comscore
News

IMC 2018: अब अंडरग्राउंड मेट्रो स्टेशनों पर नहीं ठप होगा आपके मोबाइल का नेटवर्क, ये कंपनी ला रही है सॉल्यूशन

अक्सर दिल्ली मेट्रो के अंडरग्राउंड मेट्रो स्टेशनों पर मोबाइल कनेक्टिविटी ठप हो जाती है और आप किसी से बात नहीं कर पाते।

metro-wifi

अक्सर दिल्ली मेट्रो के अंडरग्राउंड मेट्रो स्टेशनों पर मोबाइल कनेक्टिविटी ठप हो जाती है और आप किसी से बात नहीं कर पाते। लेकिन, अब जल्द ही ऐसा नहीं होगा। अंडरग्राउंड मेट्रो स्टेशनों और सुरंगों में यूजर्स को बेहतर मोबाइल कनेक्टिविटी मिलेगी। दिल्ली में चल रहे इंडिया मोबाइल कांग्रेस 2018 में एक कंपनी ने यह दावा किया है।  इस कंपनी ने इन जगहों पर बेहतर मोबाइल कनेक्टिविटी देने का वादा किया है।

दरअसल, आप जब भी दिल्ली मेट्रो के किसी अंडरग्राउंड स्टेशन से गुजरते हैं तो आपको मोबाइल का सिग्नल गुम हो जाता है। ऐसे में आप अगर कोई वीडियो देख रहे हैं, गाना सुन रहे हैं, या किसी से बात कर रहे हैं तो आपको परेशानी का सामना करना पड़ता है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, Rosenberger नाम की एक कंपनी ने इस बात का दावा किया है। Gadgets Now के मुताबिक, Rosenberger के वाइस प्रेसिडेंट शैलेश पाई का कहना है कि उनकी कंपनी ‘passive dust’ और ‘active dust’  सॉल्यूशन के जरिए टन के नीचे वायर्ड ‘leaky’ कैबल बिछाकर इस समस्या का समाधान करेगी।

इस फर्म ने चेन्नई के 23 मेट्रो स्टेशनों पर इस तरह की व्यवस्था की है। अब जल्द ही यह प्रोसेस दिल्ली मेट्रो स्टेशनों पर भी किया जाएगा। कंपनी का कहना है कि दिल्ली मेट्रों के अंडरग्राउंड मेट्रो स्टेशनों पर यहब काम नवंबर के मध्य से जारी होगा। सबसे पहले बॉटेनिकल गार्डन के मेजेंटा लाइन से यह काम शुरू होगा। इसके बाद सभी अंडरग्राउंड मेट्रो स्टेशनों पर काम शुरू किया जाएगा। कंपनी का कहना है कि एक्टिव डस्ट के सहारे कंपनी 5 जी नेटवर्क को भी सपोर्ट कर सकती है।

  • Published Date: October 26, 2018 10:29 AM IST
  • Updated Date: October 26, 2018 10:30 AM IST