comscore फेसबुक नहीं बेचता अपने यूजर्स का डाटा, मार्क जुकरबर्ग ने इल्जामों को बताया झूठ | BGR India
News

फेसबुक नहीं बेचता अपने यूजर्स का डाटा, मार्क जुकरबर्ग ने इल्जामों को बताया झूठ

हाल के वर्षो में डाटा संबंधी अनेक घोटालों में फेसबुक को दो अरब से अधिक यूजर के डाटा का इस्तेमाल करने को लेकर काफी जांच का सामना करना पड़ा है

  • Published: January 26, 2019 8:55 AM IST
facebook data hack

फेसबुक के संस्थापक और सीईओ जुकरबर्ग ने 15 महीने बाद एक बार फिर दिग्गज सोशल मीडिया मंच का बचाव करते हुए कहा कि कंपनी अपने यूजर का डाटा किसी को नहीं बेच रहा है। जुकरबर्ग ने गुरुवार को वाल स्ट्रीट जर्नल में एक विचारपरक आलेख में लिखा, “हम लोगों का डाटा नहीं बेचते हैं, फिर भी अक्सर कहा जाता है कि हम ऐसा करते हैं।”

उन्होंने कहा, “अल्पावधि के दौरान क्लिकबेट व अन्य जंक में ऐसा हो सकता है, मगर हमारे लिए जानबूझकर ऐसा करने की बात झूठ है, क्योंकि यह वैसी बात नहीं है जैसाकि लोग चाहते हैं।”

हाल के वर्षो में डाटा संबंधी अनेक घोटालों में फेसबुक को दो अरब से अधिक यूजर के डाटा का इस्तेमाल करने को लेकर काफी जांच का सामना करना पड़ा है, जिसके बाद फेसबुक के सीईओ ने 1,000 शब्द के आलेख में अपना बचाव किया है।

उन्होंने कहा, “लोग जिन पेजों को पसंद करते हैं, वे जिनपर क्लिक करते हैं और अन्य संकेतों के आधार पर हम केटेगरी बनाते हैं और उसके बाद उस केटेगरी में विज्ञापन दिखाने के लिए विज्ञापनदाता से उसकी कीमत लेते हैं।”

फेसबुक सीईओ ने कहा, “हम आपको विज्ञापन दिखाने के लिए जिन सूचनाओं का इस्तेमाल करते हैं उसपर आपका नियंत्रण होता है और किसी विज्ञापनदाता को ब्लॉक कर सकते हैं।”

फेसबुक ने दिसंबर में कहा कि उसने अपने साझेदारों को यूजर की अनुमति के बगैर उनके निजी संदेशों तक पहुंच बनाने की अनुमति कभी नहीं दी। सोशल मीडिया मंच ने यह बात न्यूयार्क टाइम्स की एक रिपोर्ट के संदर्भ में कही। रिपोर्ट में दावा किया गया था कि फेसबुक ने नेटफ्लिक्स या स्पॉटिफी जैसी बड़ी प्रौद्योगिकी कंपनियों को अपने यूजर की निजी सूचनाओं में पैठ बनाने की अनुमति दी है।

जुकरबर्ग ने कहा, “लोग लगातार हमें कहते हैं वे इस विषय-वस्तु को नहीं देखना चाहते हैं।”

निजी डाटा संग्रह के संबंध में उन्होंने कहा, “इसका कोई सवाल ही नहीं है कि हम विज्ञापन के लिए कुछ सूचनाओं का संग्रह करते है, लेकिन वे सूचनाएं आमतौर पर सुरक्षा और हमारी सेवा के सुचारु संचालन के लिए आवश्यक हैं।”

  • Published Date: January 26, 2019 8:55 AM IST