comscore Facebook Revenge Posts : फेसबुक को हर महीने मिलती हैं रिवेंज पोर्न से जुड़ी 5 लाख शिकायतें
News

Facebook Revenge Posts : फेसबुक को हर महीने मिलती हैं रिवेंज पोर्न से जुड़ी 5 लाख शिकायतें

Facebook Revenge Posts : दुनिया की नंबर वन सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट Facebook पर रिवेंज पोस्ट को लेकर नई जानकारी सामने आई हैं। रिवेंज पोस्ट ऐसे पोस्ट होते हैं, जिन्हें यूजर्स बदला लेने के लिए पोस्ट करते हैं। ऐसे पोस्ट में यूजर्स कई बार दूसरी की अश्लील फोटोज पोस्ट कर देते हैं। ऐसी पोस्ट को रिवेंज पोर्न (Facebook Revenge porn) के नाम से जाना जाता है।

  • Published: November 20, 2019 12:18 PM IST
facebook data hack, delete facebook, WhatsApp

Facebook Revenge Posts : दुनिया की नंबर वन सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट Facebook पर रिवेंज पोस्ट को लेकर नई जानकारी सामने आई हैं। यूं तो फेसबुक में यूजर्स कई तरह के पोस्ट करते हैं लेकिन कई सारे यूजर्स इस प्लेटफॉर्म का प्रयोग रिवेंज के लिए भी करते हैं। रिवेंज पोस्ट ऐसे पोस्ट होते हैं, जिन्हें यूजर्स बदला लेने के लिए पोस्ट करते हैं। ऐसे पोस्ट में यूजर्स कई बार दूसरी की अश्लील फोटोज पोस्ट कर देते हैं। ऐसी पोस्ट को रिवेंज पोर्न (Facebook Revenge porn) के नाम से जाना जाता है। लेटेस्ट खबर के मुताबिक, फेसबुक को हर महीने रिवेंज पोर्न से जुड़ी 5 लाख शिकायतें मिलती हैं।

फेसबुक के साथ दूसरी सोशल मीडिया कंपनी इंस्टाग्राम, मैसेंजर और वाट्सऐप पर भी रिवेंज पोर्न से जुड़ी शिकायतें मिलती हैं। फेसबुक पर फिलहाल 2.6 अरब मंथली एक्टिव यूजर्स हैं। अब फेसबुक रिवेंज पोर्न की शिकायत से निपटने के लिए नॉन-कन्सेंश्यूअल इंटिमेट इमेज एआई (आर्टिफिशल इंटेलिजेंस) टेक्नीक का सहारा लेगा। इसकी मदद से फेसबुक यूजर्स की टाइमलाइन पर अश्लील फोटो और पोस्ट को पहचान कर उन्हें टाइमलाइन से हटा देगा। बता दें कि कंपनी ने साल 2017 में इसे पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर शुरू किया था।

रिवेंज पोर्न पोस्ट से लड़ने के लिए फेसबुक ने 25 लोगों की टीम बनाई है। फेसबुक की इस टीम का काम कंप्लेन मिलने पर ऐसी पोस्ट में शेयर किए फोटो और वीडियो को डिलीट करना है। इतना ही नहीं यह टीम नॉन-कन्सेंश्यूअल इंटिमेट इमेज एआई (आर्टिफिशल इंटेलिजेंस) टेक्नीक के सहारे ऐसी अश्लील फोटोज को अपलोड के दौरान रोकने का भी काम करती है।

फेसबुक में प्रोडक्ट पॉलिसी रिसर्च की प्रमुख राधा प्लम्ब के हवाले से एनबीसी न्यूज ने कहा, “यह सुनने में कि आपकी छवि को साझा करने का अनुभव कितना भयानक था, प्रोडक्ट टीम वास्तव में यह पता लगाने की कोशिश में लगी रहती है कि हम क्या कर सकते हैं, जो कि केवल रिपोर्टों का जवाब देने से बेहतर हो।” फेसबुक इस टेक्नोलॉजी पर लगातार काम कर रहा है। कंपनी की कोशिश है कि इस तरह की पोस्ट से फेसबुक और दूसरी सोशल मीडिया साइट्स को मुक्त रखा जाए।

  • Published Date: November 20, 2019 12:18 PM IST