comscore Reliance Jio में दस प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदेगा Facebook | BGR India Hindi
News

रिलायंस जियो में दस प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदेगा फेसबुक

भारत की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी रिलायंस जियो में लोकप्रिय सोशल मीडिया कंपनी फेसबुक करीब दस प्रतिशत की हिस्सेदारी खरीदने का विचार कर रही  है। खबर है कि दोनों कंपनियों के बीच इस डील के पहले मीटिंग भी होने लगी हैं। फाइनेंशियल टाइम्स की एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि रिलायंस जियो की मार्केट वैल्यू फिलहाल 65 बिलियन डॉलर से 70 बिलियन डॉलर (करीब 5000 से 5500 करोड़ रुपये) के बीच है।

facebook data hack, delete facebook, WhatsApp

भारत की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी रिलायंस जियो में लोकप्रिय सोशल मीडिया कंपनी फेसबुक करीब दस प्रतिशत की हिस्सेदारी खरीदने का विचार कर रही  है। खबर है कि दोनों कंपनियों के बीच इस डील के पहले मीटिंग भी होने लगी हैं। फाइनेंशियल टाइम्स की एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि रिलायंस जियो की मार्केट वैल्यू फिलहाल 65 बिलियन डॉलर से 70 बिलियन डॉलर (करीब 5000 से 5500 करोड़ रुपये) के बीच है। ऐसे में रिलायंस जियो में दस प्रतिशत हिस्सेदारी के लिए फेसबुक और जियो के बीच यह सौदा करीब करीब 6.5 बिलयन डॉलर से 7 बिलियन डॉलर (करीब 500 से 550 करोड़ रुपये) तक में हो सकता है।


खबरों की माने तो फेसबुक के साथ-साथ रिलायंस जियो की दूनिया की नंबर वन टेक्नोलॉजी कंपनी गूगल के साथ भी हिस्सेदारी को लेकर बातचीत चल रही है। फिलहाल तीनों कंपनियों की ओर से इस संदर्भ में कोई भी बयान सामने नहीं आया है। फेसबुक और रिलायंस जियो के बीच हिस्सेदारी को चल रही यह मीटिंग फिलहाल कोरोनावायस संक्रमण के चलते रुकी हुई है। इस डील को लेकर आने वाले महीनों में स्थिति सामान्य होने पर दोनों कंपनियां डील को लेकर सामने आ सकती हैं।

बता दें कि मुकेश अंबनी के स्वामित्व वाली रिलायंस जियो को साल 2015 में लॉन्च किया और कंपनी ने 2016 में कमर्शियली काम करना शुरू किया था। रिलायंस जियो के भारत में ग्राहकों की संख्या 37 करोड़ से ज्यादा है और वह इस वक्त भारत की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी है। इसके साथ ही रिलायंस जियो की डिजिटल मीडिया ऐप्स जैसे JioTV, JioSaavn, JioCinema और JioNews हैं। रिलायंस जियो पिछले तीन साल से नए क्षेत्रं जैसे ऑनलाइन रिटेल और ईकॉमर्स, एजुकेशन और हेल्थकेयर की इंटरनेट बेस्ड ऐप्स का अधिग्रहण कर रही है ताकि वह इंटरनेस बेस्ड सर्विस का इकोसिस्टम तैयार कर सके।

इससे पहले रिलायंस ने पिछले साल अपने एजीएम में ऐलान किया था कि उनकी कंपनी आने वाले 18 महीने में डेब्ट फ्री हो जाएगी। इसके साथ ही रिलायंस ने अपना पेट्रोकैमिकल बिजनेस को सउदी अरब की कंपनी Aramco को  बेचने का निर्णय किया है।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें।

  • Published Date: March 25, 2020 11:46 AM IST