comscore Google Play Store से गायब हुआ Permission सेक्शन, जानें क्या होगा इसका असर
News

Google Play Store से गायब हुआ Permission सेक्शन, जानें क्या होगा इसका असर

Google Play Store की ऐप लिस्टिंग पर एक Permissions सेक्शन हुआ करता था। यहां पर ऐप द्वारा मांगी जाने वाली सभी पर्मिशन नजर आती थीं।

Google-Play-Store

Google ने कुछ वक्त पहले प्ले स्टोर पर ऐप लिस्टिंग के लिए एक नया Data Safety सेक्शन जोड़ा था। इसकी मदद से यूजर्स को इस बात की जानकारी मिलती है कि ऐप्स किस तरह इनका डेटा इस्तेमाल करते हैं। मगर इन नए सेक्शन के जुड़ने के साथ ही Google Play Store से कुछ जरूरी सेक्शन गायब भी होने लगे हैं। Also Read - Google Search में आया नया फीचर, अब नए अंदाज में मिलेगी सेलिब्रिटी की जानकारी

हाल ही में गूगल ने ‘Updated on’ सेक्शन को ऐप लिस्टिंग से हटा दिया था। इसकी मदद से यूजर्स को पता चलता था कि किसी भी ऐप को पिछली बार कब अपडेट किया गया था। अब कंपनी ने Google Play Store से Permissions लिस्ट को भी हटा दिया है। Also Read - डुप्लीकेट WhatsApp चलाते हैं तो हो जाएं सावधान, एक्स्ट्रा फीचर का लालच पड़ेगा महंगा

Google Play Store से गायब हुई Permissions लिस्ट

Google Play Store की ऐप लिस्टिंग पर एक Permissions सेक्शन हुआ करता था। यहां पर ऐप द्वारा मांगी जाने वाली सभी पर्मिशन नजर आती थीं। इसकी मदद से यूजर्स बिना ऐप को इंस्टॉल किए, उसके द्वारा मांगी जाने वाली पर्मिशन के बारे में जान सकते थे। कई बार यह सेक्शन किसी ऐप के मालवेयर होने के बारे में भी हिंट दे देता था। Also Read - Gmail यूज करते समय ये तीन गलतियां पड़ेंगी भारी, हमेशा के लिए बैन होगा अकाउंट

अगर कोई कैलक्यूलेटर ऐप यूजर से कैमरा या स्टोरेज पर्मिशन मांगता है तो यह इसके मालवेयर होने का शक पैदा करता है। मगर अब यह जानकारी ऐप को इंस्टॉल किए बिना नहीं मिल सकती। पर्मिशन जानने के लिए अब यूजर्स को पहले ऐप को इंस्टॉल करना पड़ेगा।

ऐप पर्मिशन को बिना ऐप इंस्टॉल किए चेक करने के लिए यूजर्स Aurora Store इस्तेमाल कर सकते हैं। यह एक FOSS Google Play क्लाइंट है। इसके अलावा यूजर्स ऐप के मैनफेस्ट में जाकर भी इस जानकारी को देख सकते हैं।

गूगल ने अभी तक इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी है कि इन्होंने किस वजह से Permission सेक्शन को ऐप लिस्टिंग से हटाया है। XDA Developer की रिपोर्ट का मानना है कि गूगल के इस एक्शन की वजह प्ले स्टोर पर ऐप लिस्टिंग को सिम्पल बनाना होगा।

एवरेज यूजर के लिए ऐप लिस्टिंग में यह जानकारी कन्फ्यूजिंग भी हो सकती थी, लेकिन इसे हल करने के दूसरे तरीके भी हो सकते थे। गूगल ऐप पर्मिशन के नीचे ही यह बता सकता था कि इस सेक्शन का क्या काम है।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: July 15, 2022 3:51 PM IST



new arrivals in india