comscore
News

आईआईटी-मद्रास ने एआई प्रशिक्षण के लिए स्टार्टअप शुरू किया

चार महीने के इस पाठ्यक्रम की शुरुआत 1 फरवरी से होगी और इसमें शामिल होने के लिए 24 जनवरी तक पंजीकरण कराया जा सकेगा।

  • Published: January 19, 2019 11:09 AM IST
iit

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मद्रास (आईआईटी-एम) ने शुक्रवार को एक स्टार्टअप लांच किया, जो छात्रों को नाम-मात्र की लागत पर आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआई) का प्रशिक्षण मुहैया कराएगा, ताकि इस क्षेत्र के विकास के लिए कार्यबल को तैयार किया जा सके। स्टार्टअप ‘पढ़ाई’, ‘डीप लर्निग’ में किफायती हैंड्स-ऑन कोर्स प्रदान करेगा, जो एआई का सबसे सफल उप-क्षेत्र है।

यह सभी छात्रों, फैकल्टी और पेशेवरों के लिए खुला है, जिनका बैकग्राउंड गणित और पायथन का हो।

छात्रों और फैकल्टी के लिए फीस 1,000 रुपये है, जबकि पेशेवरों के लिए 5,000 रुपये रखी गई है।

यह स्टार्टअप इसके अलावा छोटे और मध्यम उद्यमों और उद्योग के साथ भागीदारी कर एआई-संचालित एप का भी सृजन करेगा और भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए मूल्य पैदा करेगा।

आईआईटी-मद्रास के असिस्टेंट प्रोफेसर मितेश खापरा ने एक बयान में कहा, “भारतीय आईटी उद्योग प्रौद्योगिकी के विभिन्न उतार-चढ़ाव से गुजरा है और नए कौशल की वजह से ही विस्तार प्राप्त कर रहा है। एआई की वर्तमान लहर बहुत ही अलग है। इसमें गणितीय अंतदृष्टि के साथ ही हैंड्स-ऑन अनुभव की भी जरूरत है।”

उन्होंने कहा, “हमें ऐसे कोर्स की जरूरत है, जिसमें इन दोनों के बीच सही संतुलन हो। तभी भारत एआई युग में प्रकट तौर पर उत्पादों और सेवाओं का उत्पादन कर पाएगा।”

चार महीने के इस पाठ्यक्रम की शुरुआत 1 फरवरी से होगी और इसमें शामिल होने के लिए 24 जनवरी तक पंजीकरण कराया जा सकेगा।

  • Published Date: January 19, 2019 11:09 AM IST