comscore Google Employees Spying Users : यूजर्स की प्राइवेट बातें सुन रहा गूगल
News

Google Employees Spying Users : Google ने माना, कर्मचारी सुन रहे हैं यूजर्स की प्राइवेट बातें

Google Employees Spying Users : सर्च इंजन कपंनी गूगल अपने यूजर्स की बातें सुन रहा है। कंपनी घर में रखे Google Home स्मार्ट स्पीकर और एंड्रॉइड स्मार्टफोन्स के जरिए यूजर्स की बातें सुन रहा है। हालांकि गूगल का दावा है कि उसने अपनी वॉइस रिकॉग्नाइज टेक्नोलॉजी को बेहतर बनाने के लिए कुछ यूजर्स की रिकॉर्डिंग जमा की थी जो लीक हो गई है। यह रिपोर्ट इसी पर आधारित है। इस रिपोर्ट के सामने आने के बाद एक बार फिर से यूजर्स की प्राइवेसी सवालों के घेरे पर है।

Google-Home

Google Employees Spying Users : सर्च इंजन कंपनी Google के कर्मचारी Google Home स्मार्ट स्पीकर एंड्रॉइड स्मार्टफोन्स के जरिए यूजर्स की बातें सुन रहे हैं। बैल्जियम के भाषा वैज्ञानिकों ने यूजर्स द्वारा बनाई रिकॉर्डिंग के स्निपिट्स की जांच के बाद ये खुलासा किया है। इस पर गूगल का दावा है कि इन रिकॉर्डिंग का यूज कंपनी वॉइस रिकॉगनाइज टेक्नोलॉजी को इंप्रूव करने के लिए कर रही थी। इस रिपोर्ट के सामने आने के बाद एक बार फिर से यूजर्स की निजता और गोपनीयता पर गंभीर सवाल उठ रहे हैं। गूगल वॉइस रिकॉग्नाइज टेक्नोलॉजी का यूज आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) सिस्टम से लैस Google Assistant पर करता है। इसका यूज गूगल के स्मार्ट स्पीकर, और एंड्रॉइड स्मार्टफोन पर होता है। बता दें कि ये असिस्टेंट यूजर्स द्वारा दिए वॉइस कमांड को सुनता और उन पर रिस्पॉन्स करता है। इसके साथ ही यूजर्स को न्यूज या वेदर की इंफॉर्मेशन देता है।

Google Employees Spying Users : बेल्जियम के ब्रॉडकास्टर वीआरटी एनडब्ल्यूएस के अनुसार, Google Home स्मार्ट स्पीकर की मदद से यूजर्स की बातचीत को रिकॉर्ड किया जा रहा है और ऑडियो क्लिप सब-कॉन्ट्रैक्टर्स को भेजे जा रहे हैं, जो गूगल की स्पीच रिकॉग्ननाइजेशन टेक्नोलॉजी में सुधार के लिए इन ऑडियो फाइलों को बाद में उपयोग करने के लिए ट्रांसक्रिप्ट कर रहे हैं। रिपोर्ट में दावा किया है कि एक व्हिसिलब्लोअर की सहायता से वीआरटी एनडब्ल्यूएस Google Assistant के जरिए रिकॉर्ड किए गए एक हजार से ज्यादा ऑडियो अंशों को सुनने में सक्षम रहा।

इस रिपोर्ट में कहा गया, “इन रिकॉर्डिग में हम पता और संवेदनशील जानकारी साफ सुन सकते हैं। इससे बातचीत में शामिल लोगों की पहचान करना और ऑडियो रिकॉर्डिग से उसका मिलान करना आसान हो गया है।” रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि बहुत से पुरुषों ने पोर्न सर्च, पति-पत्नी के बीच बहस, और यहां तक कि एक रिकॉर्डिंग में एक महिला आपातकालीन स्थिति में थी। ये सभी बातें इन रिकॉर्डिंग को सुनने से हमें पता चली हैं।

इससे भी ज्यादा चिंताजनक बात यह है कि व्हिसलब्लोअर ने वीआरटी को जिस प्लेटफॉर्म को दिखाया था, उसके पास पूरी दुनिया की रिकॉर्डिग मौजूद थी।  अंतर्राष्ट्रीय डेटा निगम (आईडीसी) के अनुसार भारत में, अमेजॅन इको ने 2018 में 59 प्रतिशत शेयर के साथ भारतीय स्मार्ट स्पीकर बाजार का नेतृत्व किया, इसके बाद गूगल होम 39 प्रतिशत यूनिट शेयर के साथ मौजूद रहा।  देश में 2018 में कुल 753 हजार इकाइयां भेजी गईं। गूगल होम के मिनी व अन्य सभी स्मार्ट स्पीकर मॉडल बिक गए और वह एक शीर्ष विक्रेता के रूप में उभरा।

(इनपुट आईएएनएस से भी)

  • Published Date: July 12, 2019 8:53 AM IST