comscore
News

भारत का अपना खुद का GPS ट्रैकिंग सिस्टम 'Utraq' हुआ लॉन्च, जानें कैसे करेगा काम

Utraq पुराने समय से चलते आ रहे ट्रैकिंग सिस्टम के काम करने के तरीके को बदल देगा।

  • Published: September 22, 2018 8:12 PM IST
utraq-gps-launch-event-delhi-india

भारत में बेस्ड सेमीकंडक्टर डिस्ट्रीब्यशन कंपनी ने देश का पहला देशी GPS मॉड्यूल लॉन्च कर दिया है। कल यानी 22 सितंबर को राजधानी नई दिल्ली में हुए एक इवेंट में रामाक्रिश्ना इलेक्ट्रो कंपोनेंट प्राइवेट लिमिटेड ने एक नई तरह का व्हाइकल ट्रैकिंग सिस्टम पेश किया है जो US की नहीं बल्कि भारतीय सेटेलाइट से जुड़ कर काम करेगा।

कंपनी ने इस व्हाइकल ट्रैकिंग सिस्टम को “Utraq” नाम से लॉन्च किया है। यह सिस्टम फिलहाल US(यूनाइटेड स्टेट्स) की सेटेलाइट पर चल रहें GPS एप्लिकेशन को रिप्लेस कर देगा।

लॉन्च के दौरान REC के मेनेजिंग डॉयरेक्टर Shivang Luthra ने कहा कि Utraq पूराने समय से चलते आ रहे ट्रैकिंग सिस्टम के काम करने के तरीके को बदल देगा। Utraq के दो मॉडल्स लॉन्च किए गए हैं, जिसमें एक L100 और दूसरा L110 के नाम से पेश किए गए हैं। ये GAGAN/NaviC सिग्ननल (L5 और S बैंड के द्वारा डिजाइन किया गया) के द्वारा सपोर्ट किए गए IRNSS पर बेस्ड GPS रिसीवर्स हैं। ये रिसीवर्स पर Ramakrishna Electro Components का स्वामित्व है और इनको Shanghai Mobiletek के द्वारा बनाया गया है।

IRNSS , ISRO के अंदर आने वाली भारत सरकार की पहल है। IRNSS यूजर रिसीवर मॉड्यूल फ्रंट-एंड चिपसेट के साथ इंटिग्रेट होता है और हाई परफॉरर्मेंस ARM9 प्रोसेसर के साथ एम्बेड(जोड़ा) किया जाता है। इसमें इंटरनल S रैम, UART, CAN और 10-बिट ADCs होती है।

एक बार भारत में पूरी तरह से मेक-इन इंडिया के अंदर आने के बाद कंपनी इसका प्रोडक्शन बड़े पैमाने पर शुरू कर देगी। कल हुए इवेंट में ISRO के कमर्शियल arm Antrix के एग्जिक्यूटिव डॉयरेक्टर Suma DR, Shanghai Mobiletek के मेनेजिंग डॉयरेक्टर Sherry Xu और Ramakrishna Group के चेयरमैन Satish Luthra शामिल हुए थे।

  • Published Date: September 22, 2018 8:12 PM IST