इसके अलावा कोर्ट ने तीनों को 1-1 करोड़ रुपये का फाइन भी लगाया है जो इन तीनों को एक महीने के अंदर देना होगा। 1 करोड़ रुपये का फाइन एक महीने के अंदर नहीं दिए जाने पर 1 महीने की जेल का प्रस्ताव है। अनिल अंबनी के अलावा जिन दो डायरेक्टर को दोषी माना गया है उनके नाम सतिश सेठ और Chhaya Virani है। सतीश सेठ रिलायंस टेलीकॉम के चेयरमैन हैं वहीं Chhaya Virani रिलायंस इंफ्राटेल के चेयरपर्सन हैं।

इसके अलावा कोर्ट ने ये भी कहा है कि रिलायंस ग्रुप द्वारा कोर्ट की रजिस्ट्री में पहले से जमा किए गए 118 करोड़ रुपये एरिक्शन को दे दिए जाएं। एरिक्सन इंडिया ने आरोप लगाया था कि रिलायंस ग्रुप ने उसके पैसा चुकाए बिना राफेल डील में पैसा इनवेस्ट किया था, जो गलत था।

  • Published Date: February 20, 2019 2:55 PM IST