comscore भारत के इलेक्ट्रिक वाहन क्षेत्र में उतरने से पहले नीति में स्पष्टता चाहती है होंडा | BGR India
News

भारत के इलेक्ट्रिक वाहन क्षेत्र में उतरने से पहले नीति में स्पष्टता चाहती है होंडा

इससे कंपनी यह तय कर पाएगी कि भारत में ऐसे वाहनों का विनिर्माण किया जा सकता है।

  • Updated: February 15, 2022 5:00 PM IST
honda-logo


जापान की प्रमुख वाहन कंपनी होंडा ने आज कहा कि वह भारत के इलेक्ट्रिक वाहन :ईवी: बाजार में उतरने से पहले नीति के मोर्चे पर स्पष्टता चाहती है। होंडा कार्स इंडिया :एचसीआईएल: के अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी योइचिरो यूइनो ने यहां आटो एक्सपो में संवाददाताओं से कहा, ‘‘इलेक्ट्रिक वाहन खंड के लिए रणनीति बनाने से पहले हमने चार्जिंग स्टेशनों के बारे में रूपरेखा पेश करने का आग्रह किया है। स्पष्ट नीति के बाद मॉडलों का चयन करना मुश्किल है।’’ Also Read - Top 4 Upcoming SUVs: Maruti, Tata, Hyundai और Honda की SUVs करेंगी भारत में एंट्री, कीमत होगी 10 लाख से कम

Also Read - Honda की नई SUVs भारत में देंगी दस्तक, Hyundai Creta और Maruti Brezza की बढ़ेगी मुश्किल

उन्होंने कहा कि एक बार चीजें साफ होने के बाद ही कंपनी यह तय कर पाएगी कि भारत में ऐसे वाहनों का विनिर्माण किया जा सकता है। यूइनो ने इलेक्ट्रिक वाहन क्षेत्र में चार्जिंग ढांचे की स्थापना को सबसे बड़ी चुनौती बताया। Also Read - पावरफुल इंजन और शानदार डिजाइन के साथ 2023 Honda Rebel 300 बाइक लॉन्च, जानिए कीमत और फीचर्स

उन्होंने कहा कि भारत जैसे बड़े देश में कई तरह के इलेक्ट्रिक वाहनों का समूह फायदेमंद हैं। इनमें फोटो इलेक्ट्रिक और प्लग इन हाइब्रिड वाहन आते हैं। उन्होंने कहा कि कंपनी सरकार से मांग कर रही है कि छोटी और बड़ी कारों के बीच कर के अंतर को समाप्त किया जाए।

उन्होंने कहा कि कर लाभ छोटी कारों के पक्ष में है। हमने सरकार से कर ढांचे को कम करने का आग्रह किया है। उसके बाद हम ग्राहकों की जरूरतों के अनुकूल और मॉडल ला पाएंगे।

  • Published Date: February 8, 2018 8:30 PM IST
  • Updated Date: February 15, 2022 5:00 PM IST

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.